Top

पिठानी को नहीं था सुशांत की मौत का गम, भाई ने किया बड़ा खुलासा

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का केस सीबीआई को सौंपे जाने के बाद जांच के काम में काफी तेजी आ गई है।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 23 Aug 2020 4:32 AM GMT

पिठानी को नहीं था सुशांत की मौत का गम, भाई ने किया बड़ा खुलासा
X
पिठानी को नहीं था सुशांत की मौत का गम, भाई ने किया बड़ा खुलासा
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अंशुमान तिवारी

मुंबई। बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत का केस सीबीआई को सौंपे जाने के बाद जांच के काम में काफी तेजी आ गई है। सीबीआई की टीम ने शनिवार को सुशांत के फ्लैट पर जाकर 6 घंटे तक गहराई से पड़ताल की और सीन रीक्रिएट कर सुशांत की मौत का सच जानने की कोशिश की। सुशांत का केस सीबीआई के हाथ में जाने के बाद उनके परिजनों को भी भरोसा है कि अब इस मामले की सच्चाई सामने जरूर आएगी। इस बीच सुशांत के चचेरे भाई और भाजपा विधायक नीरज सिंह बबलू ने कहा कि सुशांत की मौत के मामले में सिद्धार्थ पिठानी और संदीप सिंह की गिरफ्तारी की जानी चाहिए।

ये भी पढ़ें: डॉन की वापसी! पाकिस्तान भारत को सौपेंगा दाऊद, मोदी सरकार का वादा होगा पूरा

सीबीआई जांच से जगी उम्मीद

सुशांत के भाई ने कहा कि सीबीआई ने सही दिशा में सुशांत मामले की जांच शुरू की है और इसे देखकर हम लोगों के मन में इस मामले की सच्चाई बाहर आने की उम्मीद जगी है। हम सभी को उम्मीद है कि इस मामले में असली गुनहगार अब जरूर पकड़े जाएंगे।

पिठानी के चेहरे पर नहीं झलका दुख

उन्होंने बड़ा खुलासा करते हुए कहा कि सुशांत के अंतिम संस्कार के समय हमने एक विशेष बात यह देखी कि पिठानी के चेहरे पर सुशांत की मौत का तनिक भी गम या दुख नहीं झलक रहा था। उसकी गतिविधियां शुरू से ही संदिग्ध हैं। उन्होंने कहा कि सुशांत की मौत के मामले सिद्धार्थ पिठानी को निश्चित रूप से गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

संदीप सिंह की भूमिका भी संदिग्ध

सुशांत के भाई ने संदीप सिंह की भूमिका पर भी सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि सुशांत की मौत के कुछ दिनों बाद ही संदीप ने मीडिया से बातचीत में कई लोगों को क्लीन चिट देना शुरू कर दिया। सही बात तो यह है कि वह एक गैंगस्टर की तरह काम कर रहा था। सुशांत केस में संदीप सिंह की भूमिका भी पूरी तरह संदिग्ध है और उसे भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

ये भी पढ़ें: कांग्रेस नेता का बड़ा दावा: इस राज्य में BJP के CM उम्मीदवार होंगे रंजन गोगोई

उन्होंने भरोसा जताया कि सीबीआई के जांच से इस मामले की सच्चाई सामने आएगी। इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मुझे लगता है कि थर्ड डिग्री का इस्तेमाल किए बिना इस मामले का असली सच सामने नहीं आ पाएगा।

सीबीआई टीम ने की छह घंटे पड़ताल

इस बीच सीबीआई ने सुशांत देश की काफी तेजी से जांच शुरू कर दी है। शनिवार को सीबीआई की टीम ने सुशांत के फ्लैट पर 6 घंटे तक गहराई से पड़ताल की। सीबीआई टीम के साथ फॉरेंसिक विशेषज्ञ भी थे।

सीबीआई की टीम सुशांत के रसोइया नीरज और दोस्त सिद्धार्थ पिठानी को लेकर सुशांत के फ्लैट पर पहुंची थी। सीबीआई की टीम ने सुशांत की डेथ का सीन रीक्रिएट करके मामले की गहराई में जाने की कोशिश की।

पिठानी और रसोइया से पूछे सवाल

सीबीआई की टीम ने सुशांत के फ्लैट की इमारत की छत पर जाकर भी पड़ताल की। सुशांत के बेडरूम की तस्वीरें खींचने के साथ ही वीडियो भी बनाया गया। सुशांत के रसोइया नीरज और पिठानी से 13 जून की रात से 14 जून की सुबह तक की घटनाओं की जानकारी ली गई और दोनों के बयान दर्ज किए गए।

ये भी पढ़ें: भारत के लिए खुशखबरी: इतने दिनों में आ जाएगी कोरोना वैक्सीन, मुफ्त में लगेगा टीका

सीबीआई की टीम ने यह जानने की कोशिश भी कि आखिर सुशांत ने बेडरूम में किस तरह आत्महत्या की। टीम ने इस दौरान रसोइया और पिठानी से कई सवालों के जवाब भी मांगे।

पोस्टमार्टम में जल्दबाजी का कारण पूछा

शनिवार को सीबीआई की दूसरी टीम ने कूपर अस्पताल मैं सुशांत के शव का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से भी लंबी पूछताछ की। सीबीआई की टीम ने डॉक्टरों से सुशांत के पोस्टमार्टम में की गई जल्दबाजी का कारण पूछा। इस पर एक डॉक्टर ने सीबीआई की टीम को बताया कि मुंबई पुलिस के कहने पर ही सुशांत के शव के पोस्टमार्टम में जल्दबाजी की गई। सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट की पड़ताल के लिए अब सीबीआई ने एम्स से मदद मांगी है और एम्स की ओर से इसके लिए डाक्टरों का पैनल बनाया गया है।

ये भी पढ़ें: भारत को एलएसी में कोई बदलाव मंजूर नहीं, चीन को मुंहतोड़ जवाब देगी सेना

Newstrack

Newstrack

Next Story