×

UP वालों के लिए खुशखबरी, प्रदेश में जल्द बनकर तैयार होंगे 12 नए एयरपोर्ट

प्रदेश सरकार ने एयर कनेक्टिविटी में जितना कार्य किया है, उतना पहले प्रदेश में कभी नहीं हुआ। प्रदेश के सभी क्षेत्रो को एयर कनेक्टिविटी से जोड़ा जा रहा है। प्रदेश में बन रहे 12 नये एयरपोर्ट शीघ्र बनकर तैयार होंगे। इनमे से 8 एयरपोर्ट पर आवश्यक कार्यों, सुधार आदि के लिए  धनराशि दी जा चुकी है।

Monika

MonikaBy Monika

Published on 8 Jan 2021 3:18 PM GMT

UP वालों के लिए खुशखबरी, प्रदेश में जल्द बनकर तैयार होंगे 12 नए एयरपोर्ट
X
प्रदेश में 12 नये एयरपोर्ट शीघ्र बनकर तैयार होंगे
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ: प्रदेश सरकार ने एयर कनेक्टिविटी में जितना कार्य किया है, उतना पहले प्रदेश में कभी नहीं हुआ। प्रदेश के सभी क्षेत्रो को एयर कनेक्टिविटी से जोड़ा जा रहा है। प्रदेश में बन रहे 12 नये एयरपोर्ट शीघ्र बनकर तैयार होंगे। इनमे से 8 एयरपोर्ट पर आवश्यक कार्यों, सुधार आदि के लिए धनराशि दी जा चुकी है। गोरखपुर एयरपोर्ट जहां से 6 स्थलों के लिए उड़ानें संचालित होती हैं, वहां एक नए सिविल इंक्लेव बनाए जाने के लिए काम चल रहा है।

कुशीनगर एयरपोर्ट अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट घोषित

उत्तर प्रदेश के नागरिक उड्डयन नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने बताया कि कुशीनगर एयरपोर्ट को केंद्र सरकार द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट घोषित किया गया है। यह एयरपोर्ट अन्तर्राष्ट्रीय उड़ानों के लिए लगभग तैयार हो गया है। इसके विभिन्न कार्यों के लिए राज्य सरकार द्वारा 189 करोड़ की वित्तीय स्वीकृति जारी की जा चुकी है। सहारनपुर एयरपोर्ट के लिए भी 43 करोड़ की लागत से 64 एकड़ भूमि का खरीद करके एएआई को उपलब्ध कराई जा चुकी है।

ये भी पढ़ें: अब लखनऊ में लगेगा बॉलीवुड सितारों का मेला, होगी इन फिल्मों की शूटिंग

लखनऊ एयरपोर्ट के बारे में ली जानकारी

उन्होंने आज सबसे पहले लखनऊ एयरपोर्ट के बारे में जानकारी ली और विभिन्न विषयों पर चर्चा की। वाराणसी एयरपोर्ट, गोरखपुर एयरपोर्ट तथा कानपुर एयरपोर्ट के बारे में भी विस्तृत जानकारी लेते हुए एयरपोर्ट की भूमि क्रय एवं अन्य विविध निर्माण कार्यों के बारे में आवश्यक निर्देश दिये।

नंद गोपाल गुप्ता नंदी ने कहा कि कानपुर एयरपोर्ट में नए सिविल इंक्लेव बनाये जाने के लिए राज्य सरकार द्वारा लगभग 50 एकड़ भूमि क्रय करके निशुल्क रूप में एयरपोर्ट अथारिटी आफ इडिया को उपलब्ध कराई जा चुकी है ।

ये भी पढ़ें: फिरोजाबाद में लव जिहाद का मामला, लड़की बरामद, आरोपी की तलाश में पुलिस

85-90 प्रतिशत कार्य पूरा

‘नंदी ने कहा कि अलीगढ़, आजमगढ़, श्रावस्ती तथा मुरादाबाद एयरपोर्ट्स का नो-फ्रिल्स एयरपोर्ट के रूप में विकास कार्य राज्य सरकार द्वारा उप्र राजकीय निर्माण निगम लि के माध्यम से कराया जा रहा है। इस समय 85-90 प्रतिशत कार्य पूरा हो गया हैं।

राज्य सरकार द्वारा चित्रकूट एवं सोनभद्र एयरपोर्ट्स के लिए जलापूर्ति वं मार्ग प्रकाश के लिए धनराशि अवमुक्त की जा चुकी है। नागरिक उड्डयन मंत्री ने बताया कि झांसी एयरपोर्ट का विकास बिड के अनुसार 19 सीटर वायुयानों के संचालन कराये जाने के लिए एएआई द्वारा प्री-फिजिबिलिटी स्टडी कराई गई है। ललितपुर एयरपोर्ट के लिए सर्वे का कार्य हो चुका है। अयोध्या एयरपोर्ट के लिए अब तक 145 एकड़ भूमि क्रय की जा चुकी है।

श्रीधर अग्निहोत्री

Monika

Monika

Next Story