72 साल के कोरोना पीडि़त ने दम तोड़ा़, एक अन्‍य की हालत गंभीर

उत्तर प्रदेश के मेरठ मेडिकल कालेज में भर्ती 72 वर्षीय कोरोना पीडि़त की आज मौत हो गई। जिस संक्रमित की मौत हुई है वह महाराष्‍ट्र के अमरावती से आए कोरोना संक्रमित युवक का ससुर था।

72 साल के कोरोना पीडि़त ने दम तोड़ा़, एक अन्‍य की हालत गंभीर

सुशील कुमार

मेरठ, 1 अप्रैल। उत्तर प्रदेश के मेरठ मेडिकल कालेज में भर्ती 72 वर्षीय कोरोना पीडि़त की आज मौत हो गई। जिस संक्रमित की मौत हुई है वह महाराष्‍ट्र के अमरावती से आए कोरोना संक्रमित युवक का ससुर था। वहीं महाराष्‍ट्र से अमरावती आए युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। मेरठ में कोरोना से मौत का यह पहला मामला है। मेरठ को हाईअलर्ट पर रखा गया है।

ये भी पढ़ें…बचा लो मोदी सरकार: यहां भारतीय छात्रों ने लगाई गुहार, जाने पूरा मामला

8 रिश्तेदार कोरोना वायरस संक्रमित

सीएमओ राजकुमार ने मौत की पुष्टि करते हुए बताया है कि बुज़ुर्ग मेडिकल के कोरोना वार्ड में भर्ती थे। 29 मार्च को उन्हें कोरोना की पुष्टि हुई थी। मृतक कोरोना फैलाने वाले अमरावती के क्रॉकरी कारोबारी के ससुर थे। इनकी सेफ अलमारी की दुकान है। ससुराल आए इस युवक की 27 मार्च को रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी।

इसके अगले दिन पत्‍नी, तीन सालों व ससुर की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी। सभी मेडिकल कालेज के कोरोना वार्ड में भर्ती है। आज ससुर की मौत हो गई। इसकी सूचना सुभारती के क्वारन्टीन वार्ड में भर्ती इनकी बेटी को दी गई।

मृतक के परिवार के बाकी सदस्य मेडिकल कॉलेज में ही कोरोना वार्ड में भर्ती हैं, जिसमें मृतक के चार बेटे, चार पुत्र वधू और पत्नी शामिल हैं। जबकि इनके पोते पोती सुभारती के क्वारन्टीन वार्ड में हैं, वह कोरोना नेगेटिव हैं।

बता दे कि 29 मार्च को क्रॉकरी कारोबारी के 8 रिश्तेदार कोरोना वायरस संक्रमित मिले थे, जिनमें ये बुज़ुर्ग भी थे। क्रॉकरी कारोबारी महाराष्ट्र के अमरावती से 19 मार्च की रात आया, 20 तारीख को शादी समारोह में शामिल हुआ। 21 मार्च को हुमायूंनगर रिश्तेदार के घर गया।

27 मार्च को कोरोना पॉजिटिव

22 और 23 मार्च को सराय बहलीन रिशेतदार के रहा। 24 और 25 तारीख को फिर शास्त्रीनगर और 26 को मेडिकल में भर्ती हुआ था। उसे 27 मार्च को कोरोना पॉजिटिव आया था। 28 तारीख को उसकी पत्नी और 3 साले पॉजिटिव आए थे। यह सभी पॉजिटव मरीज़ मेडिकल के कोरोना वार्ड (कोविड 19 हॉस्पिटल) में भर्ती हैं।

इस तरह मेरठ में कोरोना के जो 19 मामले पाए गए हैं, उनमें 17 एक ही खानदान से संबंधित है। कोरोना से मेरठ में यह पहली और प्रदेश में दूसरी मौत है। इससे पहले एक मौत गोरखपुर में हो चुकी है।

मेरठ में कोरोना पीड़ित की मौत होने के बाद से स्वास्थ्य विभाग में मेरठ से लेकर लखनऊ तक हड़कंप मचा है। वहीं गंभीर युवक को बचाने में स्‍वास्‍थ्‍य विभाग जुटा हुआ है।

ये भी पढ़ें…कोरोना से जंग: अजीम प्रेमजी का विप्रो ग्रुप खुद ऐसे खर्च करेगा 1125 करोड़

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App