प्रयागराज मेला प्राधिकरणः बोर्ड की बैठक में तय हुई रणनीति, होंगे ये काम

मंडलायुक्त आर रमेश कुमार की अध्यक्षता में प्रयागराज मेला प्राधिकरण की नौवीं बोर्ड बैठक संपन्न हुई, जिसमें प्राधिकरण से जुड़े कुछ आवश्यक प्रस्ताव रखे गए।

prayagraj mela Authority

प्रयागराज मेला प्राधिकरणः बोर्ड की बैठक में तय हुई रणनीति, होंगे ये काम

प्रयागराज: मंडलायुक्त आर रमेश कुमार की अध्यक्षता में प्रयागराज मेला प्राधिकरण की नौवीं बोर्ड बैठक संपन्न हुई, जिसमें प्राधिकरण से जुड़े कुछ आवश्यक प्रस्ताव रखे गए। सर्वप्रथम वर्ष पर्यंत होने वाले कुछ प्रमुख पर्वों को चिन्हित कर उनके आयोजन की जिम्मेदारी मेला प्राधिकरण को देने का प्रस्ताव रखा गया। इसके दृष्टिगत प्राधिकरण एक वार्षिक कैलेंडर भी तैयार करेगा जिसमें इन पर्वों की विस्तृत जानकारी भी होगी।

मेला प्राधिकरण की वेबसाइट बनाने का काम शीघ्र होगा शुरू

मेला प्राधिकरण को हर वर्ष ई-पंचांग निकालने की भी जिम्मेदारी देने की बात रखी गई है, जिसका वितरण ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को किया जाएगा। वर्ष 2021 के ई-पंचांग हेतु कार्य शुरू करने के निर्देश भी दे दिए गए हैं। इसके अतिरिक्त मेला प्राधिकरण की वेबसाइट अथवा ऐप बनाने का भी काम शीघ्र शुरू होगा।

ये भी पढ़ें: कांप जाएंगे ये देखः फावड़े के वार से सिर धड़ से हो गया था अलग

इन बिंदुओं पर हुई चर्चा

कोविड-19 के दृष्टिगत आगामी माघ मेले 2020-21 की कार्ययोजना के संबंध में भी चर्चा हुई। मेला क्षेत्र में आने वाले कल्पवासियों से अनिवार्य रूप से कोविड-19 नेगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट लेना, आने वाली संस्थाओं के शिविरों में व्यापक सर्वे कर कोमोरबिड रोगियों का डेटाबेस तैयार करना जो डिजिटल फॉर्म में भी उपलब्ध होगा, कल्पवासियों का हर 15 दिन में एंटीजन टेस्ट (अर्थात कल्पवास अवधि में दो बार), संदिग्ध कोविड-19 संक्रमितों की पहचान हेतु संस्थाओं के शिविरों का साप्ताहिक सर्वे, हर संस्था से वहां रहने वाले कल्पवासियों की लिखित जानकारी तथा कोविड-19 प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित कराने की जिम्मेवारी देने जैसे आवश्यक बिंदुओं पर भी चर्चा हुई।

मंडलायुक्त आर रमेश कुमार ने शासन की मंशा के अनुरूप माघ मेले से जुड़े सभी आयोजनों को कोविड-19 प्रोटोकॉल्स का शत-प्रतिशत अनुपालन तथा सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए करने के निर्देश दिए। वहीं पुलिस महानरीक्षक के पी सिंह ने मेला क्षेत्र में किसी भी अवैध दुकान/निर्माण को होने से रोकने तथा सुरक्षा दृष्टि से पुलिस एवं प्रशासन को कड़ी निगरानी रखने के निर्देश दिए।

पर्यटन को बढ़ाने के दृष्टिगत विभिन्न घाटों से प्रशासनिक बोट्स भी चलाने का प्रस्ताव रखा गया। जिलाधिकारी भानु चंद्र गोस्वामी ने बोट क्लब, आर्मी एवं मेला प्राधिकरण को संयुक्त रुप से इस पर कार्य करने का सुझाव दिया।

ये भी पढ़ें: ससुर की गंदी बात न मानने का अंजामः वीडियो वायरल, हरकत में पुलिस

बैठक की शुरुआत आठवीं बोर्ड बैठक में लिए गए निर्णयों की अनुपालन आख्या प्रभारी अधिकारी, माघ मेला, विवेक चतुर्वेदी, द्वारा बोर्ड के सम्मुख प्रस्तुत की गई जिसके उपरांत प्राधिकरण के अंतर्गत आने वाले वित्तीय, प्रशासनिक तथा स्वच्छता से जुड़े विभिन्न एजेंडों पर बिंदुवार चर्चा हुई।

ये दिग्गज रहे उपस्थित

बोर्ड बैठक में एस.ओ (एल),ब्रिगेडियर एस भार्गव, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, सर्वश्रेष्ठ त्रिपाठी, उपाध्यक्ष प्रयागराज विकास प्राधिकरण, अंकित अग्रवाल, नगर आयुक्त, रवि रंजन, कमांडेंट ओडी फोर्ट, कर्नल विवेक दबास, कर्नल जीएस, कर्नल मनीष कुमार, कर्नल क्यू, कर्नल सचिन गहलावत, सचिव प्रयागराज विकास प्राधिकरण, दयानंद प्रसाद, एडीएम सिटी, अशोक कनौजिया, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, डॉक्टर प्रभाकर राय तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे।

रिपोर्ट: विनीत ओझा

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App