यहां एक्सपायरी इंजेक्शन ने ले ली युवक की जान, एक गिरफ्तार

सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक व्यक्ति के परिवार की तहरीर पर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पूरे मामले की जांच शुरू कर दी।

मुजफ्फरनगर:  मुजफ्फरनगर के कसेरवा गांव में 45 वर्षीय व्यक्ति की एक्सपायरी डेट इंजेक्शन लगने से उपचार के दौरान मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने जहाँ शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है, तो वही पुलिस ने मेडिकल स्टोर से एक्सपायर डेट के इंजेक्शन बेचने के आरोप में एक युवक को हिरासत में भी लिया है। पुलिस ने परिवार की तहरीर के आधार पर मामले की जांच शुरू कर दी।

एक्सपायरी इंजेक्शन से गई जान

दरअसल मामला शाहपुर थाना क्षेत्र के कसेरवा गांव का है। जहाँ मृतक के परिजनों का आरोप है कि 13 जून को गांव के ही एक चौधरी मेडिकल स्टोर से मृतक इरशाद पुत्र इलियास ने पेट में दर्द होने के चलते डॉक्टर द्वारा लिखा गया इंजेक्शन लिया था। लेकिन मेडिकल की लापरवाही के चलते पीड़ित युवक को एक्सपायरी डेट इंजेक्शन दे दिया गया।

ये भी पढ़ें-    सुशांत का हुआ मर्डर: कंगना ने बताई ये बात, हर कोई रह गया है दंग

जिसके बाद इंजेक्शन लगने पर पीड़ित की हालत बिगड़ गई। जिसपर मृतक के परिजनों द्वारा उसे उपचार के लिए मेरठ हॉस्पिटल में भर्ती कराया। लेकीन रविवार देर रात उपचार के दौरान युवक की मौत हो गई। मेडिकल स्टोर की लापरवाही के चलते हुई इरशाद की मौत पर परिजनों और ग्रामीणों का गुस्सा फूट उठा गया।

परिजनों ने शव रख कर की कार्रवाई की मांग

ये भी पढ़ें-    महिलाओं को गन्ना कैसे देगा आत्मनिर्भरता की मुस्कान, जानें यहां

जिसके बाद परिजनों और ग्रामीणों ने हंगामा करते हुए शव को गांव में ही रखकर मेडिकल स्टोर के खिलाफ कार्रवाई की मांग करने लगे। सूचना पर पहुंची पुलिस ने मृतक व्यक्ति के परिवार की तहरीर पर शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और पूरे मामले की जांच शुरू कर दी। हालांकि परिवार वालों ने चौधरी मेडिकल स्टोर पर पूर्व में भी एक्सपायर डेट की दवाई देकर ऐसे मामले होने का आरोप भी लगाया है। पुलिस ने मेडिकल स्टोर से एक युवक को हिरासत में लेकर मेडिकल स्टोर को बंद करा दिया।

रिपोर्ट- अमित कुमार