×

आप के पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री ने केजरीवाल पर लगाया बड़ा आरोप

आम आदमी पार्टी (AAP) के पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री ने कांग्रेस का दामन थामने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। आम...

Deepak Raj

Deepak RajBy Deepak Raj

Published on 18 Jan 2020 4:39 PM GMT

आप के पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री ने केजरीवाल पर लगाया बड़ा आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

नई दिल्ली। आम आदमी पार्टी (AAP) के पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री ने कांग्रेस का दामन थामने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर सनसनीखेज आरोप लगाया है। आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल पर टिकट बेचने का आरोप लगाते हुए आदर्श शास्त्री ने कहा कि सीएम केजरीवाल ने विधानसभा चुनाव का टिकट 10 करोड़ रुपये में बेचा।

बेचे गए टिकट

गौरतलब है कि हाल ही में विनय मिश्रा को आम आदमी पार्टी में शामिल किया गया था और आदर्श शास्त्री की जगह विनय मिश्रा को टिकट दिया था। विनय मिश्रा कांग्रेस नेता महाबल मिश्रा के बेटे हैं। पूर्व विधायक आदर्श शास्त्री ने यह भी आरोप लगाया कि इस बार दिल्ली विधानसभा चुनाव के टिकट 10 से 20 करोड़ रुपये में बेचे गए हैं।

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों के बीच चल रहे उठापठक में शनिवार को एक दिलचस्प चीज देखने को मिली। एक ही दिन में एक शास्त्री ने कांग्रेस का साथ छोड़ा तो दूसरे शास्त्री पार्टी में शामिल हो गए।

ये भी पढ़ें-कभी नहीं सोती मुंबई! सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब 24 घंटे होगा ये काम

आदर्श शास्त्री ने ज्वाइन किया कांग्रेस

दरअसल, शनिवार को पहले पूर्व विधानसभा अध्यक्ष योगानंद शास्त्री ने कांग्रेस से त्यागपत्र दिया तो कुछ ही देर बाद आदर्श शास्त्री ने कांग्रेस ज्वाइन कर लिया। पूर्व प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री के पोते और दिल्ली विधानसभा की द्वारका सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक, आदर्श शास्त्री ने अरविंद केजरीवाल को झटका देते हुए चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस का दामन थाम लिया।

ये भी पढ़ें- विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने जारी की कैंडिडेट्स की लिस्ट, जानिए कौन कहां से लड़ेगा

दिल्ली में सत्तारूढ़ आप द्वारा विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं दिये जाने से नाराज शास्त्री ने आप से नाता तोड़ कर कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली। उन्होंने दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा और प्रदेश कांग्रेस के प्रभारी पी सी चाको की मौजूदगी में कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।

योगानंद शास्त्री ने दिया था कांग्रेस से इस्तीफा

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष योगानंद शास्त्री ने प्रदेश अध्यक्ष सुभाष चोपड़ा के साथ वैचारिक मतभेदों के कारण पार्टी से इस्तीफा दे दिया। न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक शास्त्री ने शनिवार को बताया कि उन्होंने कांग्रेस के समर्पित कार्यकर्ताओं की पार्टी में उपेक्षा से व्यथित होकर कांग्रेस के प्रभारी पीसी चाको को अपना इस्तीफा भेज दिया है।

Deepak Raj

Deepak Raj

Next Story