वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद सीएम योगी ने कहा- कोरोना फण्ड की होगी स्थापना

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विदेशों में फंसे भारतीयों की मदद के लिए भारतीय दूतावासों के माध्यम से विभिन्न देशों के दूतावासों को सम्पर्क किया गया है। केन्द्र सरकार वेंटिलेटर्स, एन-95 मास्क प्राप्त करने के लिए सभी प्रयास कर रही है।

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विदेशों में फंसे भारतीयों की मदद के लिए भारतीय दूतावासों के माध्यम से विभिन्न देशों के दूतावासों को सम्पर्क किया गया है। केन्द्र सरकार वेंटिलेटर्स, एन-95 मास्क प्राप्त करने के लिए सभी प्रयास कर रही है। जैसे ही ये उपलब्ध होंगे इन्हें राज्यों तक पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा कि 51 प्राइवेट लैब्स को भी कोरोना टेस्टिंग की अनुमति दी गयी है।

कोरोना से निपटने के लिए होगी कोष की स्थापना

वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग ख़त्म होने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोरोना से निपटने के लिए एक कोष की स्थापना करने को कहा, उन्होंने कहा कि इस कोष का उपयोग कोरोना से जंग के मद्देनजर मेडिकल काॅलेजों की क्षमता विस्तार, टेस्टिंग लैब्स की स्थापना, पीपीई किट्स का उत्पादन, वेंटिलेटर्स, ट्रिपल लेयर मास्क, आइसोलेशन तथा क्वाॅरन्टीन वाॅर्डाें की स्थापना के साथ-साथ टेलिमेडिसिन सुविधा के लिए किया जाए।
मुख्यमंत्री ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के दौरान उपस्थित अधिकारियों को प्रदेश में वृद्धाश्रम तथा अन्य आश्रय स्थलों का विवरण संकलित करने के निर्देश दिये।

उन्होंने प्रदेश में उपलब्ध वेंटीलेटर्स, पी0पी0ई0, ट्रिपल मास्क की व्यवस्था को भी सुदृढ़ करने के निर्देश देते हुए कहा कि प्रदेश में ही मास्क एवं सैनेटाइज़र निर्माण को बढ़ावा दिया जाए। इसके साथ ही, एसजीपीजीआई के माध्यम से आयुष डाॅक्टरों, आंगनबाड़ी कार्यकत्र्रियों, आशा बहुओं, अवकाश प्राप्त स्वास्थ्यकमिर्याें के प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाए।

कोविड-19 टेस्टिंग लैब्स की स्थापना के भी निर्देश

ये भी देखें: यहां पूरे जिला कारागार को किया गया सेनेटाइज

उन्होंने पुलिस कर्मियों के लिए आवश्यक पीपीई की भी व्यवस्था करने और आयुष डाॅक्टरों की एक बैठक बुलाने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि मास्टर टेªनर्स को भलीभांति प्रशिक्षण दिया जाए, ताकि यह लोग अपने-अपने जनपदों में सम्बन्धित स्टाफ को भी प्रशिक्षण दे सकें। उन्होंने आर्मी मेडिकल कोर के लोगों को जोड़ने के साथ-साथ कोविड-19 टेस्टिंग लैब्स की स्थापना के भी निर्देश दिये।

मुख्यमंत्री जी ने प्रत्येक जनपद में संभ्रान्त व्यक्तियों, धर्माचार्याें, धर्म गुरुओं के साथ ब्लाॅक, थाना, तहसील, जनपद स्तर पर मीटिंग कर सभी समुदायों तक कोरोना से निपटने के लिए उठाये जा रहे कदमों जैसे लाॅक डाउन को प्रभावी ढंग से सुनिश्चित करने को कहा है।

ये भी देखें: राम-भक्त हुई मुस्लिम महिलाएं: तबलीगी जमात के लिए मांगी सद्बुद्धि, उतारी आरती