Top

अजय कुमार लल्लू पहुंचे बलिया, ग्राम पंचायत स्तर पर कमेटी के गठन पर कही ये बात

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने आज जिले के रसड़ा क्षेत्र के न्याय पंचायत अठिला के चंद्रवार चट्टी व नरही बाजार स्थित गांधी चबूतरे पर संगठन सृजन अभियान के तहत आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए जानकारी दी

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 15 Dec 2020 12:47 PM GMT

अजय कुमार लल्लू पहुंचे बलिया, ग्राम पंचायत स्तर पर कमेटी के गठन पर कही ये बात
X
अजय कुमार लल्लू पहुंचे बलिया, ग्राम पंचायत स्तर पर कमेटी के गठन पर कही ये बात (PC: Social Media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बलिया: कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने आज कहा है कि उत्तर प्रदेश में अगले साल जनवरी माह के अंत तक सभी न्याय पंचायत व ग्राम पंचायत स्तर पर कांग्रेस की कमेटी गठित कर दी जायेगी।

ये भी पढ़ें:मुंबईवासियों को नए साल से मिलेगा शानदार तोहफा, लोकल ट्रेन पर सरकार का ऐलान

प्रदेश में आठ हजार न्याय पंचायत व सात हजार ग्राम पंचायत है

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष लल्लू ने आज जिले के रसड़ा क्षेत्र के न्याय पंचायत अठिला के चंद्रवार चट्टी व नरही बाजार स्थित गांधी चबूतरे पर संगठन सृजन अभियान के तहत आयोजित जनसभा को सम्बोधित करते हुए जानकारी दी कि प्रदेश में आठ हजार न्याय पंचायत व सात हजार ग्राम पंचायत है । सभी न्याय पंचायत व ग्राम पंचायत स्तर पर अगले साल जनवरी माह के अंत तक कांग्रेस की कमेटी गठित कर दी जायेगी ।

उन्होंने भाजपा सरकार पर तीखे हमले करते हुए आरोप लगाया कि भाजपा सरकार मुखालफत करने वालों पर ज्यादती की इंतिहा कर रही है तथा विरोध करने वालों पर फर्जी मुकदमे कर उन्हें जेल भेजा जा रहा है । उन्होंने केंद्र व प्रदेश सरकार को किसान विरोधी और पूंजीपतियों का हितैषी करार देते हुए कहा कि सरकार एक एक कर आम लोगों से सारे अधिकार छीन रही है । नये कृषि कानून के जरिये भाजपा सरकार पूंजीवाद को बढ़ावा देकर गांव व गरीब की सम्पदा को छीनने का कार्य कर रही है ।

ajay-kumar-lallu ajay-kumar-lallu (PC: Social Media)

कृषि बिल पूजीपतियों को खेत व जमीन पर कब्जा कराने के लिए बनाया गया है

कृषि बिल पूजीपतियों को खेत व जमीन पर कब्जा कराने के लिए बनाया गया है। इस नये कानून के जरिये जो जितना चाहे उतना वह भंडारण कर सकता है , यह जमाखोरी का लाइसेंस है। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में एक पूंजीपति की कमाई एक लाख 70 हजार करोड़ कैसे बढ़ गई। उन्होंने योगी सरकार में किसानों की दुर्दशा का उल्लेख करते हुए कहा कि उत्तर प्रदेश में किसानों के धान की खरीदारी नहीं हो रही है । किसान 1868 रुपये के बजाय एक हजार रुपये से लेकर बारह सौ रुपये में धान बेचने को मजबूर है ।

ये भी पढ़ें:इस बड़े बैंक की कुछ सेवाएं 2 दिन तक रहेंगी बंद, यहां जानिए पूरी बात

उन्होंने दावा किया है कि प्रदेश में गुंडा व जंगल राज कायम हो गया है। यहां की बहन-बेटी सुरक्षित नहीं है। अपराध काफी बढ़ गया है। लोग भय के साये में जी रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सूबे में महिलाओं पर अत्याचार की घटनाओं में बढोत्तरी हुई है तथा 26प्रतिशत अत्याचार महिलाओं पर बढ़े हैं। सूबे में कानून व्यवस्था पूरी तरह फेल हो चुका है। उन्होंने आरोप लगाया है कि भाजपा सरकार गांव, गरीब, नौजवान और किसानों को बर्बाद करना चाहती है। उन्होंने कहा कि देश को संवारने का झूठा वादा करके सत्ता में काबिज हुई भाजपा सरकार में कोई खुशहाल नहीं है। किसान विरोधी सरकार को उखाड़ फेंकना है ।

रिपोर्ट- अनूप कुमार हेमकर

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story