मंदिर पर बोले अखिलेश यादव, राजनीति में लिया जाता है चंदा, यहां हमेशा किया है दान

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर शुरू किए गए चंदा अभियान पर एतराज किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग भगवान राम को लेकर हमेशा राजनीति करते रहे हैं।

Published by Shreya Published: January 16, 2021 | 4:33 pm
ap leader akhilesh

अखिलेश यादव ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर शुरू किए गए चंदा अभियान पर एतराज किया (फोटो- सोशल मीडिया)

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अयोध्या राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा लिए जाने को भाजपा की राजनीतिक कवायद करार दिया है उन्होंने कहा कि चंदा लेने का काम राजनीति में किया जाता है। मंदिर में पहुंचकर तो दान और दक्षिणा की जाती है। मैंने हमेशा मंदिर में जाकर इसी परंपरा का निर्वाह किया है। कोरोना टीका करण शुरू होने पर उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग हर घटना को इवेंट बना देते हैं सबसे पहले भाजपा के लोगों को लाइन में लगकर वैक्सीन लगवानी चाहिए। प्रदेश में जब समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो हम सब को मुफ्त वैक्सीन लगवा देंगे।

चंदा अभियान पर अखिलेश ने जताया एतराज

समाजवादी पार्टी के प्रदेश कार्यालय पर शनिवार को मीडिया से मुखातिब समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर शुरू किए गए चंदा अभियान पर एतराज किया है। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोग भगवान राम को लेकर हमेशा राजनीति करते रहे हैं अब मंदिर निर्माण के लिए भी राजनीति की जा रही है उन्होंने कहा कि राजनीतिक दल चुनाव लड़ने और अपने अन्य कार्य के लिए लोगों से चंदा वसूलते हैं।

यह भी पढ़ें: Corona Vaccination Ghazipur: सीएमओ जीसी मौर्या ने लगवाया पहला टीका

akhilesh yadav
(फोटो- सोशल मीडिया)

राम मंदिर के नाम पर वसूल रहे चंदा

वही चंदा वसूलने का काम अब भाजपा के लोग राम मंदिर के नाम पर कर रहे हैं इससे साफ पता चलता है कि उनके लिए यह राम मंदिर का निर्माण धार्मिक भावना से जुड़ा हुआ नहीं है। यह उनके लिए एक राजनीतिक अभियान है जिसके लिए वह चंदा जुटा रहे हैं। उन्होंने कहा कि वैदिक परंपरा से लेकर आज तक हिंदू समाज में मंदिर और धार्मिक कार्यों के लिए दान दक्षिणा की परंपरा बनी हुई है।

मैं खुद भी जब कभी किसी मंदिर में जाता हूं तो वहां अपनी श्रद्धा और सामर्थ्य के अनुसार दान दक्षिणा जरूर करता हूं। उन्होंने बताया कि तिरुपति बालाजी जाने पर उन्होंने अपने सिर के बाल दान कर दिए थे क्योंकि यह एक धार्मिक मान्यता है कि वहां सिर के बाल का दान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि भाजपा के लोगों के नजरिए में बदलाव हो गया है इसलिए वह लोग चंदा वसूलने में जुटे हुए हैं।

यह भी पढ़ें: Covid-19 vaccination: वाराणसी के डाटा इंट्री ऑपरेटर अजित को लगा पहला टीका

कोरोना टीकाकरण को लेकर उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के लोग अपने छोटे बड़े हर कार्यक्रम को बड़े इवेंट के तौर पर करने के आदी हो चुके हैं ऐसे में मेरा सुझाव है कि कोरोना टीकाकरण का अभियान भले ही अंदर से खोखला है व्यवस्थाएं नहीं की गई है लेकिन भाजपा के लोगों को सबसे पहले लाइन में लगकर वैक्सीन लगवानी चाहिए।

sp akhilesh yadav
(फोटो- सोशल मीडिया)

भाजपा के लोग सबसे पहले वैक्सीन लगवाएं

उन्होंने कहा कि अभी भाजपा के लोग सबसे पहले वैक्सीन लगवाएं अगले साल समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी तो सभी को मुफ्त में वैक्सीन लगवाई जाएगी। उन्होंने यह भी कहा कि टीकाकरण उतना महत्व नहीं रखता है। जितना सभी लोगों को मुफ्त टीका दिलाया जाना भाजपा की सरकार को बताना चाहिए कि प्रदेश के सभी नागरिकों को टीका मुफ्त में कब मिलेगा।

शनिवार को समाजवादी पार्टी प्रदेश मुख्यालय पर पार्टी समर्थकों का जमावड़ा लगा रहा बसपा के पूर्व विधायक योगेश वर्मा और उनकी पत्नी व मेरठ मेयर सुनीता वर्मा अपने समर्थकों के साथ समाजवादी पार्टी में शामिल हुए इसके अलावा बरेली के पूर्व बसपा विधायक विजयपाल भी सपा में शामिल हुए।

अखिलेश तिवारी

यह भी पढ़ें: Covid-19 vaccination drive: रायबरेली के राम किशोर ने लगवाया पहला टीका

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App