किसान आंदोलन से ध्यान भटकाने के लिए भाजपा कर रही है तांडव: अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को श्रावस्ती पहुंचे हैं। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तांडव पर इसलिए तांडव कर रही है क्योंकि सरकार नहीं चाहती है कि केंद्र सरकार के काले कृषि कानूनों पर लोगों का ध्यान बना रहे।

Published by SK Gautam Published: January 18, 2021 | 4:41 pm
Modified: January 18, 2021 | 4:56 pm
Tandava Webseries

किसान आंदोलन से ध्यान भटकाने के लिए भाजपा कर रही है तांडव: अखिलेश यादव-(courtesy-social media)

श्रावस्ती। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने तांडव वेबसीरीज पर योगी सरकार की ओर से मुकदमे की कार्रवाई किए जाने पर कहा कि किसान आंदोलन से लोगों का ध्यान भटकाने के लिए ही भाजपा सरकार अब तांडव पर तांडव कर रही है। इससे पहले भी कई वेबसीरीज में आपत्तिजनक संवाद बोले गए हैं लेकिन तब कुछ नहीं किया गया। इस समय किसानों के आंदोलन और बेरोजगारी जैसे मुद्दों को भूलकर लोग भाजपा के साथ तांडव करने लगें, इसलिए सारी कोशिश की जा रही है।

सरकार अब तांडव पर तांडव कर रही- अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव सोमवार को श्रावस्ती पहुंचे हैं। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी तांडव पर इसलिए तांडव कर रही है क्योंकि सरकार नहीं चाहती है कि केंद्र सरकार के काले कृषि कानूनों पर लोगों का ध्यान बना रहे। किसानों के मुद्दे पर लोगों का ध्यान भटकाने की कोशिश में भाजपा और उसकी सरकार अब तांडव पर तांडव कर रही है। किसान वहां दिल्ली में आंदोलन कर रहे हैं उन्हें आतंकवादी बता रहे हैं उनकी एनआईए से जांच करा रहे हैं।

farmer protest

किसानों का मुद्दा हट जाए, बेरोजगारी का मुद्दा जाए

यह सरकार देश के किसानों को बर्बाद करने का प्रबंध करने के बाद अब आतंकवादी साबित करने में जुट गई है। उन्होंने सवाल उठाया कि आखिर तांडव पर ही क्यों बवाल हो रहा है। आप सब ने मिर्जापुर सीरीज देखी है। मीरजापुर में कितनी शिष्टाचार की भाषा थी। ऐसी शिष्टाचार वाली भाषा उत्तर प्रदेश में कहां बोली जाती है, मीरजापुर की इससे कितनी बदनामी हो रही है लेकिन तब सरकार और भाजपा के लोग चुप बैठे रहे।

तांडव जैसे और भी न जाने कितने सीरियल्स होंगे लेकिन उन पर तांडव क्यों नहीं किया। यह भी इस वक्त किया जा रहा है कि जिससे किसानों का मुद्दा हट जाए, बेरोजगारी का मुद्दा जाए । उन पर सवाल ना हो । उन्होंने कहा कि ऑनलाइन पर ऐसे न जाने कितने लेटफार्म हैं जहां पर ऐसे न जाने कितने कार्यक्रम चल रहे हैं जिनके बारे में हम आप सोच भी नहीं सकते।

मोहम्मद आजम खां के बारे में पूछे गए सवाल पर सपा नेता ने कहा कि जौहर यूनिवर्सिटी बनाए जाने के अच्छे काम की सजा के तौर पर मोहम्मद आजम खान और उनके परिवार वालों का उत्पीडऩ किया जा रहा है। समाजवादी पार्टी उनके लिए लगातार लड़ाई लड़ रही है। समाजवादी सरकार बनेगी तो जौहर यूनिवर्सिटी का जितना नुकसान हुआ है उससे ज्यादा अच्छा काम करेंगे।

ये भी देखें: UP MLC Election 2021: 13वें प्रत्याशी के आने से चुनाव हुआ दिलचस्प, होगी जांच

एमएसपी पर किसानों के धान की खरीद नहीं हुई

उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब तक गन्ना किसानों का पिछले साल का मूल्य बकाया है इस महंगाई के दौर में गन्ना मूल्य बढऩा चाहिए था लेकिन अभी तक सरकार ने गन्ना मूल्य घोषित नहीं किया है। एमएसपी पर किसानों के धान की खरीद नहीं हुई । 900 से लेकर 1100 पर धान की खरीद हुई । हम बधाई देना चाहते हैं उन किसानों को जो दिल्ली में प्रदर्शन कर रहे हैं । किसानों की लड़ाई लड़ रहे हैं। समाजवादी पार्टी भी उनका साथ दे रही है लेकिन किसानों के हक में प्रदर्शन करने पर समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं पर सबसे ज्यादा उत्पीडऩ और मुकदमा हुआ।

महिलाओं और बेटियों के साथ घटनायें नहीं रूक रहीं- सपा

भाजपा का कहना है कि यह समाजवादी पार्टी के लोग हैं। उनको यह पता ही नहीं है कि प्रदेश में जो किसान है वह समाजवादी भी है। भाजपा सरकारों ने किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया था , आज बताएं कि उनकी सरकार में कौन सी फसल का रेट दोगुना हुआ है। उन्होंने कहा कि जैसे-जैसे चुनाव नजदीक आएंगे सरकार का झूठ भी बढ़ेगा और भ्रष्टाचार भी । जो भी सही तस्वीर दिखाने की कोशिश करेगा उस पर मुकदमा भी हो जाएगा कई पत्रकार साथियों पर मुकदमा हुआ।

rape in up

ये भी देखें: मुश्किलों में फंसी तांडव: निर्देशक से होगी पूछताछ, मुंबई रवाना हुई यूपी पुलिस

 प्रदेश की योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा के लोग बताएं कि उनकी प्रदेश सरकार में आज कितने मुख्यमंत्री हें। महिलाओं और बेटियों के साथ कैसी घटनाएं हुई हैं। बदायूं जैसा दुख भरा कांड हुआ। कितनी बड़ी घटना हुई लेकिन सरकार ने क्या कार्रवाई की। मानव अधिकार आयोग ने सबसे ज्यादा नोटिस भाजपा की योगी सरकार को दिए हैं।

रिपोर्ट- अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App