अखिलेश यादव ने संगठन गतिविधियों को बढ़ाने के लिए शुरू किया ये कार्यक्रम

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि कोरोना संकट के समय पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रवासी मजदूरों और मजबूरों की मदद में अग्रणी भूमिका निभाई है।

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि कोरोना संकट के समय पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रवासी मजदूरों और मजबूरों की मदद में अग्रणी भूमिका निभाई है। उन्होंने बताया कि इसी क्रम में तमिलनाडु के कांचीपुरम से संतकबीरनगर के 14 श्रमिक बुधवार को लखनऊ पहुंचे तो सपा एमएलसी सुनील यादव व उदयवीर यादव तथा यूथ ब्रिगेड के अध्यक्ष अनीस राजा ने उनका शहीद पथ पर स्वागत किया और राशन व आर्थिक सहायता करते हुए भोजन-पानी की व्यवस्था की।

सपा के राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चौधरी ने बताया कि तमिलनाडु के कांचीपुरम में संतकबीरनगर के 14 श्रमिक फंसे हुए थे। उनमें से एक मृत्युंजय कुमार ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव से मदद मांगी। श्रमिकों ने बताया कि उन्हें घर जाने के लिए न तो ट्रेन की सुविधा मिली और न ही उनके खाने पीने की व्यवस्था थी।

इस पर अखिलेश यादव ने उनकी परेशानी का संज्ञान लेकर तुरन्त बस की व्यवस्था की और बीती पहली जून को कांचीपुरम से चले श्रमिक बुधवार 3 जून को लखनऊ पहुंच गए। इन श्रमिकों ने अखिलेश यादव का धन्यवाद व आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वे संकट के समय उनकी मदद को जीवन भर नहीं भूलेंगे, बुरे वक्त में उन्होंने भगवान की तरह उनकी मदद की।

यह भी पढ़ें…सात संमदर पार नॉन स्टॉप अखंड रामायण, 150 से ज्यादा लोगों ने किया पूरा

संवाद-सम्पर्क कार्यक्रम की शुरूआत

चौधरी ने बताया कि सपा अध्यक्ष ने बुधवार को संगठनात्मक गतिविधियों को बल देते हुए संवाद-सम्पर्क कार्यक्रम की शुरूआत की है। कार्यक्रम के तहत राष्ट्रीय अध्यक्ष ने पार्टी के प्रमुख नेताओं और कार्यकर्ताओं से समाजवादी पार्टी के नम्बर पर व्हाट्स एप काल पर सम्पर्क किया। उन्होंने कोरोना संकट के समय राहत कार्य, श्रमिकों तथा किसानों की समस्याओं पर भी जानकारी हासिल की।

यह भी पढ़ें: बाबा दरबार में अधूरी रह जायेगी भक्तों की हसरत, सिर्फ इस दर्शन की मिली इजाजत

अखिलेश ने इनसे की बात

संवाद-सम्पर्क कार्यक्रम के तहत अखिलेश ने राबर्ट्सगंज के पूर्व विधायक अविनाश कुशवाहा से वार्ता करके क्षेत्र में श्रमिकों के लिए किए गए राहत कार्यों का ब्यौरा लिया। इसी तरह उन्होंने आजमगढ़ में विधायक नफीस अहमद, कानपुर में डा. सुल्तानपुर में राजमणि यादव, महोबा में योगेन्द्र योगी, सिद्धार्थनगर में राम जायसवाल, सुनील और जंग बहादुर से सम्पर्क कर स्थानीय समस्याओं और पार्टी के कामकाज की जानकारी हासिल की। चौधरी ने बताया कि संवाद-संपर्क कार्यक्रम आगे भी जारी रहेगा।

रिपोर्ट: मनीष श्रीवास्तव