उत्तरायणी कौथिग मेला में अखिलेश यादव का भव्य स्वागत

लगभग डेढ़ हजार पर्वतीय जनों के बीच अखिलेश यादव ने सर्वप्रथम भगवान बागनाथ बागेश्वर महादेव मंदिर से आई ज्योति का पुष्पांजलि के साथ अभिनंदन किया। उनके साथ नेता प्रतिपक्ष विधान परिषद अहमद हसन एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चौधरी भी थे।

लखनऊ। महानगर स्थित रामलीला मैदान लखनऊ में चल रहे उत्तरायणी कौथिग मेला में आज समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत किया गया।

लगभग डेढ़ हजार पर्वतीय जनों के बीच अखिलेश यादव ने सर्वप्रथम भगवान बागनाथ बागेश्वर महादेव मंदिर से आई ज्योति का पुष्पांजलि के साथ अभिनंदन किया। उनके साथ नेता प्रतिपक्ष विधान परिषद अहमद हसन एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री राजेन्द्र चौधरी भी थे।

श्री यादव ने मेले में कई स्टाल भी देखे। मेले में बड़ी संख्या में आई महिलाओं ने अपनी पर्वतीय वेशभूषा में  अखिलेश यादव का स्वागत किया और महिलाओं में सेल्फी लेने की होड़ लगी थी। उन्होंने सेल्फी भी ली।

इसे भी पढ़ें

अखिलेश यादव का भाजपा पर बड़ा हमला, धर्म को लेकर कही ये बड़ी बात

झोलिया एवं झोला नृत्य भी देखा

श्री यादव ने उनका झोलिया एवं झोला नृत्य भी देखा। स्थानीय पर्वतीय निवासियों में इस मौके पर काफी उमंग और उत्साह देखा गया। उत्तरायणी कौथिग मेला 14 जनवरी से प्रारम्भ होकर 22 जनवरी 2020 तक चलेगा।

इसे भी पढ़ें

सीएम योगी नहीं जानते कि यूपी को नीचे से नबंर वन बनाना है या ऊपर से: अखिलेश

श्री अखिलेश यादव का पर्वतीय महापरिषद लखनऊ के संरक्षक नन्दन सिंह बोरा, अध्यक्ष  भवान सिंह रावत, महासचिव गणेश चन्द्र जोशी सहित ठाकुर सिंह मनराल, हेमपंत महासचिव रामलीला समिति, महानगर प्रो0 आर.सी. पंत, एन.के. उपाध्याय, हरिश्चन्द्र जोशी, पीताम्बर भट्ट, ओ.पी. भारद्वाज, देवेन्द्र मिश्र, शैलेन्द्र सिंह बल्लू सभासद आदि पदाधिकारियों ने माल्यार्पण कर स्वागत किया।

इसे भी पढ़ें

हमारी सरकार में लैपटॉप मिलता था, वही इस सरकार में शौचालय मिलता है: अखिलेश

अखिलेश यादव के पधारने पर चारों तरफ हर्ष और उल्लास था। अखिलेश यादव ने मेले की सफलता की कामना करते हुए कहा कि पर्वतीय अंचल की कला-संस्कृति को इतनी दूर रहकर भी जीवित रखने का प्रयास सराहनीय है। इससे नई पीढ़ी अपनी जड़ो से जुड़ी रहेगी और संस्कारित भी होगी।