आंधी-बारिश का कहर: मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, होगा भारी नुकसान

मौसम के बिगड़ते मिजाज को देखते हुए मौसम विभाग ने बुंदेलखंड और राजधानी लखनऊ में फिर से तेज आंधी और बारिश के आसार जताए हैं।

लखनऊ: मौसम के बिगड़ते मिजाज को देखते हुए मौसम विभाग ने बुंदेलखंड और राजधानी लखनऊ में फिर से तेज आंधी और बारिश के आसार जताए हैं। शाम तक इन जिलों के आसपास में आज शाम तक मौसम के तेजी से करवट ले सकता है। मौसम विभाग ने जानकारी दी है कि इन जिलों में एक बार फिर से धूल भरी आंधी के साथ बारिश होने की संभावना है। साथ ही आंधी की रफ्तार 30 से 60 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है। जोकि धूल भरी होगी।

ये भी पढ़ें…BJP के नाराज विधायक: सरकार पर उठाई उंगली, हो रहे हैं वीडियो-आडियो खूब वायरल

मौसम तेजी से बदलेगा

जिलों की मौसम रिपोर्ट में विभाग के अनुसार, जिन जिलों में शाम तक मौसम बदलेगा, उनमें बुंदेलखंड के झांसी, ललितपुर, महोबा, हमीरपुर जिले आते हैं। इसके साथ ही राजधानी लखनऊ समेत आसपास के जिले सीतापुर, शाहजहांपुर, हरदोई कन्नौज, बरेली और संभल में भी मौसम तेजी से बदलेगा।

मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि आज बुधवार और गुरुवार को 2 दिनों में आंधी और बारिश का हल्की संभावना है लेकिन इसके बाद प्रदेश के ज्यादातर जिलों में मौसम खुल जाएगा।

थोड़ी-थोड़ी गर्मी बढ़ती जायेगी

हालांकि अगले चार-पांच दिनों तक मौसम खुलने की वजह से तापमान में बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। इससे पहले 19 मई तक के लिए जारी मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक रोज धीरे-धीरे गर्मी बढ़ती जायेगी। बुन्देलखण्ड में इसका खासा प्रकोप देखने को मिलेगा।

ये भी पढ़ें…सिर्फ 13 लाख करोड़ है मोदी का पैकेज, अब ये चीजें हैं आपको मिलनी बाकी

साथ ही मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार, झांसी में तापमान 42 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाएगा। आगरा में भी तापमान 42 तक पहुंचेगा। राजधानी लखनऊ में अभी 36 डिग्री के आसपास तापमान चल रहा है, जो अगले कुछ दिनों में बढ़कर 40 के पार चला जायेगा।

गर्मी अब बढ़ेगी

देखा जाएं तो इसी तरह वाराणसी में भी तापमान 40 के आसपास जायेगा। कुल मिलाकर प्रदेश के कुछ पश्चिमी जिलों को छोड़कर बाकी जिलों में तापमान 40 डिग्री को पार कर जायेगा।

बता दें कि अप्रैल और मई में पश्चिमी विक्षोभ से गर्मी से राहत मिलती आ रही थी। यहां आंधी बारिश का सिलसिला भी जारी था। लेकिन, इस हफ्ते इसमें कमी आयेगी।

और इसी वजह है कि गर्मी अब बढ़ेगी। हालांकि ये भी बताया जा रहा है कि तापमान में ये बढ़ोतरी भी बीते कई सालों के मुकाबले कम ही होगी। लखनऊ मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता ने बताया कि गर्मी से असली सामना जून के महीने में हो सकता है।

ये भी पढ़ें…सैकड़ों वर्षों की शौर्य गाथा, कोई बना राजा तो किसी को बनाया रंक