×

संचारी रोग नियंत्रण अभियान: डीसी ने दिए जिलाधिकारियों को ये निर्देंश

मंडल के आयुक्त एमपी अग्रवाल  मंडल के सभी जिलाधिकारियों को  आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं। अक्टूबर में प्रस्तावित विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के लिए अभी से प्रयत्नशील है।

Suman  Mishra | Astrologer

Suman  Mishra | AstrologerBy Suman Mishra | Astrologer

Published on 22 Sep 2020 3:19 PM GMT

संचारी रोग नियंत्रण अभियान:  डीसी ने दिए जिलाधिकारियों को ये निर्देंश
X
संचारी रोग नियंत्रण अभियान: डीसी ने दिए जिलाधिकारियों को ये निर्देंश
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

अयोध्या : संचारी रोग एवं दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण हेतु शासन द्वारा विभिन्न विभागों को अलग-अलग कार्य एवं दायित्व सौंपे हैं जो जिला अधिकारी के नियंत्रण एवं मार्गदर्शन में बचाव के वे सभी उपाय करेंगे जो शासनादेश में दिए गए हैं। इस संबंध में मंडल के आयुक्त एमपी अग्रवाल मंडल के सभी जिलाधिकारियों को आवश्यक निर्देश जारी कर दिए गए हैं। अक्टूबर में प्रस्तावित विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के लिए अभी से प्रयत्नशील है।

दस्तक अभियान के संबंध

मंडल के आयुक्त ने बताया कि यह कार्यक्रम अक्टूबर माह में आयोजित किए जा रहे हैं दस्तक अभियान के संबंध में शासन दो महत्वपूर्ण परिवर्तन किए हैं। उक्त माह में आशा कार्यकर्ता घर-घर भ्रमण के दौरान बुखार के रोगियों के साथ खांसी तथा सांस लेने में परेशानी के लक्षण के रोगियों के विषय में भी जानकारी प्राप्त कर ऐसे रोगियों की सूचना निर्धारित प्रपत्र पर सूचीबद्ध कर सूचना ब्लॉक एवं जिला मुख्यालय पर देंगे।

शिशु टीकाकरण

नियमित टीकाकरण के अनेक सत्र कोविड-19 रोग के कारण आयोजित नहीं की जा सकी, फलस्वरूप अनेक शिशु टीकाकरण से वंचित हैं ऐसी स्थिति में आवश्यक है कि ऐसे सभी शिशुओ को चिन्हित कर योजना बनाते इन सभी शिशुओं का नियमित टीकाकरण किया जाए। साथ ही जनवरी 2020 से सितंबर 2020 के बीच में नये जन्मे शिशु का नाम व पता अंकित करते हुए सम्पूर्ण टीकाकरण का विवरण निर्धारित प्रारूप पर अंकित कर ब्लॉक मुख्यालय को दिए जाए।

यह पढ़ें...UP के लिए खुशखबरी: टैक्सटाइल पार्क से करोड़ों की आमदनी, सबको मिलेगा रोजगार

कार्यों का दायित्व

जिला अधिकारी अनुज कुमार झा ने अक्टूबर 2020 माह में विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान के साथ दिमागी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण के साथ कोविड-19 के कारण विगत छः माह में नवजात शिशु एवं पूर्व में जन्मे शिशुओं का जिनका अभी तक टीकाकरण नहीं हुआ है। इसके अतंर्गत चिकित्सा शिक्षा विभाग, दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग एवं लघु सिंचाई विभाग तथा सूचना विभाग को अलग-अलग कार्य एवं दायित्व सौपे हैं।

AYODHYA सोशल मीडिया से

सर्वेक्षण कार्य में शासन

उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से कहा कि सर्वेक्षण कार्य में शासन दो कार्य और जोड़े हैं, इस बार आशा कार्यकर्ता के माध्यम से सर्वेक्षण के दौरान बुखार के रोगियों के साथ-साथ खांसी एवं सांस लेने की परेशानी के रोगियों के विषय में भी जानकारी जिला स्तर पर सूचित करना होगा।

जिलाधिकारी ने नगर विकास विभाग के अधीन नगर निगम व नगर पालिका नगर पंचायत के उच्चधिकारी सहित जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देशित किया है कि कोविड-19 महामारी का संक्रमण चल रहा है संचारी रोगों के साथ दिमागी बुखार संबंधित रोगों की रोकथाम के लिए आवश्यक है। इसके लिए आबादी क्षेत्रों व ग्रामीण क्षेत्रों में विशेष साफ-सफाई अभियान चलाया जाए। किसी भी स्थान पर या गड्ढों में जलभराव, छिड़काव के साथ, खुले में शौच न करने, खुली नालियों को ढकने की व्यवस्था, झाड़ियो की सफाई कराई जाए।

यह पढ़ें.IPL 2020 CSK vs RR Live: राजस्थान की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी, क्रीज पर स्स्मिथ और संजू सैमसन

लोगों से अपील

जनमानस से अपील की जाए कि मच्छर जनित रोगों से बचाव हेतु आवश्यक है कि अपने घरों व आसपास पर्याप्त साफ-सफाई रखें, शरीर को पूरा ढकने वाले कपड़े पहने, मच्छरदानी का उपयोग करें, यदि किसी स्थल पर पानी का जमाव है तो नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत को सूचित करें।

नाथ बख्श सिंह

Suman  Mishra | Astrologer

Suman Mishra | Astrologer

Next Story