अयोध्या फैसला: CM योगी का सख्त आदेश, यूपी से सटे राज्यों की सीमाएं सील

सीएम योगी ने सभी उच्च अधिकारियों से फैसले के दौरान लगातार संपर्क और संवाद जारी रखने के निर्देश दिए हैं। कानून से खिलवाड़ करने वालों को किसी भी तरह से बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

अयोध्या: देश के सबसे बड़े मुकदमे राम मंदिर विवाद पर सर्वोच्च न्यायालय कल फैसला सुनाएगा। इसके लिए उत्तर प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम हैं।

यूपी से सटे सभी राज्यों की सीमाएं सील करने के आदेश दिए गए हैं। सभी जिलों में हाईअलर्ट को देखते हुए पुलिसबल द्वारा फ्लैग मार्च और धारा 144 पर कठोरता से पालन करने का आदेश प्रदेश के मुखिया ओपी सिंह ने जारी किया।

ये भी पढ़ें—अयोध्या राम मंदिर! फैसला कल, उत्तर प्रदेश में स्कूल- कालेज बन्द

अयोध्या की सभी सीमाओं को देर रात सील कर दी गई हैं। किसी भी बाहरी व्यक्ति को अयोध्या में पगवेश नहीं करने दिया जाएगा। फैसले को देखते हुए जिले में धारा 144 लागू किया गया है।

सीएम योगी आदित्नाथ ने भी लोगों से अपील की है कि मा. उच्चतम न्यायालय द्वारा अयोध्या प्रकरण के सम्बन्ध में दिए जाने वाले सम्भावित फैसले के दृष्टिगत प्रदेशवासियों से अपील है कि आने वाले फैसले को जीत-हार के साथ जोड़कर न देखा जाए। यह हम सभी की जिम्मेदारी है कि प्रदेश में शांतिपूर्ण और सौहार्दपूर्ण वातावरण को हर हाल में बनाए रखें।

ये भी पढ़ें—राम जन्मभूमि और अयोध्या विवाद, कब और कैसे हुई शुरुआत!

वहीं पर सीएम योगी ने सभी उच्च अधिकारियों से फैसले के दौरान लगातार संपर्क और संवाद जारी रखने के निर्देश दिए हैं। कानून से खिलवाड़ करने वालों को किसी भी तरह से बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

भेजे गए 4000 पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान

केंद्रीय गृह मंत्रालय से जुड़े सूत्रों के मुताबिक, अयोध्या के फैसले को देखते हुए सभी राज्यों को एडवाइजरी जारी की गई है। सभी राज्यों को फैसले को लेकर अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं। सूत्रों के मुताबिक अतिरिक्त सुरक्षा के लिए गृह मंत्रालय अर्धसैनिक बलों की 40 कंपनियां भेज रहा है। इन 40 कंपनियों में 4000 पैरा मिलिट्री फोर्स के जवान शामिल होंगे।