Top

रामपुर: सपा के प्रदर्शन पर बोले डीजीपी, किसी को हाथ में नहीं लेने देंगे कानून

समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी और बेटे पर प्रशासन की कार्रवाई के बाद से रामपुर का माहौल काफी गरम हो गया है। पार्टी के करीब 10 हजार कार्यकर्ताओं और नेताओं ने गुरुवार को विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया। प्रशासन ने बढ़ते तनाव को देखते हुए इलाके में सुरक्षा बंदोबस्त कड़े कर दिए हैं।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumarBy Dharmendra kumar

Published on 1 Aug 2019 11:59 AM GMT

रामपुर: सपा के प्रदर्शन पर बोले डीजीपी, किसी को हाथ में नहीं लेने देंगे कानून
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ: समाजवादी पार्टी के सांसद आजम खान की जौहर यूनिवर्सिटी और बेटे पर प्रशासन की कार्रवाई के बाद से रामपुर का माहौल काफी गरम हो गया है। पार्टी के करीब 10 हजार कार्यकर्ताओं और नेताओं ने गुरुवार को विरोध प्रदर्शन करने का ऐलान किया। प्रशासन ने बढ़ते तनाव को देखते हुए इलाके में सुरक्षा बंदोबस्त कड़े कर दिए हैं।

किसी भी आशंका के मद्देनजर यहां धारा 144 लागू कर दी गई है। साथ ही जिले की सीमाओं को सील कर दिया गया है। तो वहीं रामपुर जाने की कोशिश कर रहे सपा नेताओं को पुलिस ने हिरासत में भी लिया है। इसके साथ ही आजम खान के बेटे और सपा विधायक अब्दुल्ला आजम को भी पुलिस ने धारा 144 का उल्लंघन करने पर गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें...उन्नाव रेप केस दिल्ली ट्रांसफर हुआ, 7 दिन में एक्सीडेंट की जांच पूरी करने का आदेश

विरोध कर रहे समाजवादी पार्ची के कार्यकर्ताओं और पुलिस के बीच झड़प की भी खबर है। डीजीपी ओपी सिंह ने साफ कहा है कि किसी को भी कानून-व्यवस्था के साथ खिलवाड़ नहीं करने दिया जाएगा।

गौरतलब है कि सरकारी काम में बाधा पहुंचाने की वजह से पुलिस ने बुधवार को आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को हिरासत में ले लिया था। इसके बाद से ही इलाके तनाव की स्थिति पैदा हो गई। फिलहाल यहां चप्पे-चप्पे पर पुलिस तैनात है।

यह भी पढ़ें...पानी-पानी: नहीं थम रहा मौतों का सिलसिला, भीषण बारिश का कहर जारी

रामपुर के डीएम एके सिंह ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि शहर में शांति व्यवस्था को कायम रखने के लिए कड़े इतंजाम किए हैं, जिले की सीमाएं सील की गई हैं। इलाके में कांवड़ यात्रा और बकरीद के मद्देनजर धारा 144 पहले से लागू की गई है। किसी को भी शहर में एकत्र होने की इजाजत नहीं दी जाएंगी।'

यह भी पढ़ें...उन्नाव रेप: सपा ने कहा, इन तीनों के हटे बिना पीड़िता को नहीं मिलेगा न्याय

मौलाना मोहम्मद अली जौहर यूनिवर्सिटी पर छापा के बाद डीजीपी ने कहा कि सबूतों के आधार पर जो कार्रवाई की जानी चाहिए वो की जा रही है, इसे राजनीतिक रंग देना ठीक नहीं है।

Dharmendra kumar

Dharmendra kumar

Next Story