कांग्रेस का बड़ा प्रदर्शन: कानपुर मुठभेड कांड का किया विरोध, हुई गिरफ्तारी

इससे पहले भारतीय यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास की अगुवाई में सैकड़ों कार्यकर्ता सरदार पटेल मार्ग स्थित यूपी भवन के निकट पहुंचे और नारेबाजी की। यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में प्लेकार्ड लिए हुए थे।

नई दिल्ली। कांग्रेस की युवा इकाई ने कानपुर मुठभेड कांड में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या की घटना के विरोध में बुधवार को यूपी भवन के पास प्रदर्शन किया। प्रदर्शन शुरू होने के थोड़े समय के बाद ही वहां पहुंची पुलिस ने यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी समेत कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया।

NPCL का लाइसेंस निरस्त करने की मांग, हुआ ये बड़ा फैसला

उत्तर प्रदेश बना गोली प्रदेश

इससे पहले भारतीय यूथ कांग्रेस के अध्यक्ष श्रीनिवास की अगुवाई में सैकड़ों कार्यकर्ता सरदार पटेल मार्ग स्थित यूपी भवन के निकट पहुंचे और नारेबाजी की। यूथ कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में प्लेकार्ड लिए हुए थे। जिन पर उत्तर प्रदेश बना गोली प्रदेश, आतंकवादी विकास के पनाहगारों को गिरफ्तार करों जैसे नारे लिखे थे। इसके अलावा कुछ ऐसे भी प्लेकार्ड थे जिन पर यूपी के कानून मंत्री बृजेश पाठक और विकास दुबे की फोटों थी और लिखा था कि ये रिश्ता क्या कहलाता है।

यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता अमरीश रंजन पांडे ने बताया कि पुलिस ने श्रीनिवास और उनके साथियों को यूपी भवन से थोड़ी दूरी पर रोक दिया और श्रीनिवास समेत कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया। बाद में इन लोगों को रिहा कर दिया गया।

यूपी में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 1,196 नए मामले सामने आए, राज्य में 9,980 एक्टिव केस

उत्तर प्रदेश जंगलराज बन गया

यूथ कांग्रेस अध्यक्ष श्रीनिवास ने कहा कि यूपी के मुख्यमंत्री योगी ने हर समय यह दावा किया है कि उनकी सरकार में अपराध के प्रति शून्य सहिष्णुता है, जबकि विकास दुबे की घटना और उसके लिए राजनीतिक समर्थन स्पष्ट रूप से दर्शाता है कि सरकार हत्यारों और अपराधियों को शरण देने के लिए दृढ़ है। उन्होंने आरोप लगाया कि उत्तर प्रदेश जंगलराज बन गया है, जहां हर रोज कई लोगों की दिनदहाड़े हत्या हो रही है। 08 पुलिस अधिकारी मारे जाते हैं, लेकिन लगभग एक हफ्ते के बाद भी सरकार के पास अपराधी के ठिकाने के बारे में कोई सुराग नहीं है। उन्होंने कहा कि सरकार ने जितनी पुलिस फोर्स यूपी भवन के बाहर यूथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी में लगायी है, उतनी अगर कानपुर में विकास दुबे को पकड़ने में लगायी होती तो आज 08 पुलिसकर्मी जिंदा होते।

रिपोर्ट- मनीष श्रीवास्तव, लखनऊ

आ रहे ये पॉपुलर ब्रांड के स्मार्टफोन, जानें फीचर्स और नाम..

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।