BJP सरकार ने मजदूरों के साथ की ज्यादती, श्रम-रोजगार विरोधी: राम गोविंद चौधरी

सपा के वरिष्ठ नेता व उत्तर प्रदेश विधानसभा में विरोधी दल के नेता राम गोविंद चौधरी ने भाजपा सरकार को श्रम, रोजगार और किसान विरोधी व निष्ठुर और निर्मम सरकार करार देते हुए कहा कि श्रमिकों के साथ केंद्र और राज्य सरकार दुश्मन सरीखा व्यवहार कर रही है।

Published by Ashiki Patel Published: May 25, 2020 | 11:35 am
Modified: May 25, 2020 | 6:58 pm

बलिया: सपा के वरिष्ठ नेता व उत्तर प्रदेश विधानसभा में विरोधी दल के नेता राम गोविंद चौधरी ने भाजपा सरकार को श्रम, रोजगार और किसान विरोधी व निष्ठुर और निर्मम सरकार करार देते हुए कहा कि श्रमिकों के साथ केंद्र और राज्य सरकार दुश्मन सरीखा व्यवहार कर रही है।

नेता प्रतिपक्ष चौधरी ने सोमवार को एक बयान जारी कर भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने दावा किया कि अपने 48 साल के जीवन में उन्होने इतनी श्रम विरोधी, रोजगार विरोधी और किसान विरोधी निष्ठुर और निर्मम सरकार कभी नहीं देखी।

ये भी पढ़ें: एयर इंडिया की याचिका पर SC का आदेश- मिडिल सीट के लिए 10 दिन बाद न करें बुकिंग

भाजपा श्रमिकों के साथ दुश्मन जैसा व्यवहार कर रही है

उन्होंने आरोप लगाया कि भाजपा की केंद्र व राज्य सरकार घर वापस आ रहे श्रमिकों के साथ दुश्मन जैसा व्यवहार कर रही है। ये भी कहा कि अचानक और अनियोजित लाॅकडाउन से श्रमिक एक तरफ रोजी रोटी समाप्त होने की पीड़ा से बेहद त्रासदपूर्ण जीवन व्यतीत कर रहे हैं तो दूसरी तरफ सरकार इन्हें सकुशल घर भी नहीं पहुँचने दे रही हैं।

श्रमिकों की मौत के बाद केंद्र और राज्य सरकार की नींद टूटी, लेकिन…

उन्होंने कहा है कि भारी संख्या में श्रमिकों की मौत के बाद केंद्र और राज्य सरकार की नींद टूटी लेकिन स्थिति यह है कि श्रमिकों को घर पहुँचाने के लिए जो ट्रेन चल रही है, वह मुम्बई से चलती है गोरखपुर के लिए और पहुँच जा रही है उड़ीसा के राउरकेला। उन्होंने केंद्र सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि वह वर्ष 1972 से राजनीतिक जीवन में हैं। 1974 के जेपी आंदोलन से संघर्ष की राजनीति में हैं। 48 साल के अपने राजनैतिक जीवन में उन्होंने कभी नहीं सुना कि कोई रेलगाड़ी मुम्बई से चले गोरखपुर के लिए और पहुँच जाए उड़ीसा के राउरकेला।

ये भी पढ़ें: Airtel Vs Jio: इस पैक में मिल रहा 50GB डेटा, जानिए किसका है बेस्ट प्लान

…श्रमिकों के साथ ज्यादती

उन्होंने राज्य सरकार पर श्रमिकों के साथ ज्यादती करने का आरोप लगाया है तथा दावा किया है कि जला देने वाली धूप में मेहनतकश श्रमिक पैदल, सायकिल या किसी अन्य सवारी से अपने घर की ओर बढ़ रहे हैं तो पुलिस उन्हें जगह जगह बेरहमी से पीट रही है। उन्होंने कहा कि पुलिस का श्रमिकों और आम लोगों के साथ यह बर्बर रवैया केंद्र व राज्य सरकार के माथे पर कलंक के समान है ।

ये भी पढ़ें: अभी और बढ़ेगी गर्मी, इस तारीख से मौसम लेगा करवट, यहां होगी झमाझम बारिश

सरकार में बने रहने का नैतिक अधिकार नहीं

उन्होंने कहा है कि केंद्र व राज्य सरकार को एक क्षण के लिए भी सरकार में बने रहने का नैतिक अधिकार नही है। श्री चौधरी ने सपा कार्यकर्ताओं व समर्थकों से राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और डिम्पल यादव की सेवा भावना का अनुसरण करने का आह्वान किया है तथा कहा है कि सरकार की प्रताड़ना की परवाह किये बगैर वह श्रमिकों को घर पहुँचाने तथा उनका भरणपोषण सुनिश्चित करने में अपनी पूरी ताकत झोंक दे ।

रिपोर्ट: अनूप कुमार हेमकर

ये भी पढ़ें: विमान सेवाओं में पहले दिन भारी अव्यवस्था, बगैर सूचना के कई फ्लाइट्स कैंसिल

आज देश मना रहा ईद का त्योहार, PM मोदी समेत इन दिग्गजों ने दी मुबारकबाद