CAA के समर्थन में BJP की रैली, CM योगी और स्मृति ईरानी का कांग्रेस पर निशाना

बीजेपी नेता नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में प्रदेश में कई जगहों पर रैली कर रहे हैं। बीजेपी इस कानून को लेकर फैले भ्रम को रैली के जरिए दूर करने की कोशिश कर रही है।

वाराणसी: बीजेपी नेता नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के समर्थन में प्रदेश में कई जगहों पर रैली कर रहे हैं। बीजेपी इस कानून को लेकर फैले भ्रम को रैली के जरिए दूर करने की कोशिश कर रही है। इसी कड़ी में नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में बीजेपी ने नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में एक बड़ा जलसा किया।

संपूर्णानंद संस्कृत यूनिवर्सिटी के खेल मैदान में आयोजित रैली में सीएम योगी आदित्यनाथ, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य समेत दर्जनभर नेताओं ने संबोधित किया। कमोबेश सभी नेताओं ने सीएए को देशहित में बताते हुए और विपक्ष पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। बीजेपी नेताओं के निशाने पर खासतौर से कांग्रेस पार्टी थी।

कांग्रेस भ्रम फैला रही है: सीएम योगी

सीएए के समर्थन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने खूब हुंकार भरी। उन्होंने कांग्रेस पर नागरिकता कानून के नाम पर देश में भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि आज कांग्रेस का नेतृत्व इस कानून पर भ्रम पैदा कर रहा है।

यह भी पढ़ें…हिंदुत्व पर मोहन भागवत के इस बयान से मच जाएगी खलबली

नागरिकता कानून के बारे में भ्रम की स्थिति को दूर करने के लिए मैं आपके बीच आया हूं। आप लोग इनके भ्रम में ना पड़े। सीएए नागरिकता देने वाला है ना की लेने वाला। बीते 19 और 20 दिसबर को यूपी में कानून को हाथ लेने वाले अब चेक लेकर दौड़ रहे हैं। मैं पूछना चाहता हूं कांग्रेस और सपा के लोगों का सिमी और पीएफआई से क्या सबंध है।

यह भी पढ़ें…‘मिशन कश्मीर’: मोदी सरकार ने बनाया ऐसा प्लान, 36 मंत्री मिलकर करेंगे पूरा

स्मृति ईरानी ने गांधी परिवार को घेरा

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सीएए को लेकर राहुल गांधी को घेरा। उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों की संख्या 23 प्रतिशत से घटकर 3 प्रतिशत हो गई, लेकिन कांग्रेस के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी। पाकिस्तान में भारत की बेटियों का बलात्कार होता रहा, कांग्रेस के कानों पर जूं तक नहीं रेंगी। सोनिया गांधी बाटला हाउस कांड पर तो रोती हैं, लेकिन पाक के हिंदुओं के हालात पर नहीं रोती हैं।

प्रियंका गांधी पर तंज कसते हुए स्मृति ईरानी ने कहा कि कांग्रेस की एक नेता अमेठी में मस्जिद में जाकर नमाज पढ़ती हैं और काशी में शिवालय में जाती हैं। और पूछती हैं कि क्या चुनाव लड़े और फिर भाग जाती हैं।

यह भी पढ़ें..अभी-अभी दिग्गज कांग्रेस नेता का इस्तीफा: पार्टी में मचा हड़कंप, दिल्ली चुनाव पर असर

प्रियंका गांधी ने वीर सावरकर का मुद्दा भी उछाला। उन्होंने कहा कांग्रेस ने वीर सावरकर को लज्जित किया है। मैं उस आदमी से पूछना चाहती हूं कि जिसे अमेठी की जनता ने भगा दिया, वो कहता है कि मैं सावरकर नहीं बन सकता। मैं राहुल गांधी को बोलना चाहती हूं कि आपकी दस पुस्तें भी सावरकर नहीं बन सकतीं।

सपा कार्यकर्ताओं का विरोध

एक तरफ बीजेपी के दिग्गज नेता सीएए के समर्थन में काशी की सडकों पर थे तो दूसरी ओर समाजवादी पार्टी ने खलल डालने की कोशिश की। लेकिन पुलिस ने सपाइयों के मंसूबे पर पानी फेर दिया। सपा कार्यकर्ताओं के एक दल ने लंका से जुलूस निकालने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस और सपा कार्यकर्ताओं में झड़प हुई, जिसके बाद दर्जनों सपा कार्यकर्ता को पुलिस ने हिरासत में लिया।