यूपी चुनाव पर बड़ा ऐलान: क्या बसपा के इस फैसले से सपा को होगा नुकसान

उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव 2020 को लेकर सियासी गलियारे में हलचल बढ़ गयी है। इसी कड़ी में यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर शुक्रवार को बड़ा ऐलान हुआ है।

Published by Shivani Awasthi Published: February 22, 2020 | 3:59 pm
Modified: February 22, 2020 | 5:05 pm
मायावती का सपा प्रेम, हताशा की झलक-स्टेट गेस्ट हाउस कांड की सिहरन अभी बाकी है

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव 2020 (UP Assembly election 2022) को लेकर सियासी गलियारे में हलचल बढ़ गयी है। इसी कड़ी में यूपी विधानसभा चुनाव के मद्देनजर शुक्रवार को बड़ा ऐलान हुआ है। दरअसल, बहुजन समाज पार्टी (BSP) की प्रमुख मायावती ने पार्टी नेताओं के साथ दिल्ली स्थित कार्यालय में अहम बैठक की। इस बैठक में फैसला लिया गया कि बसपा यूपी में आगामी चुनाव अकेले लड़ेगी। गौरतलब है कि इससे पहले बसपा और सपा का चुनाव में गठबंधन हुआ था।

बसपा प्रमुख की अध्यक्षता में पार्टी की अहम बैठक:

बहुजन समाज पार्टी की राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने शुक्रवार को नेताओं संग दिल्ली के पार्टी कार्यालय में बैठक की। इस बैठक में चुनाव को लेकर कई मुद्दों पर चर्चा हुई। वहीं कई अहम फैसले भी लिए गये।

ये भी पढ़ें: ट्रंप का खर्चीला भारत दौरा: प्रियंका ने मोदी सरकार से पूछा- कहां से आए सौ करोड़

आरक्षण पर मायावती की बड़ी मांग: SC-ST-OBC के लिए कही ये बात

यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर बड़ा ऐलान:

इस दौरान पार्टी प्रमुख मायावती ने बड़ा ऐलान किया। उन्होंने कहा कि बसपा आगामी चुनाव अकेले ही लड़ेगी। पहले इस बात की संभावना जताई जा रही थी कि बसपा समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन कर चुनाव लड़ सकती है।

ये भी पढ़ें: ट्रंप की मां की सच्चाई! दर्दभरी कहानी जान खड़े हो जाएंगे रोंगटे

बसपा अकेले लड़ेगी चुनाव, सपा ने नहीं होगा गठबंधन:

गौरतलब है कि साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी का साथ मिलने से बसपा को फायदा हुआ था। पार्टी ने लोकसभा चुनाव में दस सीटें हासिल की थीं। ऐसे में माना जा रहा था कि दोनों दोबारा एक साथ आ सकते हैं। हालाँकि बसपा और सपा गठबंधन से सपा की सीटें कुछ कम हो गयी थीं।

बैठक में यूपी विधानसभा चुनाव समेत कई अन्य अहम मुद्दों पर चर्चा:

वैसे बसपा की बैठक में यूपी विधानसभा चुनाव के अलावा और कई अन्य अहम मुद्दों पर भी चर्चा हुई।

पार्टी ने इसी साल होने वाले बिहार और पश्चिम बंगाल चुनावों में भी शामिल होने का फैसला लिया है। इसके अलावा बताया जा रहा है कि बैठक में बसपा के संगठनात्मक ढांचे में अहम बदलाव किये जाने को लेकर भी बातचीत हुई।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।