बसपा में बड़े बदलाव: शमसुद्दीन राईनी का बढ़ा कद, यूपी के 5 मंडलों की जिम्मेदारी

बसपा सुप्रीमों मायावती ने मुनकाद अली से उत्तराखंड प्रभारी का दायित्व वापस लेकर शमसुद्दीन राईनी को सौंप दिया है। इतना ही नहीं बसपा सुप्रीमों ने राईनी को यूपी के पांच मंडलों की जिम्मेदारी भी सौंपी है।

Published by SK Gautam Published: September 22, 2020 | 2:06 pm
Modified: September 22, 2020 | 2:20 pm
bsp supreamo mayawti

बसपा में बड़े बदलाव: शमसुद्दीन राईनी का बढ़ा कद, यूपी के 5 मंडलों की जिम्मेदारी-(courtesy-social media)

लखनऊ। बहुजन समाज पार्टी के संगठन में बड़े फेरबदल की खबर है। पार्टी में प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली के कद को छोटा करते हुए शमसुद्दीन राईनी को अहमियत दी गई है। बसपा सुप्रीमों मायावती ने मुनकाद अली से उत्तराखंड प्रभारी का दायित्व वापस लेकर शमसुद्दीन राईनी को सौंप दिया है। इतना ही नहीं बसपा सुप्रीमों ने राईनी को यूपी के पांच मंडलों की जिम्मेदारी भी सौंपी है।

शमसुद्दीन राईनी को यूपी के पांच मंडलों की जिम्मेदारी

इससे पहले राईनी के पास दो मंडलों के साथ ही दो भागों में बंटे लखनऊ मंडल के सेक्टर-2 की जिम्मेदारी थी। यूपी के जिन पांच मंडलों की जिम्मेदारी राईनी को सौंपी गई है उसमे सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली मंडल के सभी जिले तथा लखनऊ मंडल के हरदोई, लखीमपुर व सीतापुर जिले शामिल है। राईनी की टीम में डा. रामकुमार कुरील, हरीश सैलानी, डा. विनोद भारती, चंद्रिका प्रसाद गौतम, राकेश कुमार गौतम, जयवीर गौतम, रणधीर बहादुर और मेवालाल शामिल रहेंगे।

Shamsuddin Raini bsp

प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली के पास इन जिलों की जिम्मेदारी

इधर, प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली के पास मिर्जापुर, इलाहाबाद, वाराणसी और आजमगढ़ मंडल की जिम्मेदारी रहेगी। जबकि पूर्व सांसद घनश्याम खरवार को गोरखपुर, बस्ती, फैजाबाद और देवीपाटन मंडल, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा को कानपुर, चित्रकूट और झांसी मंडल तथा नौशाद अली व गोरेलाल को अलीगढ और आगरा मंडल का दायित्व दिया गया है।

ये भी देखें:  चीन का तगड़ा निवेश: भारतीय कंपनियों में 7500 करोड़ रुपये, सरकार ने दी जानकारी

बसपा सुप्रीमों मायावती ने किये संगठन में बड़े फेरबदल

बता दें कि 08 सीटों पर होने वाले उपचुनाव और वर्ष 2022 में होने वाले यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी बसपा सुप्रीमों मायावती लगातार पार्टी संगठन के पेंच कस रही है। इससे पहले बीती 06 जुलाई को मायावती ने संगठन में बड़ा फेरबदल करते हुए कई मंडलों पर सेक्टर प्रभारियों की व्यवस्था समाप्त कर मंडल स्तर पर मुख्य सेक्टर प्रभारियों की तैनाती की थी।

BSP state president Munkad Ali

ये भी देखें:  विपक्ष का हल्लाबोल: मॉनसून सत्र का करेगा बहिष्कार, सांसदों ने धरना किया खत्म

इन सेक्टर प्रभारियों के निर्देशन में मंडलों को दो हिस्से में बांटकर अलग से सेक्टर प्रभारी तैनात किए गए थे। इसके अलावा जिले स्तर पर भी सेक्टर प्रभारी बनाए गए थे। हर मंडल में दो से चार मुख्य सेक्टर प्रभारी और हर जिले में 4-4 सेक्टर प्रभारी बनाए गए थे।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App