×

बुन्देलखण्ड एक्सप्रेसवे के निर्माण ने पकड़ी रफ्तार, गुणवत्ता पर भी पूरा ध्यान

एक्सप्रेसवे पर 04 रेलवे ओवर ब्रिज, 14 दीर्घ सेतु, 06 टोल प्लाजा, 07 रैम्प प्लाजा, 268 लघु सेतु, 18 फ्लाई ओवर तथा 214 अण्डरपास का निर्माण किया जा रहा है।

suman

sumanBy suman

Published on 20 Feb 2021 3:54 PM GMT

बुन्देलखण्ड एक्सप्रेसवे के निर्माण ने पकड़ी रफ्तार, गुणवत्ता पर भी पूरा ध्यान
X
बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का निर्माण कार्य तीव्र गति से चल रहा है, गुणवत्ता पर पूरा ध्यान
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

बुन्देलखण्ड: उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा क्षेत्र के विकास के लिए जनपद चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर व जालौन जैसे जिलों के सर्वांगीण विकास हेतु बुन्देलखण्ड एक्सप्रेसवे का निर्माण कराया जा रहा है। यह एक्सप्रेसवे प्रदेश के बुन्देलखण्ड क्षेत्र को देश की राजधानी दिल्ली से आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे एवं यमुना एक्सप्रेसवे के माध्यम से जोड़ेगा तथा बुन्देलखण्ड क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभायेगा। यह एक्सप्रेसवे झांसी-इलाहाबाद राष्ट्रीय मार्ग सं0-35 भरतकूप के पास जनपद चित्रकूट से प्रारम्भ होकर आगरा-लखनऊ एक्सप्रेसवे पर ग्राम कुदरैल के पास जनपद इटावा में समाप्त होगा। एक्सप्रेसवे की लम्बाई 296.070 किमी0 है। इस परियोजना से जनपद चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर, जालौन, औरैया एवं इटावा लाभान्वित होंगे।

एक्सप्रेसवे पर सुगम आवागमन की सुविधा

बुन्देलखण्ड एक्सप्रेसवे 04 लेन चैड़ा (6 लेन में विस्तारणीय) तथा संरचनाएं 06 लेन चौड़ाई की बनायी जा रही हैं। एक्सप्रेसवे के एक ओर 3.75 मी0 चैड़ाई की सर्विस रोड स्टैगर्ड रूप में बनाई जायेगी जिससे परियोजना के आस-पास के गांव के निवासियों को एक्सप्रेसवे पर सुगम आवागमन की सुविधा उपलब्ध हो सके।

bundelkhand

यह पढ़ें...आगरा: 28 साल बाद शताब्दी एक्सप्रेस रोकने वाले नेता बरी, जानिए पूरा मामला

214 अण्डरपास का निर्माण

एक्सप्रेसवे पर 04 रेलवे ओवर ब्रिज, 14 दीर्घ सेतु, 06 टोल प्लाजा, 07 रैम्प प्लाजा, 268 लघु सेतु, 18 फ्लाई ओवर तथा 214 अण्डरपास का निर्माण किया जा रहा है। इस एक्सप्रेसवे के मार्ग पर पड़ने वाली यमुना एवं बेतवा नदी पर पुलों का निर्माण भी तीव्र गति से कराया जा रहा है।

bundelkhand

यह पढ़ें...TV के चाणक्य को मिलेगा बीएम शाह अवार्ड, योगी सरकार करेगी सम्मानित

कुल भौतिक प्रगति लगभग 44 प्रतिशत

दिनांक 20.02.2021 तक क्लीयरिंग एण्ड ग्रबिंग का कार्य 95 प्रतिशत, मिट्टी का कार्य 78 प्रतिशत एवं 818 संरचनाओं के सापेक्ष 466 संरचनाएं पूर्ण कर ली गयी हैं। परियोजना की कुल भौतिक प्रगति लगभग 44 प्रतिशत से अधिक पूर्ण कर ली गयी है।

suman

suman

Next Story