×

CAA पर सीएम योगी: जनता को वास्तविकता से अवगत कराना हमारा दायित्व

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा में नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 के समर्थन में आयोजित रैली के दौरान कहा कि लोकतंत्र में लोकतांत्रिक तरीके से हर किसी को अपनी बात रखने का हक है। अपनी बात मनवाने के लिए अराजकता फैलाने वाले भ्रम में न रहें।

Aditya Mishra

Aditya MishraBy Aditya Mishra

Published on 23 Jan 2020 3:48 PM GMT

CAA पर सीएम योगी: जनता को वास्तविकता से अवगत कराना हमारा दायित्व
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

लखनऊ:भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने आज आगरा के कोठी मीना बाजार, मैदान में नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 के समर्थन में आयोजित रैली में विपक्ष को देश में भ्रम, अस्थिरता व हिंसा फैलाकर देश को कमजोर करने के लिए आडे़ हाथों लिया।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा में नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 के समर्थन में आयोजित रैली के दौरान कहा कि लोकतंत्र में लोकतांत्रिक तरीके से हर किसी को अपनी बात रखने का हक है। अपनी बात मनवाने के लिए अराजकता फैलाने वाले भ्रम में न रहें।

सरकार के पास हर समस्या का समाधान है और वह अपने तरीके से करेगी। जिसने भी सार्वजनिक संपत्ति को क्षति पहुंचायी है उससे वसूली तो होकर रहेगी।

उपद्रवियों की सम्पत्तियां जब्त होंगी

मुख्यमंत्री ने कहा कि जो लोग कल तक पीएफआई और सिमी के इशारे पर जगह-जगह आग लगाने पर तुले हुए थे, अब उन्हें इस बात का एहसास हो गया है कि उनकी सम्पत्तियां जब्त हो जाएंगी।

अब ये लोग अपनी महिलाओं और बच्चों को आगे करके जगह-जगह माहौल खराब करने का प्रयास कर रहे हैं। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पहले की सरकारें उपद्रवियों के पैर छूकर उनसे मिन्नतें किया करती थीं।

वर्तमान में सभी विपक्षी दलों की दुकानें बंद हो रही हैं, यही कारण है कि वो भ्रम फैलाने का प्रयास कर रहे हैं। विपक्षी दल इन मुद्दों को लेकर अपना वोट बैंक बना रहे थे, लेकिन मोदी जी के नेतृत्व में एक-एक करके सभी मुद्दों का समाधान हो रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा दायित्व बनता है कि जनता को वास्तविकता से अवगत कराएं ताकि वो राष्ट्रीय पुनर्निर्माण और एक भारत श्रेष्ठ भारत के वर्तमान कार्यक्रम के साथ खुद को जोड़ सकें।

कश्मीर में अनुच्छेद 370 के समाप्त होने से विपक्ष की बौखलाहट साफ दिखती है। विपक्ष पाकिस्तान की भाषा बोल रहा है। नागरिकता संशोधन कानून भारत की विरासत से जुड़ा हुआ मुद्दा है।

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने सीएए के समर्थन में आयोजित रैली को संबोधित करते हुए कहा कि नागरिकता संशोधन कानून भारतीयता के विजय की अभिव्यक्ति है।

ये भी पढ़ें...CAA पर आगरा में बोले जेपी नड्डा, मानसिक दिवालियेपन से गुजर रहा कांग्रेस नेतृत्व

CAA जनमत के विश्वास की विजय की अभिव्यक्ति है

उन्होंने जोर देते हुए कहा कि यह कानून भारतीय लोकतंत्र में जनमत के विश्वास की विजय की अभिव्यक्ति है। भारतीय लोकतंत्र में मूल्यों के विजय की अभिव्यक्ति है। भारत के वैदिक कालीन सिद्धांत सबका साथ-सबका विकास व सबके विश्वास के विजय की अभिव्यक्ति है। प्रगति के पथ पर निरंतर अग्रसर भारतीयों की विजय की अभिव्यक्ति है। पूर्व से पश्चिम तथा उत्तर से दक्षिण तक एक भारत श्रेष्ठ भारत के संकल्प की विजय अभिव्यक्ति है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि आज हम यहां इसलिए एकत्र हुए है, ताकि भारत में अपने धर्म-संस्कृति तथा माताओं-बहनों की अस्मिता बचाने के लिए अंतिम आशा की किरण लेकर आए हिन्दू, बौद्ध, सिख, जैन, ईसाई व पारसी शरणार्थियों को न्याय दिलाने के लिए जो कानून बना है उसके खिलाफ भ्रम फैलाने का षड़यंत्र रचने में सक्रिय विपक्ष की सोच को आईना दिखा सके।

सिंह ने विपक्ष की घृणित राजनीति पर हमला बोलते हुए कहा कि मोदी के नेतृत्व में सीएए का जो कानून बना है वह देश और मानवता के हित में है। लेकिन कांग्रेस, सपा, बसपा भ्रम फैला रही है।

प्रदेश में पिछले तीन सालों से शांति थी, एक भी उत्पात व दंगा नहीं हुआ। लेकिन कांग्रेस, सपा, बसपा ने फंडिंग करके हिंसा फैलाने का काम किया। लेकिन प्रदेश में योगी सरकार ने सिर्फ तीन दिनों में ही दंगाईयों को रोक दिया और दंगाई घरों में दुबक गये। उन्होंने कहा कि सपा, बसपा व कांग्रेस उत्तर प्रदेश में आग लगाने का काम कर रहेे।

ये भी पढ़ें...CAA पर राजनाथ सिंह का बड़ा बयान, भारतीय मुसलमानों के लिए कही ये बड़ी बात

केशव प्रसाद मौर्य ने विपक्ष से पूछा ये सवाल

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने रैली में विपक्ष से प्रश्न किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी एवं गृहमंत्री अमित शाह जी ने पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में रहने वाले हिन्दूओं, सिखों, बौद्ध, जैन, पारसी व ईसाईयों को भारत की नागरिकता देने के लिए यदि भारत के दरवाजे खोेले है तो कांग्रेसियों, सपाईयों व बसपाइयों के सीने में दर्द क्यों हो रहा है।

उन्होंने जनता से संवाद स्थापित करते हुए कहा कि आने वाले समय में विपक्ष और भी अधित तड़फडाएगा। क्योंकि राजनैतिक असफलताओं से सपा-बसपा-कांग्रेस सहित पूरा विपक्ष बौखलाया हुआ है और तड़प रहा है।

विपक्ष को डर लग रहा है कि जैसे 2014, 2017, 2019 उनके हाथ से चला गया और 2022 उनके हाथ से जाने वाला है उसके बाद 2024 में फिर से नरेन्द्र मोदी आने वाला है। विपक्ष को मोदी जी के फिर से आने का डर सता रहा है और इसीलिए सारे विरोधी एक हो गए है।

रैली के माध्यम से पाकिस्तान, बांग्लादेश व अफगानिस्तान में धार्मिक आधार पर प्रताड़ित किए गए हिन्दू, सिख व बौद्ध आदि को भारत की नागरिकता देने के लिए बनाए गए नागरिकता संशोधन अधिनियम 2019 की आवश्यकता तथा वास्तविकता को जनता के दरबार में रखा गया।

प्रदेश महामंत्री (संगठन) सुनील बंसल के साथ क्षेत्रीय अध्यक्ष रजनीकान्त महेश्वरी ने भी रैली में सहभागिता की। प्रदेश महामंत्री, ब्रज क्षेत्र प्रभारी गोविन्द नारायण शुक्ला ने संचालन किया।

ये भी पढ़ें...कांग्रेस और दलित नेता CAA के बारे में नहीं जानते, इसलिए फैला रहे भ्रम-जेपी नड्डा

Aditya Mishra

Aditya Mishra

Next Story