सावधान! शराब की होम डिलेवरी के नाम पर आप हो सकते है धोखाधड़ी के शिकार

शिकायत मिल रही है कि सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर शराब कारोबारी आर्डर प्लेस करने की बात करते हैं और इस तरीके से वह ग्राहकों से एडवांस पैसे लेकर उन्हें चूना लगा रहे हैं। सायबर ठगी करने वाले इलाके की किसी बड़ी शराब दुकान के नाम पर यह फर्जी अकाउंट बनाते हैं।

लखनऊ: कोरोना वायरस के कारण देश भर में लागू लाकडाउन के कारण खराब होती अर्थव्यवस्था को देखते हुए कई राज्यों ने शराब की दुकाने खोलने की मंजूरी दे दी है। शराब की दुकान खुलने से सड़कों पर इसके तलबगारों की भारी भीड़ उमड़ने और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ती देख कई राज्यों ने शराब की होम डिलेवरी की मंजूरी दी है। लेकिन अब कई स्थानों से शराब की होम डिलेवरी के नाम पर फर्जीवाड़ा किए जाने की शिकायत भी आ रही है।

एडवांस पैसे लेकर उन्हें चूना लगा रहे हैं

शिकायत मिल रही है कि सोशल मीडिया पर फर्जी अकाउंट बनाकर शराब कारोबारी आर्डर प्लेस करने की बात करते हैं और इस तरीके से वह ग्राहकों से एडवांस पैसे लेकर उन्हें चूना लगा रहे हैं। सायबर ठगी करने वाले इलाके की किसी बड़ी शराब दुकान के नाम पर यह फर्जी अकाउंट बनाते हैं। इसके बाद वह ग्राहकों से आर्डर देने और भुगतान करने की बात कहते हैं। ग्राहक जब क्रेडिट कार्ड या डेबिट कार्ड से उनके दिए गए नंबर पर भुगतान कर देता है, उसके बाद यह टप्पेबाज पैसे हड़प लेते है।

ये भी देखें: मेरठःरोडवेज कर्मचारियों ने काली पट्टी बांधकर भत्ते खत्म किये जाने का जताया विरोध

राजधानी लखनऊ के एक कारोबारी ने बताया कि हाल ही में उन्होंने फेसबुक पर शराब की होम डिलेवरी किए जाने संबंध पोस्ट देख कर, पोस्ट में दिए गए नंबर पर संपर्क किया। उन्होंने बताया कि उक्त फोन पर बात करने पर उनसे पूछा गया कि कौन सा ब्रांड चाहिए। ब्रांड बताने के बाद दूसरी ओर से रेट बताया गया जो दुकान के रेट से महज 10 रुपये प्रति बोतल ही ज्यादा था।

इस पर उन्होंने 12 बोतलें भेजने की बात कही तो दूसरी ओर से कहा गया कि आप इसका भुगतान दिए गए नंबर पर कर दे। कारोबारी ने बताया कि उन्होंने कहा कि आप शराब ले आए तो यही पर भुगतान कर देंगे लेकिन दूसरी ओर से लगातार भुगतान के लिए कहा गया। उन्होंने बताया कि इस पर उन्हे शक हुआ और उन्होंने फोन काट कर फिर से फोन मिलाया तो दूसरी ओर से बंगाली भाषा में फोन संदेश आ रहा था लिहाजा उन्होंने सौदा नहीं किया।

ये भी देखें: इस बीजेपी नेता ने रेड जोन वाले जिलों में 31 मई तक कर्फ़्यू लगाने की मांग की

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App