×

चर्चित महिला पत्रकार के खिलाफ वाराणसी में केस दर्ज, लगा है ये आरोप

न्यूज वेबसाइट स्क्रोल की एडिटर सुप्रिया शर्मा विवादों में घिर गईं हैं। वाराणसी पुलिस ने सुप्रिया के खिलाफ रामनगर पुलिस थाने में एक मुकदमा दर्ज है। आरोप है कि सुप्रिया शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गोद लिए गांव के संबंध में एक भ्रामक रिपोर्ट लिखी थी।

Ashiki
Updated on: 19 Jun 2020 8:46 PM GMT
चर्चित महिला पत्रकार के खिलाफ वाराणसी में केस दर्ज, लगा है ये आरोप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

वाराणसी: न्यूज वेबसाइट स्क्रोल की एडिटर सुप्रिया शर्मा विवादों में घिर गईं हैं। वाराणसी पुलिस ने सुप्रिया के खिलाफ रामनगर पुलिस थाने में एक मुकदमा दर्ज है। आरोप है कि सुप्रिया शर्मा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गोद लिए गांव के संबंध में एक भ्रामक रिपोर्ट लिखी थी। सुप्रिया शर्मा के खिलाफ डोमरी गांव की एक महिला ने शिकायत दर्ज कराई थी।

ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री मोदी ने देश को किया आश्वस्त, बताई भारतीय सेना की ये ताकत

सुप्रिया पर क्या है आरोप?

एसपी सिटी विकास चंद्र त्रिपाठी के अनुसार सुप्रिया शर्मा ने लॉकडाउन के दौरान डोमरी गांव में माला देवी नाम के हवाले एक खबर छापी थी। इस खबर में ये बताया गया कि लॉकडाउन में गांव के लोग भूखे रहने पर मजबूर हैं। गांव के अधिकांश घरों के पास राशन कार्ड नहीं है। जिसकी वजह से लोगों को राशन नहीं मिल पा रहा है।

ये भी पढ़ें: चुनाव आयोग ने इनके लिए किया वोटिंग प्रक्रिया में बदलाव, अब ऐसे होंगे मतदान

वेबसाइट पर खबर प्रकाशित होते ही बनारस से दिल्ली तक हड़कंप मच गया। स्थानीय प्रशासन की तस्दीक में खबर भ्रामक पाई गई। माला देवी के अनुसार सुप्रिया ने उनके हवाले से गलत खबर छापी।

ये भी पढ़ें: कोरोना पर बड़ा एलान, संक्रमितों को अब नहीं किया जाएगा होम क्वारनटीन

पुलिस ने इन धाराओं में दर्ज किया मामला

सुप्रिया शर्मा के खिलाफ यह एफआईआर वाराणसी के रामनगर पुलिस स्टेशन में 13 जून को दर्ज की गई है। एफआईआर के मुताबिक, पुलिस ने सुप्रिया के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 501, 269 के तहत भी मुकदमा दर्ज किया है। सुप्रिया ने अपनी इस रिपोर्ट में माला देवी को कोट करते हुए लिखा था कि उन्हें भोजन की किल्लत हो रही है और उनके पास राशन कार्ड भी नहीं है। अब माला देवी ने राशन कार्ड न होने और लॉकडाउन के दौरान भोजन की किल्लत होने की बात से इनकार किया है। माला देवी ने अपने से जुड़ा भ्रामक तथ्य पेश करने के लिए सुप्रिया शर्मा के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

रिपोर्ट: आशुतोष सिंह

Ashiki

Ashiki

Next Story