पुलिस स्मृति दिवस पर मुख्यमंत्री योगी ने कही ये बड़ी बातें

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को पुलिस स्मृति दिवस पर लखनऊ पुलिस लाइन में शोक परेड की सलामी लिया। इसके साथ प्रोग्राम में सीएम योगी ने पुलिस के साहस तथा शौर्य की सराहना की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जनता को सुरक्षा का अहसास कराने के साथ अपराधियों में भय व्यापत कराना सरकार की प्राथमिकता है।

ये भी पढ़ें—CBSE Board: 10वीं और 12वीं बोर्ड एग्जाम के लिए जरुरी नोटिस, पढ़ें पूरी खबर

योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इस वर्ष पांच शहीदों ने पुलिस विभाग के साथ प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। उनका हृदय से आभार व्यक्त करता हूं। ऐसे शहीदों के लिए हम हमेशा ऋणी रहेंगें। हमारी सरकार शहीद परिवारों के साथ है, उनकी हर संभव मदद करेगी। उन्होंने कहा कि इसस पहले गणतंत्र दिवस पर पुलिसकर्मियों को सम्मानित किया गया। सरकार ने अब तक 28, 400 पुलिसकर्मियों को प्रोन्नत किया है।

ये भी पढ़ें—कमलेश तिवारी मर्डर में बड़ा खुलासा, ऐसे की गई थी हत्या

पुलिस स्मृति दिवस में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कही ये बातें

महिलाओं की शिकायत के निस्तारण के लिए नया ऐप शुरू किया गया|

आज प्रत्येक घटना की रिपोर्ट दर्ज की जा रही है ।

सभी शहीदों को नमन करता हूं इनमें यूपी के भी 5 जवान शामिल हैं|

प्रदेश सरकार शहीदों के परिवार कल्याण के लिए काम करती है|

130 पुलिस अधिकारियों को सम्मानित किया गया है|

ये भी पढ़ें—कमलेश तिवारी हत्याकांड: पुलिस ने हत्यारों पर रखा ढाई-ढाई लाख का ईनाम

यूपी सरकार की ओर से प्रदेश के विभिन्न जिलों को अनुदान दिया गया|

पुलिस कर्मियों के उपचार के लिए 1.92 करोड़ रुपए प्रदान किए गए|

शहीद पुलिस कर्मियों के आश्रितों को भी मदद किया गया|

2484 नागरिक पुलिस के साथ के साथ 72 हजार पीएसी में भर्ती की गई|

ये भी पढ़ें-IIFA Awards: रेखा ने किया कुछ ऐसा, देखकर दंग रह गए लोग

9 हजार से ज्यादा की सीधी भर्ती चल रही है|

39 नए थानों, 45 चौकियों की स्थापना की गई|

100 से ज्यादा दुर्दान्त अपराधी पुलिस कार्रवाई मे मारे गए 1 हजार से ज्यादा घायल है|

752 पुलिस कर्मी भी कार्रवाई के दौरान घायल हुए हैं|

प्रयागराज कुम्भ निर्विघ्न सम्पन्न कराने में पुलिस का विशेष योगदान|

2019 का चुनाव की सकुशल सम्पन्न हुआ|

यूपी पुलिस बल को ह्रदय से बधाई देता हूं|

महिलाओं और छात्राओं में आज सुरक्षा की भावना उत्पन्न हुई है|

अपराध और अपराधियों पर जीरो टॉलरेंस की नीति से काम हो रहा|

अपराधी आज जमानत तुड़वाकर जेल जा रहे हैं|

आतंकियों पर कार्रवाई में एटीएस को बड़ी सफलताएं मिली|

पिछले 3 साल में यूपी में कोई आतंकी घटना नहीं हुई|