CM योगी ने दिया ये बड़ा आदेश, कहा- लॉकडाउन में कोई ना रहे भूखा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में 21 दिनों के लॉकडाउन का एलान किया है। इस लॉकडाउन के दौरान लोगों से अपील की है कि वह घरों से ना निकलें।

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में 21 दिनों के लॉकडाउन का एलान किया है। इस लॉकडाउन के दौरान लोगों से अपील की है कि वह घरों से ना निकलें। इसके बाद उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रदेश के लोगों को आश्‍वस्‍त किा था कि कोरोना वायरस के चलते हुए लॉकडाउन के दौरान घर घर दूध, सब्‍जी और दवाएं पहुंचाई जाएंगी।

सीएम योगी ने प्रदेश की जनता से परेशान ना होने और घरों में रहने की अपील की थी। बुधवार को 12 हजार से अधिक वाहनों की मदद से सरकार ने सब्जी, दूध, दवा एवं खाद्यान्न घर-घर पहुंचाने का काम किया। यह काम लॉकडाउन खत्‍म नहीं होने तक जारी रहेगा।

यह भी पढ़ें…लॉकडाउन के दौरान मेरठ प्रशासन ने किया ऐसा कमा, हो रही है तारीफ

इस आदेश के बाद योगी आदित्‍यनाथ ने रैन बसेरों, बस एवं रेलवे स्टेशनों व अन्य सार्वजनिक स्थलों पर रह रहे लोगों की चिंता करते हुए सभी जिला प्रशासन को सामुदायिक भोजनालय खोलने का आदेश दिया है। योगी आदित्‍यनाथ का कहना है कि प्रदेश में कोई भी व्‍यक्ति भूखा-प्यासा नहीं रहेगा।

यह भी पढ़ें…बिग बी ने दिया कोरोना से लड़ने का ऐसा आइडिया, सोशल मीडिया पर वायरल

मुख्यमंत्री ने कहा है कि वर्तमान परिस्थितियों में प्रदेशव्यापी लॉकडाउन बेहद जरूरी है। यह आपकी, आपके परिवार की समाज और राष्ट्र की सुरक्षा के लिए आवश्यक है। कृपया प्रशासन का सहयोग करें और घर में ही रहें। हम आपकी जरूरत की सभी सेवाएं एवं सामग्री आप तक पहुंचाते रहेंगे।

यह भी पढ़ें…CM शिवराज का बड़ा एलान, कोरोना से प्रभावितों के लिए जारी की सहायता राशि

सीएम ने कोरोना वायरस संक्रमण को रोकने के लिये लागू किये गये लॉकडाउन में सहयोग के लिये प्रदेशवासियों का धन्यवाद भी दिया। उन्‍होंने कहा कि इस आपदकाल में जनसेवा में जुटे चिकित्सकों, स्वास्थ्य एवं सफाई कर्मियों, पुलिस, प्रशासनिक अधिकारियों एवं कर्मचारियों सहित सभी कर्मयोगियों का हार्दिक अभिनंदन करता हूं।