कोरोना पर सीएम योगी की ख़ास चर्चा, मेरठ की इस महिला से मांगे सुझाव

मेरठ पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग रात दिन मेहनत कर रहा है और लॉकडाउन का पालन कराते हुए गरीबों की मदद कर रहा है। इसी कड़ी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर सीएम नें मेरठ जिलाधिकारी कार्यालय स्थित एनआईसी के माध्यम से जिले का हाल जाना।

मेरठ। कोरोना वायरस को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज कई जिलों के पत्रकारों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरीए बात की। इस दौरान सीएम ने मेरठ से महिला पत्रकार डीडी न्यूज़ /आकाशवाणी की संवाददाता संगीता श्रीवास्तव से लाइव बात की। संगीता श्रीवास्तव ने अपने विचार और सुझाव सीएम के सामने रखे।

पुलिस-प्रशासन कर रहा दिन रात मेहनत

मेरठ पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग रात दिन मेहनत कर रहा है और लॉकडाउन का पालन कराते हुए गरीबों की मदद कर रहा है। इसी कड़ी में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर सीएम नें मेरठ जिलाधिकारी कार्यालय स्थित एनआईसी के माध्यम से जिले का हाल जाना।

जिसमें मेरठ के प्रिंट व इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के कई वरिष्ठ पत्रकार ,कमिश्नर अनीता सी मेश्राम, जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ,एसएसपी अजय साहनी भी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ेंः यूपी के इस जिले में बढ़ता जा रहा कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा, फिर मिले नए मरीज

CM योगी ने पत्रकारों से मांगे सुझाव- उपायों पर की चर्चा

बता दे कि मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश में आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश के पत्रकार बंधुओ से रूबरू होते हुए कहा कि वैश्विक महामारी के बचाव के लिए आमजन को जागरूक करे। साथ ही उन्होंने कहा कि कि जो जहां है, वही रहे। इसी में सभी की सुरक्षा है, आमजन सोशल डिस्टेंसिंग व लॉक डाउन का पालन करे मुंह ढक कर रखें, यात्रा से बचें।

ये भी पढ़ेंःइस भारतीय कंपनी का दावा, बना ली कोरोना की वैक्सीन, जानवरों पर हो रही है टेस्टिंग

प्रदेश में अब तक 314 पॉजिटिव

सीएम ने कहा कि स्व अनुशासन व सोशल डिस्टेंसिंग ही बेहतर उपचार है, कोरोना महामारी से बचाव के लिए विभिन्न शासन स्तर पर उठाए गए कदमों के प्रभावी क्रियान्वयन व स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं आदि के निस्तारण के लिए शासन स्तर पर 11 कमेटियां गठित की गई हैं। शासन प्रशासन व आमजन की सहभागिता के साथ-साथ मीडिया का भी इस वैश्विक महामारी को हराने में अहम रोल है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में अब तक 314 पॉजिटिव के आए हैं, जिसमें से 168 तबलीगी जमात के हैं, अब तक 25 कोरोना मरीजो को ठीक किया जा चुका है ।

ये भी पढ़ेंःकोरोना संकट में भी सियासी तंज के तीर, आखिर क्या है सोनिया की चिट्ठी का मतलब

मुख्यमंत्री ने कहा कि करीब 170000 करोड़ की धनराशि से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज केंद्र सरकार द्वारा बनाया गया है यह आजादी के बाद का सबसे बड़ा पैकेज है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोए इसकी जिम्मेदारी भी तय की गई है।

रिपोर्ट – सादिक़ खान मेरठ

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।