कोरोना वायरस का खौफ: मथुरा में फीका पड़ेगा होली का रंग, विदेशी भक्तों पर लगी रोक

मथुरा के इस्कॉन मंदिर में कोरोना वायरस का असर दिखने लगा है। यहां आने वाले विदेशी भक्तों की एंट्री पर रोक लगा दी गई है। ये रोक दो महीने के लिए लगाई गई है, जब तक कि कोरोना वायरस के चलते हालात सामान्य नहीं हो जाते।

Published by suman Published: March 5, 2020 | 2:02 pm

मथुरा: मथुरा के इस्कॉन मंदिर में कोरोना वायरस का असर दिखने लगा है। यहां आने वाले विदेशी भक्तों की एंट्री पर रोक लगा दी गई है। ये रोक दो महीने के लिए लगाई गई है, जब तक कि कोरोना वायरस के चलते हालात सामान्य नहीं हो जाते। कोरोना वायरस के प्रसार को देखते हुए 7 मार्च को होने वाले विधवाओं के सामूहिक होली कार्यक्रम को भी रद्द कर दिया गया है।

यह पढ़ें…राहत भरी खबर: स्वास्थ्य मंत्री ने कहा- देश कोरोना से लड़ने के लिए पूरी तरह से तैयार, घबराए नहीं

दरअसल, आगरा में कोरोना वायरस के 6 मरीज मिलने के बाद हड़कम्प मच गया है। वहीं, नोएडा में कोरोना वायरस को लेकर हड़कंप मचा हुआ है।  यहां अब तक दो स्कूल बंद कर दिए गए हैं। पहले एक स्कूल बंद करने की खबर आई थी। पता चला है कि सेक्टर 168 स्थित एक स्कूल को कोरोना वायरस के डर से बंद कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार, स्कूल को सेनेटाइज करने के लिए 9 मार्च तक बंद किया गया है। उधर, मामले में डीएम बीएन सिंह के अनुसार हम स्थिति पर नजर रखे हुए हैं, घबराने की जरूरत नहीं है।

वहीं, अब कोरोना वायरस की जांच के लिए हवाईअड्डों पर ‘प्री-इमीग्रेशन’ क्षेत्र में अतिरिक्त काउंटर, चिकित्सक, चिकित्सा उपकरण तथा संशोधित फॉर्म होंगे। केंद्र की इस घोषणा के बाद कि भारत आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की चिकित्सा जांच की जाएगी।

 

यह पढ़ें…कोरोना पॉजिटिव पाए गए 14 इटालियन टूरिस्ट, अब मेदांता में किया गया शिफ्ट

बता दें कि चीन में कोरोना वायरस को लेकर कुछ चौंकाने वाले मामले भी सामने आए हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक कुछ लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से रिकवर होने के बाद भी जिंदा नहीं बच पाए।  हॉस्पिटल ने उन्हें ठीक मानकर डिस्चार्ज कर दिया, लेकिन डिस्चार्ज होने के कुछ दिनों बाद ही उनकी मौत हो गई।