अपराध के आंकड़ों ने खोली यूपी सरकार की पोल- कांग्रेस

कांग्रेसमें राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के हवाले से कहा है कि उत्तर प्रदेश में दलितों और महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार से योगी सरकार का महिला और दलित विरोधी चेहरा उजागर हो गया है।

congress

अपराध के आंकड़ों ने खोली यूपी सरकार की पोल- कांग्रेस (social media)

लखनऊ: कांग्रेसमें राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के हवाले से कहा है कि उत्तर प्रदेश में दलितों और महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार से योगी सरकार का महिला और दलित विरोधी चेहरा उजागर हो गया है। कांग्रेस नेता अंशु अवस्थी ने कहां की योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री पद पर बने रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है।

ये भी पढ़ें:हाथरस कांड पर बोले अखिलेश यादव: भाजपा सरकार पापी भी, अपराधी भी

कांग्रेस नेता ने एक बयान जारी कर कहा है

कांग्रेस नेता ने एक बयान जारी कर कहा है कि एनसीआरबी की 2019 रिपोर्ट आ गयी है जिसने भाजपा की उत्तर प्रदेश सरकार को अपराध में अव्वल बना दिया है, एक तरफ सरकार उत्तर प्रदेश में सुशासन और दावे करती है लेकिन NCRB रिपोर्ट बीजेपी सरकार की हकीकत बयां कर रही है। महिलाओं और दलितों पर बीजेपी सरकार में अपराध पूरे देश में सर्वाधिक है।

cm-yogi
cm-yogi (social media)

जहां महिलाओं पर अपराधों में पूरे देश मे 7.3 की बढ़ोत्तरी के साथ 405861 केस दर्ज हुए

उन्होंने आंकड़ों की चर्चा करते हुए कहा कि जहां महिलाओं पर अपराधों में पूरे देश मे 7.3 की बढ़ोत्तरी के साथ 405861 केस दर्ज हुए। जिसमें बीजेपी सरकार की अथक मेहनत के दुष्परिणाम स्वरूप सबसे ज्यादा केस 14.7 प्रतिशत संख्या में 59853 उत्तर प्रदेश से हैं इन अपराधों में चाहे बच्चियों के पास्को केस हों या बलात्कार या दहेज हत्या के मामले या एसिड अटैक के मामले सभी मे UP में सर्वाधिक मामले हैं।

हाथरस की बिटिया ने अपने प्राण दे दिए

एक तरफ हाथरस में गैंगरेप जैसे जघन्य अपराधों को सरकार फेक न्यूज बताने व आरोपियों को बचाने में जुटी रही दूसरी तरफ हाथरस की बिटिया ने अपने प्राण दे दिए। उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार कानून ब्यवस्था को संभाल पाने में पूरी तरह असफल है और सिर्फ घटनाओं/अपराधों को छिपाने दबाने में पूरी ताकत लगा रही है।

NCRB के अपराध के आंकड़े बता रहे हैं कि दलितों पर भी पूरे देश में अत्याचार बढ़ा है

उन्होंने कहा कि NCRB के अपराध के आंकड़े बता रहे हैं कि दलितों पर भी पूरे देश में अत्याचार बढ़ा है, लेकिन यूपी टॉप पर है। 2018 में 42793 केस दलितों के ऊपर अत्यचार के थे तो 2019 में 7.3 प्रतिशत बढ़कर अपराधों की संख्या 45935 हो गयी जिसमें पूरे देश के दलित अपराधों में अकेले उत्तर प्रदेश में ही एक चौथाई से ज्यादा 25.8 % केस हैं जिनकी संख्या 11829 है।

ये भी पढ़ें:वाह सुहाना खानः इसे कहते हैं नेचुरल ब्यूटी, रंगभेद पर टिप्पणी से चर्चा में

कांग्रेस नेता ने कहा कि यह आंकड़े प्रमाणित करते हैं कि उत्तर में बीजेपी सरकार ने जँगलराज फैला रखा है एक तरफ सरकार कानून-ब्यवस्था पर अपने पीठ थपथपा रही लेकिन हकीकत बिल्कुल अलग है। एनकाउंटर और बुलडोजर वाली योगी सरकार अपराधियों पर नियंत्रण करने में नाकाम साबित हुई है ऐसे में मुख्यमंत्री को अब कुर्सी पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है उन्हें इस्तीफा देकर गोरखपुर चले जाना चाहिए।

अखिलेश तिवारी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App