×

देवरियाः देवरानी से चिढ़ी जेठानी, फिर 3 बच्चों संग खा लिया जहर, 2 की मौत

देवरिया के बरहज थाना क्षेत्र के कटइलवा गांव की रहने वाली रंगीता देवी (32) के देवर अंबुज की चंद दिनों बाद शादी तय है। उसके पति आनन्द निषाद और देवर अम्बुज बैंगलुरू में काम करते हैं।

Roshni Khan

Roshni KhanBy Roshni Khan

Published on 4 March 2021 5:42 AM GMT

देवरियाः देवरानी से चिढ़ी जेठानी, फिर 3 बच्चों संग खा लिया जहर, 2 की मौत
X
देवरियाः देवरानी से चिढ़ी जेठानी, फिर 3 बच्चों संग खा लिया जहर, 2 की मौत (PC: social media)
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

गोरखपुर: परिवार में त्याग और सहनसीलता नहीं होने का नतीजा क्या होता है, इसके उदाहरण रोज प्रकाश में आते हैं। ऐसा ही दर्दनाक वाकया गुरुवार को देवरिया में सामने आया है। बरहज क्षेत्र में एक महिला देवरानी के लिए खुद से अधिक जेवर खरीदे जाने से इस कदर नाराज हुई कि उसने तीन बेटों संग जहर खा लिया। तबीयत बिगड़ने पर सभी को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां महिला और एक बेटे की मौत हो गई। जबकि दो अन्य बेटों की स्थिति गम्भीर बनी हुई है।

ये भी पढ़ें:घातक कोरोना पर आदेशः किसी भी दिन और समय लगेगी वैक्सीन, हुआ बड़ा एलान

देवरिया के बरहज थाना क्षेत्र के कटइलवा गांव की रहने वाली रंगीता देवी (32) के देवर अंबुज की चंद दिनों बाद शादी तय है। उसके पति आनन्द निषाद और देवर अम्बुज बैंगलुरू में काम करते हैं। दस दिन पहले परिवार के सदस्यों ने होने वाली बहु के लिये आभूषणों की खरीदारी की। देवर की शादी सदर कोतवाली के रजला गांव में तय है। परिवार के लोगों ने देवरानी के लिए कुछ अधिक जेवर खरीद लिये। महिला का तर्क था कि एक तो देवरानी के लिए अधिक कीमत पर सोना खरीदा जा रहा है, वहीं आभूषणों की संख्या भी अधिक है। जिसे लेकर रंगीता नाराज थी।

देर रात उठी, बच्चों के साथ खा लिया कीटनाशक

बुधवार की रात में परिवार के सदस्यों को भोजन कराने के बाद वह बच्चों के साथ सोने चली गई। देर रात उसने कीटनाशक घोल कर तीनों बच्चों को पिलाने के बाद खुद भी पी लिया। इसके कुछ देर बाद रंगीता उसके बेटे जयराज (10), शिवराज (6) और रामराज (5) की तबीयत खराब हो गई। बच्चे और महिला को उल्टी होने लगी तो परिवार के सदस्यों को जानकारी हुई। परिवार के लोग चारों को इलाज के लिए बरहज स्वास्थ्य केन्द्र ले गए। जहां रंगीता को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। तीनों बच्चों की तबीयत गंभीर देख जिला अस्पताल रेफर कर दिया, जहां इलाज के दौरान उसके मझले बेटे शिवराज की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें:महिला विधायक भागी, पाकिस्तान एसेंबली मे होने लगा ऐसा उपद्रव, देखें वीडियो

परिवार का रो-रोकर बुरा हाल

मां और बेटे की मौत से घर में कोहराम मच गया। ससुर रमाशंकर, सास शनिचरी के साथ परिवार के अन्य सदस्यों का रो -रो कर बुरा हाल है। पुलिस ने मां- बेटे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

रिपोर्ट-पूर्णिमा श्रीवास्तव

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Roshni Khan

Roshni Khan

Next Story