लॉकडाउन में लोगों ने निकाली तलवार, जमकर चले लाठी डंडे, कई घायल

जनपद के थाना जलेसर के ग्राम गणेशपुर में भैंस में डन्डा मारने को लेकर हुए विवाद में चले लाठी-डंडे व तलवार बाजी में दोनों पक्षों के एक दर्जन लोग घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय एटा में भर्ती कराया गया है।

एटा: जनपद के थाना जलेसर के ग्राम गणेशपुर में भैंस में डन्डा मारने को लेकर हुए विवाद में चले लाठी-डंडे व तलवार बाजी में दोनों पक्षों के एक दर्जन लोग घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए जिला चिकित्सालय एटा में भर्ती कराया गया है।

बता दें कि भैंस को डंडा मारने को लेकर हुए मामूली विवाद में पुष्पेन्द्र ने क्वारेंटाईन तोड़कर गांव के ही प्रेमचंद के परिवार पर लाठी-डंडों कुल्हाड़ी आदि से हमला कर दिया। उसके बाद दूसरा प्रेमचंद्र का पक्ष भी तलवार लाठी-डंडे लेकर आ गया और दोनों पक्षों में खूनी संघर्ष प्रारंभ हो गया।

जिसमें दोनों पक्ष के लगभग एक दर्जन लोग एक महिला सहित घायल हुए। जिनमें पांच की हालत गंभीर होने के कारण उन्हें जिलाचिकित्सालय रेफर कर दिया गया है।

घायल हुए लोगों में किशन, मोहन, रामकुमार, अखंड प्रताप, और दूसरे पक्ष के मोहन सिंह, करण सिंह, ध्रुव, गौरीशंकर, योगेंद्र, प्रेमचंद्र और एक महिला भी शामिल है।

लॉकडाउन के बीच ये कुआं बना मुसीबत, जानिए इस खौफनाक कुएं का इतिहास

फ़ोर्स के साथ मौके पर पहुंचे अधिकारी

घटना की जानकारी मिलते ही पूरे क्षेत्र और प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया, मौके पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ एसडीएम जलेसर अरुण कुमार पर पहुंच गए और स्थिति को नियंत्रण में कर घायलों को अस्पताल भेजा।

एसडीएम जलेसर अरुण कुमार ने बताया कि दोनों पक्षों के विरुद्ध लॉक डाउन तोड़ने तथा एक दूसरे पर जानलेवा हमला करने मारपीट करने आदि का मुकदमा दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की जा रही है।

साथ ही वहां तैनात पुलिसकर्मियों कीभी जांच की जा रही है उनके मौजूद रहते उक्त हाॅटस्पाट में घटना कैसे घटी और क्वारेंटाईन व्यक्ति घर से बाहर कैसे निकाला। प्रभारी निरीक्षक जलेसर ने बताया यह घटना की रिपोर्ट दर्ज कर कार्यवाही की जा रही है साथ ही घटना के कारण की भी जांच की जा रही है।

इस मुल्क में पानी की तरफ बहाया जाता है पैसा, लॉकडाउन ने कर दिया बेहाल

रिपोर्ट- सुनील मिश्र