बैंक लोन से परेशान होकर किसान ने उठा लिया खौफनाक कदम

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में कर्ज के बोझ से परेशान एक किसान ने आत्महत्या कर ली। किसान के पास कर्जे को लेकर आए दिन नोटिस आती थी जिससे वह तंग आ चुका था।

 बाराबंकी: उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में कर्ज के बोझ से परेशान एक किसान ने आत्महत्या कर ली। किसान के पास कर्जे को लेकर आए दिन नोटिस आती थी जिससे वह तंग आ चुका था।

मृतक किसान के परिजनों का कहना है कि वह बीते काफी दिनों से परेशान था। उसे लग रहा था कि वह कर्ज वापस नहीं कर पाएगा और उसका खेत घर सब चला जाएगा।

मामला बाराबंकी जिले की फतेहपुर तहसील के एक गांव का है। यहां के गांव पैगुवा के निवासी वीरेंद्र कुमार ने कर्ज से परेशान होकर फांसी लगा ली।

मृतक किसान पर बैंक का करीब सात-आठ लाख रुपये का कर्जा था और वह बैंक के नोटिसों से परेशान था। इस लोन को जमा करने के लिए बीते दिनों उसे फिर नोटिस दिया गया था, जिसके चलते वह काफी तनाव में था और इसी तनाव के बीच उसने यह कदम उठाया है।

आत्महत्या किए जाने की जानकारी मिलते ही पुलिस पहुंची और पंचनामा कार्यवाही कर पोस्टमार्टम कराया। मृतक किसान के तीन बच्चे हैं, जिसमें से बड़ी लड़की शादी करने लायक है।

ये भी पढ़ें…बाराबंकी: चोरी के आरोप में दबंगों ने युवक को दी रूह कंपा देने वाली ये खौफनाक सजा

किसान के भाई ने कही ये बात

वहीं मृतक किसान के भाई श्याम कुमार ने बताया कि वह बैंक के कर्ज से काफी परेशान रहता था। बीते दिनों उसे बैंक का नोटिस मिला था, जिसके चलते उसने आत्म हत्या कर ली।

मृतक किसान के तीन बच्चे हैं, जिसमें से बड़ी लड़की शादी करने लायक है। उसे लग रहा था कि कर्ज के चक्कर में उसका घर और जमीन सब चला जाएगा।

गांव के ग्राम रामहेतु ने बताया कि मृतक के पास लगभग तीन लाख से ऊपर का कर्ज था जो उसके पिता जी ने लिया था। अब बैंक की तरफ से उसे परेशान किया जा रहा था, बैंक के अलावा समूह का भी कर्ज उसके सिर पर था । न चुका पाने की दशा में आज उसने जान दे दी।

सहकारिता बैंक के प्रबन्धक मनोज कुमार निगम ने बताया कि मृतक के ऊपर चार लाख से ऊपर का कर्ज था जो उसके पिता जी के द्वारा लिया गया था। बैंक की तरफ से उसे किसी तरह से परेशान नही किया जा रहा था।

कुछ महीने पहले एक नोटिस उसके परिवार के नाम जरूर दी गयी थी मगर बैंक का कोई भी कर्मचारी या अधिकारी उसके घर नही गया था। बैंक की ओर से उसे किसी भी तरह कोई परेशान नही किया जा रहा था।

ये भी पढ़ें…बाराबंकी: चोर होने के शक में दलित युवक को ज़िन्दा जलाया

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App