×

Fatehpur News: दोहरे हत्याकांड में पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा, इस वजह से दिया गया था वारदात को अंजाम

Fatehpur News: जनपद में एक सप्ताह पूर्व मां-बेटे की हत्या कर गंगा नदी में शव फेंक दिया गया था। जिसके बाद जांच कर पुलिस और एसओजी की टीम ने इस मामले का खुलासा कर दिया है और चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Ramchandra Saini
Published on: 15 Aug 2023 12:51 PM GMT
Fatehpur News: दोहरे हत्याकांड में पुलिस ने किया सनसनीखेज खुलासा, इस वजह से दिया गया था वारदात को अंजाम
X
दोहरे हत्याकांड, मां-बेटे की हत्या के चार आरोपितों को पुलिस ने किया गिरफ्तार: Photo- Newstrack

Fatehpur News: जनपद में एक सप्ताह पूर्व मां-बेटे की हत्या कर गंगा नदी में शव फेंक दिया गया था। जिसके बाद जांच कर पुलिस और एसओजी की टीम ने इस मामले का खुलासा कर दिया है और चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मृतक महिला का शव गंगा नदी से बरामद कर लिया गया है और बेटे के शव की अभी तक तलाश की जा रही है।

संपत्ति की लालच में रची गई साजिश

हत्याकांड का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक उदय शंकर सिंह ने बताया कि खागा कस्बे रेलवे लाइन के पास की रहने वाली मृतका महिला सुमन रानी गुप्ता सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्टाफ नर्स के पद पर तैनात थीं। मृतका के पड़ोसी शैलेन्द्र चौधरी ने वर्ष 2017 में छह लाख रुपए उधार लिया था। जिसमें शैलेन्द्र को 3 लाख 60 हजार रुपए वापस करना था। पैसा वापस न करना पड़े शैलेन्द्र ने कनकपुर निवासी अपने तांत्रिक साले अरुण चौधरी के मदद से सुमन रानी गुप्ता के ऊपर भूत प्रेत की बांधा बताकर उसके यहां आना शुरू किया था। महिला की 21 वर्षीय पुत्री प्रयागराज में रहकर प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करती है, उसको महिला से पैसा लेकर देने जाता था और एकतरफा प्यार कर शादी करने के बाद पूरी संपत्ति कब्जा करना चाहता था। जिसकी कीमत करीब डेढ़ करोड़ रुपए के आस पास की है, उसीपर कब्जा करने की योजना बनाने लगा और महिला व उसके बेटे को रास्ते से हटाने की योजना अपने जीजा शैलेन्द्र चौधरी के साथ मिलकर बनाई।

पूजा करने के बहाने बुलाया सूनसान स्थान पर

एसपी ने बताया कि मां-बेटे को रास्ते से हटाने के लिए देशराज पासवान और सुरेश कुमार पासवान को शैलेन्द्र चौधरी ने 30 हजार देकर शामिल कर लिया। तांत्रिक अरुण चौधरी ने बीती नौ अगस्त की रात करीब 10 बजे महिला और उसके बेटे को पूजा करने के बहाने सुरेश कुमार पासवान के साथ बाइक से नौबस्ता ओवरब्रिज के पास बुलाया। पहले से एक बाइक पर देशराज और शैलेन्द्र चौधरी मौजूद थे, उन्होंने मां-बेटे के ऊपर हथौड़े, डंडा व चाकू से हमलाकर उन्हें मौत के घाट उतार दिया। हत्या करने के बाद दोनों के शव को गंगा नदी में फेंक दिया। महिला का शव 13 अगस्त के दिन गंगा नदी किनारे झाड़ियों में फंसे होने पर बरामद कर लिया और उसके मृतक बेटे प्रखर गुप्ता की तलाश की जा रही है।

ये आरोपित चढ़े पुलिस के हत्थे

घटना के खुलासे के लिए कोतवाली प्रभारी तेज बहादुर सिंह और एसओजी प्रभारी रवींद्र श्रीवास्तव लगाया गया था, जिन्होंने मुख्य अभियुक्त तांत्रिक अरुण चौधरी 28 वर्ष, उसके जीजा शैलेन्द्र चौधरी 41 वर्ष, सुरेंद्र उर्फ सुरेश पासवान 30 वर्ष व देशराज उर्फ देस्सा 50 वर्ष को गिरफ्तार करते हुए घटना में प्रयुक्त तीन बाइक, चार मोबाइल फोन, हथौड़ा और चाकू बरामद किया है। एसपी ने बताया कि पहले इन लोगों ने एक्सीडेंट का रूप देने के लिए ओवरब्रिज से नीचे फेंकने का प्लान बनाया था, उसके बाद हत्या कर गंगा नदी में फेंक दिया। मृतका महिला के पति का देहांत हो चुका है और एक बेटा और एक बेटी ही थी। हत्या करने से पहले इन सभी हत्यारोपितों ने दो जगह पर शराब पी थी।

Ramchandra Saini

Ramchandra Saini

Next Story