इस सरकारी कार्यालय में लगी भयानक आग, जरूरी दस्तावेज जलकर खाक

सर्किल-10 में एसी फटने की वजह से आग लगी थी। जिसके बाद से अब तक उस हिस्से को खोला नहीं जा सका है। यहा भी फाइलों की क्षति हुई थी। लेकिन महत्वपूर्ण फाइलों को बचा लिया गया था। लेकिन इस बार लगी आग काफी भीषण है। ऐसे में फाइलों का जलना स्वाभाविक है।

File Pic

नोएडा। सेक्टर-6 स्थित प्राधिकरण के प्रशासनिक खंड के कार्यालय में एक बार फिर आग लग गई। अबकी बार यह आग प्राधिकरण के इंडस्ट्री सेक्शन में लगी है। आग की वजह से इंडस्ट्री सेक्शन के एकाउंट विभाग को भी नुकासन पहुंचा है। ऐसे में कई महत्वपूर्ण फाइलों के जलने की संभावना भी है।

प्राधिकरण के औद्योगिक सेक्शन में लगी आग

हालांकि डिजिटाइजेशन के चलते विभाग की अधिकांश फाइलों का डिजिटिलीकरण किया जा चुका है। मौके पर पहुंची दमकल विभाग की कई गाड़ियों ने आग पर काबू पाया। बताया गया कि आग शॉट शर्किट की वजह से लगी है। बहराल पूरे प्रकरण की जांच प्राधिकरण अपने स्तर व अग्निशम विभाग की ओर से की जा रही है।

पहले भी लग चुकी है आग

इससे पहले भी सर्किल-10 में एसी फटने की वजह से आग लगी थी। जिसके बाद से अब तक उस हिस्से को खोला नहीं जा सका है। यहा भी फाइलों की क्षति हुई थी। लेकिन महत्वपूर्ण फाइलों को बचा लिया गया था। लेकिन इस बार लगी आग काफी भीषण है। ऐसे में फाइलों का जलना स्वाभाविक है।

ये भी पढ़ेंः विमान सेवाओं में पहले दिन भारी अव्यवस्था, बगैर सूचना के कई फ्लाइट्स कैंसिल

दमकल विभाग ने कड़ी मशकक्त के बाद किया काबू

प्राधिकरण का यह अस्थायी आफिस है। जिसे लकड़ियों के ढाचे से अलग-अलग सेक्शन में बाटा गया था। ऐसे में आग लगते ही यहा विकराल रूप ले लिया। जिसके बाद दमकल विभाग ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। इसके आसपास भवन, संस्थागत, आवास के आफिस भी है। देखा जा रहा है कि इनमे कितनी क्षति पहुंची है।

 

औद्योगिक भूखंड आवंटन योजना पर चल रहा है काम

जिस विभाग में आग लगी है वहां औद्योगिक भूखंड योजना पर काम चल रहा था। जल्द ही उद्यमियों को भूखंड आवंटन किया जाना था इसके लिए साक्षात्कार व ड्रा किया जाना था। इससे पहले ही आग लगने के प्रकरण ने इस योजना को आगे खिसका दिया है।

ये भी पढ़ेंःरोजगार पर बड़ी खबर: दूसरे राज्यों में काम करने के ये नियम, सरकार ने लिया फैसला

प्राधिकरण अपने स्तर पर कराएगा जांच

आग कैसे लगी इसकी पूरी जांच की जाएगी इसमे कितना नुकसान हुआ इसका आकलन भी किया जाएगा। बहराल प्राथमिकता यह है कि आग से बचा कुची फाइलों को सही सलामत निकाला जा सके। बतौर इसके लिए प्राधिकरण एक जांच कमेटी गठित कर जांच करवाएगा।

रिपोर्टर- दीपांकर जैन

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।