एटा के घुंघरू जा रहे विदेशः जार्डन, सऊदी अरब, यूएई,कुवैत और इराक में हुई मांग

देश भर में अपनी बनावट के लिए मशहूर एटा के घुंघरू अब विदेष जाकर इस प्रदेश को पहचान दिलाने का काम करेगें। वहां के बडे बडे मंचों पर एटा के घुंघुरूओं की आवाज छनकेगी।

एटा के घुंघरू

एटा के घुंघरू (file pic )

लखनऊ। देश भर में अपनी बनावट के लिए मशहूर एटा के घुंघरू अब विदेष जाकर इस प्रदेश को पहचान दिलाने का काम करेगें। वहां के बडे बडे मंचों पर एटा के घुंघुरूओं की आवाज छनकेगी। राज्य सरकार एटा के कलाकारों के हुनर और मेहनत को अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर पूरी मजबूती के साथ रखने में लग गयी है। एक जनपद एक उत्पाद (ओडीओपी) योजना में शामिल  एटा के घुंघरू देश ही नहीं दुनिया को भी अपनी छम छम से आकर्षित करेगें।

कई देशों में होंगे घुंघुरू एक्सपोर्ट

अब तक कोलकाता,आगरा,मथुरा,वाराणसी,मुरादाबाद,कानपुर और दिल्ली के साथ दक्षिण भारत में भी एटा के घुंघरू की आपूर्ति की जा रही थी लेकिन अब कई देशों में यहां के घुंघुरूओं को एक्सपोर्ट किया जाएगा। दक्षिण अफ्रीकी देशों के साथ सिंगापुर,मलेशिया,कंबोडिया, जार्डन, यूएई और ईराक जैसे देशों में  कलाकारों के बीच एटा के घुंघरू की मांग ने सरकार की योजना को पंख लगा दिए हैं।

ये भी पढ़ें…सावधान राशन कार्ड धारक: अब इन बातों का रखना होगा ध्यान, रहेंगे टेंशन फ्री

एटा के घुंघरू

इन देशों में भी इनकी आपूर्ति की जाएगी

इसके अलावा ,सिंगापुर,मलेशिया, कंबोडिया और सउदी अरब जार्डन,यूएई सरीखे मध्य पूर्व के देशों में भी इनकी आपूर्ति की जाएगी। देश और दुनिया में मिल रहे बाजार और मांग को देखते हुए राज्य सरकार ने घुंघरू उत्पादन बढ़ाने के प्रयास भी तेज कर दिए हैं। एमएसएमई विभाग के आंकड़ों के मुताबिक पिछले कुछ महीनों में ही एटा के घुंघरू और घंटी व्यापार 15 से 20 फीसदी बढ़ा है। ओडीओपी के तहत नए कलाकारों को प्रशिक्षण देकर इंडस्ट्री का विस्तार किया जा रहा है। ताकि देश और विदेश में बढ़ती मांग को पूरी गुणवत्ता के साथ पूरा किया जा सके। देश और विदेश में  घुंघरुओं की सालाना औसत व्यापार 100 करोड़ को पार कर गया है।

ये भी पढ़ें- छेड़छाड़ बनी मौत: मनचलों की हरकत से हुआ ये कांड, चौथी मंजिल से कूदी नाबालिग

एटा के घुंघरू

ओडीओपी योजना के तहत

मौजूदा दौर में 10000 से ज्यादा लोग घुंघरू और घंटी उद्योग से सीधे तौर पर जुड़े हुए हैं। ओडीओपी योजना के तहत अब तक करीब 1000 नए युवाओं को प्रशिक्षित कर उद्योग से जोड़ा जा चुका है। कलाकारों का कहना है कि कोरोना और लाक डाउन के कारण इंडस्ट्री पर काफी असर पड़ा है।

श्रीधर अग्निहोत्री

ये भी पढ़ें- TRP पर बड़ा खुलासा: आरोपी करेगा नाम उजागर, कई चैनल मालिकों पर मुसीबत

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App