कब तक लुटती रहेगी की बेटियों की अस्मत? इन घटनाओं ने पुलिस पर खड़े किए सवाल

राज्य में अपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही है।  जौनपुर  जनपद में बीते 48 घन्टे के अन्दर घटित अपराधिक घटनाओं ने जिले की पुलिसिंग और कानून व्यवस्था के मुद्दे पर एक बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है कि आखिर कब तक बहन बेटियों की अस्मत लुटती रहेगी

Published by suman Published: August 8, 2020 | 10:17 pm
फाइल

यूपी में बढ़ा अपराध का ग्राफ

जौनपुर : राज्य में अपराधिक घटनाएं बढ़ती जा रही है।  जौनपुर  जनपद में बीते 48 घन्टे के अन्दर घटित अपराधिक घटनाओं ने जिले की पुलिसिंग और कानून व्यवस्था के मुद्दे पर एक बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है कि आखिर कब तक बहन बेटियों की अस्मत लुटती रहेगी, कब तक हत्याओं का सिलसिला चलेगा आदि तमाम सवालात पुलिस विभाग के हुक्मरानों से अब आवाम करने लगी है।

यह पढ़ें…पाकिस्तान को तगड़ा झटका: सऊदी अरब ने की कड़ी कार्रवाई, कांपने लगे इमरान

आदिवासी समाज

हालांकि पुलिस के अधिकारी इस मुद्दे पर चर्चा करने से परहेज करते हैं लेकिन घटनाओं के क्रम में आज थाना मड़ियाहूं क्षेत्र स्थित कुम्भ गांव में एक 13 वर्षिया किशोरी की लाश गांव के मक्के के खेत में पायी गयी है। गत तीन दिन पूर्व आदिवासी समाज का अपराधी उसका अपहरण कर लेता है और हौसला बुलंद अपराधी ने किशोरी के साथ बलात्कार किया राज छिपाने के लिए उसकी हत्या कर दी और लाश को गांव के ही मक्के के खेत में फेंक कर फरार हो गया।

 

फाइल

बलात्कारी अपराधी

सूचना पर पुलिस लाश का पोस्ट मार्टम करते हुए विधिक कार्यवाही की, लेकिन बलात्कारी अपराधी तक पुलिस का हाथ नहीं पहुंच सका है। आदिवासी अपराधी ऐसी वारदात को अंजाम दे तो कानून की स्थिति का आकलन करना कठिन नहीं होगा। 

 

यह पढ़ें…कोरोना काल में भी UP सरकार मालामाल, जुलाई में प्राप्त हुआ 10675 करोड़ का राजस्व

अपराध करने वालों के हौसले बुलंद 

इधर थाना खुटहन क्षेत्र में 6/7 अगस्त की अर्ध रात्रि को असलहा धारी कामान्ध दरिन्दों ने  घर के बरामदे में सो रही दो बहनों को जबरदस्ती उठा ले गये और असलहे की नोक पर दोनों के साथ दुष्कर्म किया। पुलिस मुकदमा लिखाने से परहेज करते हुए जांच करने को कहती फिर रहीं हैं पुलिस की इस कार्यप्रणाली से अपराध करने वालों के हौसले बुलंद हैं। पीड़ित न्याय के लिए भटकने के लिए मजबूर हैं।

इसी थाना क्षेत्र में 7 अगस्त को दिन दहाड़े लगभग 11 बजे के आसपास असलहा धारी बदमाशों ने महाबीर नामक बाग में फेरी कर स्वर्ण व्यवसाय करने वाले राजेश सोनी से लगभग दो लाख रुपये के जेवरात लूट कर फरार हो गये। पुलिस चोरी का मुकदमा लिख कर तफतीश कर रही है। सहज अनुमान लगा सकते है कि लूट की घटना को चोरी बताने वाली पुलिस क्या गुल खिलायेगी।

 

यह पढ़ें…राहुल का मोदी सरकार पर तंज, कहा-जब जब देश भावुक हुआ, फाइलें गायब हुईं

 

फाइल
प्रतीकात्मक

हत्या का मुकदमा दर्ज

कानून और पुलिसिया भय से मुक्त दो दबंगो ने गत  6/7 अगस्त की रात को संदीप यादव  25 वर्ष की हत्या थाना गौराबादशाहपुर क्षेत्र स्थित विथार गांव के पास जौनपुर आजमगढ़ मार्ग पर कर दिया बाद में इसे दुर्घटना बताते हुए संदीप को अस्पताल पहुंचा कर फरार हो गये। घटना की सूचना संदीप के नाना को हुई तो वह थाना गौराबादशाहपुर में हत्या का मुकदमा दर्ज कराये हलांकि पुलिस ने हत्यारों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है ।इस हत्या के पीछे लाखों की सम्पत्ति हड़पने की बात प्रकाश में आयी है।

इस तरह उपरोक्त घटनायें यही संकेत करती है कि जिले में कानून का राज खत्म हो गया है। पुलिस अपनी जिम्मेदारियों का सही निर्वहन करने के बजाय धनोपार्जन में जुटी हुई हैं। ये घटनायें पुलिस की पुलिसिंग को सवालों के कटघरे में खडा करती है। आज सबसे अधिक तो बेटियां असुरक्षित नजर आ रही है।

 

रिपोर्टर:  कपिल देव मौर्य जौनपुर 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App