×

खुशखबरी वाला शनिवार: रात 8:50 पर अमौसी पर उतरेगा विमान, होगी घर वापसी

नागरिक उड्डयन मंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जो नागरिक सउदी अरेबिया में फँसे हैं, उन्हें 9 मई को शारजाह (सउदी अरब) से डायरेक्ट एक एयर इण्डिया की फ्लाइट -0184, रात्रि 8 बजकर 50 मिनट पर लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर लगभग 200 यात्रियों को लेकर पहुंचेगी।

Vidushi Mishra
Published on: 8 May 2020 7:37 AM GMT
खुशखबरी वाला शनिवार: रात 8:50 पर अमौसी पर उतरेगा विमान, होगी घर वापसी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: प्रदेश सरकार के नागरिक उड्डयन मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने अन्य देशों से वायुयान द्वारा भारत आने वाले यात्रियों के बारे में बताया कि कोरोना महामारी को देखते हुए भारतीय नागरिक जो विदेशों मे फंसे हुए हैं उनकी सुरक्षित वापसी के लिए भारत सरकार एवं राज्य सरकार पुरी तरह से प्रतिबद्ध है। एक-एक नागरिक की सुरक्षा सरकार की जिम्मेदारी है।

ये भी पढ़ें...अभी-अभी विमान दुर्घटना: हुआ ज़ोरदार धमाका, पायलट की हालत गंभीर

जो नागरिक सउदी अरेबिया में फँसे

नागरिक उड्डयन मंत्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश के जो नागरिक सउदी अरेबिया में फँसे हैं, उन्हें 9 मई को शारजाह (सउदी अरब) से डायरेक्ट एक एयर इण्डिया की फ्लाइट -0184, रात्रि 8 बजकर 50 मिनट पर लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट पर लगभग 200 यात्रियों को लेकर पहुंचेगी।

नागरिक उड्डयन मंत्री ने अमौसी एयरपोर्ट के सभी अधिकारियों से बात करके उन्हें आने वाले यात्रियों को सभी आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने एवं समस्त यात्रियों की स्क्रीनिंग एवं स्वास्थ्य परीक्षण सुनिश्चित करने को कहा है।

उन्होंने स्वयं जिलाधिकारी लखनऊ के साथ अमौसी एयरपोर्ट लखनऊ में फ्लाइट के आगमन के संदर्भ में की गयी व्यवस्थाओं का एवं तैयारियों का जायजा भी लिया जा चुका है।

ये भी पढ़ें...WhatsApp की नई दुनिया: तुरंत एडमिशन स्कूल में, क्लास और कॉपी-पेन भी

पी०पी० किट, ग्लब्स, मास्क इत्यादि से युक्त

नागरिक उड्डयन मंत्री ने बताया कि शारजाह से आने वाले यात्रियों के फ्लाइट से उतरते ही प्राथमिक मेडिकल स्क्रीनिंग की जायेगी। जिसमें चिकित्सक पी०पी० किट, ग्लब्स, मास्क इत्यादि से युक्त रहेंगे।

प्राथमिक जॉच में जिनमें कोरोना के लक्षण नहीं पाये जायेंगे, उन लोगों में दो प्रकार की व्यवस्था की जाएगी। जो यात्री जनपद लखनऊ के बाहर के होंगे उनको भुगतान के आधार पर बस और टैक्सी द्वारा सम्बन्धित जनपदों में भेजा जायेगा।

जो यात्री जनपद लखनऊ के निवासी होंगे उनको 3 श्रेणियों के होटलों का चिन्हांकन करके भुगतान के आधार पर उक्त होटलों में 14 दिन के लिए क्वारंटाइन कर दिया जायेगा।

ये भी पढ़ें...शराब लेने का अनोखा तरीका, दुकानों के बाहर रखें जूता-हेलमेट

होटल में आइसोलेट कर दिया जायेगा

प्राथमिक जॉच में जो कोरोना लक्षण वाले संदिग्ध लोग होंगे उनका टेस्ट सैंपल एकत्र किया जायेगा और रिपोर्ट प्राप्त होने तक उन यात्रियों को सामान्य रूप से भुगतान के आधार पर होटल में आइसोलेट कर दिया जायेगा।

नागरिक उड्डयन मंत्री ने बताया कि एकत्र किये गये सैंपल में जो व्यक्ति पॉजिटिव पाये जायेंगे उन्हें कोविड अस्पताल में उपचार हेतु भेज दिया जायेगा। एकत्र किये गये सैंपल में जो यात्री निगेटिव पाये जाते हैं उनमें जो यात्री जनपद लखनऊ के बाहर के होंगे उनको भुगतान के आधार पर बस और टैक्सी द्वारा सम्बन्धित जनपदों में भेजा जायेगा।

एकत्र किये गये सैंपल में जो यात्री निगेटिव पाये जाते हैं उनमें जो यात्री जनपद लखनऊ के निवासी होंगे उनको व्यवस्था के अनुसार कोरंटाइन किया जायेगा। कोरंटाइन में रखे गये समस्त व्यक्तियों के 14 दिवस पूर्ण होने पर उन्हें मेडिकल प्रोटोकाल के अनुसार पुनः जाँच करवाकर छोड़ा जायेगा।

ये भी पढ़ें...दूरसंचार विभाग के रिटायर अफसर की पत्नी की हत्या से सनसनी, घरवालों पर शक

Vidushi Mishra

Vidushi Mishra

Next Story