गोरखपुर: जमीन विवाद में पुलिस के सामने ही दो पक्षों में चले ईंट-पत्थर

सोनभद्र में हुए जमीनी विवाद में 10 लोगों की मौत के बाद लगता है प्रशासन नहीं जागा है। सोनभद्र के बाद अब यूपी गोरखपुर से जमीन विवाद में मारपीट का मामला सामने आया है। ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस और लेखपाल पैसे लेकर जमीन पर कब्जा करा रहे हैं।

गोरखपुर: सोनभद्र में हुए जमीनी विवाद में 10 लोगों की मौत के बाद लगता है प्रशासन नहीं जागा है। सोनभद्र के बाद अब यूपी गोरखपुर से जमीन विवाद में मारपीट का मामला सामने आया है। ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोप लगाया है कि पुलिस और लेखपाल पैसे लेकर जमीन पर कब्जा करा रहे हैं।

यह भी पढ़ें…राज्यसभा उपचुनाव: नीरज शेखर ही होंगे भाजपा प्रत्याशी

दरअसल शनिवार को गोरखपुर के हरपुर थाना क्षेत्र के परमेश्वपुर गांव में विद्यावती और हवलदार सिंह में कई वर्षों से चल रहे जमीनी विवाद को लेकर पुलिस के सामने ही ईंट-पत्थर चलने लगे। ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि विवादित जमीन पर पुलिस और लेखपाल पैसा लेकर कब्जा करा रहे थे। इसके बाद दूसरे पक्ष की ओर से हवलदार सिंह ने दारोगा अनिल तिवारी और बाकी पुलिसकर्मियों का विरोध करने लगे। उसके बाद पुलिस की मौजूदगी में ही दोनों पक्षों में ईंट-पत्थर चलने लगे। पुलिस मूक दर्शक बन देखती रही।

यह भी पढ़ें…इन 3 घोटालों ने शीला दीक्षित के उजले दामन को कर दिया था दागदार

वहीं एक न्यूज चैनल स्थानीय पत्रकार ने दारोगा अनिल तिवारी पर आरोप लगाया है कि कवरेज के दौरान उनके साथ बदसलूकी की गई और उनके कैमरे और गांड़ी को तोड़ दिया गया। बता दें कि कुछ दिनों पहले ही प्रदेश के सोनभद्र में जमीन विवाद में 10 लोगों की हत्या हो गई थी। इसके बाद भी लगता प्रशासन नहीं जागा है।