×

हरेंद्र प्रधान हत्याकांड: कुख्यात सुंदर भाटी समेत 12 को उम्रकैद, ये है पूरा मामला

गौतमबुद्ध नगर पुलिस की बड़ी कामयाबी है। मूलरूप से दनकौर कोतवाली क्षेत्र के दादूपुर गांव के रहने वाले हरेंद्र प्रधान की 2015 में ग्रेटर नोएडा कोतवाली क्षेत्र के नियाना गांव में हत्या कर दी गई थी। हरेंद्र प्रधान अपने साथियों सहित एक शादी समारोह में शामिल होने गया था।

Newstrack
Updated on: 25 March 2021 9:49 AM GMT
हरेंद्र प्रधान हत्याकांड: कुख्यात सुंदर भाटी समेत 12 को उम्रकैद, ये है पूरा मामला
X
हरेंद्र प्रधान हत्याकांड: कुख्यात सुंदर भाटी समेत 12 को उम्रकैद, ये है पूरा मामला
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर के कुख्यात बदमाश सुंदर भाटी के साथ 12 बदमाशों को उम्र क़ैद की सज़ा सुनाई गई है। अभी तक यह कुख्यात बदमाश सभी मामलों में गवाहों और पक्षकारों को डरा धमकाकर बरी हो जाता था, पहली बार किसी मामले में सुंदर भाटी को सजा हुई है। अदालत ने दनकौर क्षेत्र के दादूपुर गांव के पूर्व प्रधान हरेंद्र नागर हत्याकांड में सुंदर भाटी और उसके गुर्गों को उम्र कैद की सजा सुनाई गई है। फिलहाल, सुंदर भाटी जेल में बंद है।

हरेंद्र प्रधान की 2015 में हत्या कर दी गई थी

बता दें कि यह गौतमबुद्ध नगर पुलिस की बड़ी कामयाबी है। मूलरूप से दनकौर कोतवाली क्षेत्र के दादूपुर गांव के रहने वाले हरेंद्र प्रधान की 2015 में ग्रेटर नोएडा कोतवाली क्षेत्र के नियाना गांव में हत्या कर दी गई थी। हरेंद्र प्रधान अपने साथियों सहित एक शादी समारोह में शामिल होने गया था।

वहां से वापस लौटते वक्त सुंदर भाटी गैंग के गुर्गों ने उसकी गोली मारकर हत्या कर दी थी। हरेंद्र नागर दादूपुर गांव का ग्राम प्रधान था। हमले के दौरान हरेंद्र प्रधान के सरकारी गनर की भी गोली लगने से मौत हुई थी। जवाबी गोलीबारी में एक बदमाश भी मारा गया था।

ये भी देखें: अब सिर्फ एक गोली से खत्म होगा कोरोना वायरस, शुरू Pfizer का ह्यूमन ट्रायल

पूर्व प्रधान हरेंद्र नागर हत्याकांड

पहली बार सुंदर भाटी को किसी मामले में सजा हुई है। अभी तक सुंदर भाटी सभी मामलों में गवाहों और पक्षकारों पर दबाव बनाकर बरी होने में कामयाब हो रहा था। दनकौर क्षेत्र के दादूपुर गांव के पूर्व प्रधान हरेंद्र नागर हत्याकांड में सुंदर भाटी और उसके साथियों को उम्र कैद की सजा सुनाई गई है।

बीते कुछ साल पहले सुंदर भाटी के गिरोह का अच्छा खासा दबदबा कायम था। उसके गिरोह में कई बदमाशों ने मिलकर गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, फरीदाबाद, दिल्ली सहित पश्चिमी यूपी में हत्या, लूट और रंगदारी के काम को और फैला दिया। इसी दौरान पुलिस की ओर से रखे गए इनाम की लिस्ट में सुंदर भाटी 50 हजारी से एक लाख रुपये के इनामी हो गया।

यूपी पुलिस ने 2014 में सुंदर भाटी को गिरफ्तार किया था

यूपी पुलिस ने खासी मशक्कत के बाद 2014 में सुंदर भाटी को गिरफ्तार किया था। अपने कुछ साथियों के साथ सुंदर अपने गांव घंघोला में परिवार वालों से मिलने आया था, लेकिन गांव से निकलते ही पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया, लेकिन उसका एक साथी 50 हजार रुपए का इनामी सिंगराज भाटी पुलिस को चकमा देते हुए फरार हो गया था। तभी से सुंदर भाटी जेल में बंद है।

ये भी देखें: हैंड सैनिटाइजर में मिले खतरनाक केमिकल्स, अध्ययन में हुआ चौंकाने वाला खुलासा

कहा जाता है कि सुंदर भाटी जेल में रहते हुए अपने गिरोह को चला रहा है। पहली बार सुंदर भाटी को किसी मामले में सजा हुई है। अभी तक सुंदर भाटी सभी मामलों में गवाहों और पक्षकारों पर दबाव बनाकर बरी होने में कामयाब हो रहा था, लेकिन अब उसे एक मर्डर केस में उम्र कैद की सजा मिली है।

दोस्तों देश दुनिया की और को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Newstrack

Newstrack

Next Story