×

अब बिना कोरोना लक्षण के भी मिलेगी होटल्स- रिसॉर्ट में रहने की सुविधा, जानिए कैसे

होटल व रिसॉर्ट में सरकारी चिकित्सीय व्यवस्था के लिए केवल दो हजार रुपये एक मुश्त टोकन मनी के रूप में देंगे।  बिना लक्षण वाले मरीजों को होटल व रिसॉर्ट में आइसोलेशन में रखने की व्यवस्था गाजियाबाद और लखनऊ में शुरू होने के बाद अब पूरे प्रदेश के लिए लागू कर दी गई है।

Newstrack
Updated on: 19 July 2020 4:36 PM GMT
अब बिना कोरोना लक्षण के भी मिलेगी होटल्स- रिसॉर्ट में रहने की सुविधा, जानिए कैसे
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ: होटल व रिसॉर्ट में सरकारी चिकित्सीय व्यवस्था के लिए केवल दो हजार रुपये एक मुश्त टोकन मनी के रूप में देंगे। बिना लक्षण वाले मरीजों को होटल व रिसॉर्ट में आइसोलेशन में रखने की व्यवस्था गाजियाबाद और लखनऊ में शुरू होने के बाद अब पूरे प्रदेश के लिए लागू कर दी गई है।

जिन मरीजों को निशुल्क इलाज कराना है तो सरकार उनका अपने कोविड अस्पतालों में भर्ती करेगी। इस सिलसिले में शासनादेश जारी कर दिया गया है।

यह जानकारी चिकित्सा व स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने रविवार को अपर मुख्य सचिव गृह व सूचना अवनीश अवस्थी के साथ एक संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस में दी।

कोरोना वार्ड में सैलाबः मरीजों में मचा हड़कंप, यहां का है मामला

डीएम तय करेंगे रेट का निर्धारण

उन्होंने बताया की एल-1 प्लस की इस सुविधा के लिए प्रदेश के जिलों के डीएम होटल में आइसोलेशन पर रहने वाले मरीजों के लिए दरों का निर्धारण करेंगे। लेकिन डबल बेड वाले कमरे का प्रतिदिन का चार्ज दो हजार से अधिक नहीं होगा। एक व्यक्ति के लिए भोजन समेत केवल एक हजार होगा।

चूंकि बिना लक्षण वाले मरीजों को केवल 10 दिन ही भर्ती रहना पड़ता है। ऐसे में होटल में सरकारी चिकित्सीय व्यवस्था के लिए केवल दो हजार रुपये एक मुश्त टोकन मनी के रूप में देंगे।

ये भी पढ़ें अभी हो जाएं सावधान, कोरोना काल में जानलेवा हो सकती है ये बीमारी

24 घंटे में 38 लोगों ने गंवाई जान, 2250 नए केस

यूपी में कोरोना वायरस बड़ी ही तेजी के साथ पांव पसार रहा है। बीते 24 घंटे में 2250 कोरोना के नए मरीज मिले हैं। इनमें से 38 मरीजों की मौत हो गई है। अगर हम जिलेवार कोरोना मरीजों के आंकड़े पर गौर करें तो पाएंगे की बीते 24 घंटे में लखनऊ में कोरोना के 392, कानपुर में 168, नोएडा में 125 वाराणसी में 73.प्रयागराज में 100 नये केस मिले हैं।

वहीँ गोरखपुर में 89,हरदोई में 68, झांसी में 104, शाहजहांपुर में 58 केस मिले हैं। जबकि कानपुर में 8 और बरेली में 4 लोगों की मौत हुई है। अगर हम इलाज के उपरांत स्वस्थ हुए मरीजों की बता करें अब तक प्रदेश में 29845 लोग इलाज के बाद पूरी तरह से ठीक होने के बाद अस्पतालों से डिस्चार्ज हुए हैं।

जबकि 1146 लोगों की कोरोना से मौत हुई है। यूपी में इस वक्त 18256 कोरोना के एक्टिव मामले है। जबकि 24 घंटे में कोरोना से 38 लोगों की जान जा चुकी है। अगर हम केवल राजधानी लखनऊ कि बात करें तो यहां पर कुल संक्रमितों की संख्या 2509 हो गई है।

ये भी पढ़ें आ गई सुपर वुमेन: देगी दुनिया का पहला वैक्सीन, तोड़ेगी कोरोना का कहर

Newstrack

Newstrack

Next Story