झांसी: रेलवे ने नाईट ड्यूटी भत्ता किया बंद, विरोध में स्टेशन मास्टरों का प्रदर्शन

आल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन द्वारा पूरे देश मे सभी मंडलो पर एक साथ धरना प्रदर्शन किया। झाँसी में भी मंडल कार्यकारणी के आह्वान पर झाँसी आइस्मा की 10 शाखाओं द्वारा मंडल रेल प्रवन्धक कार्यालय के सामने शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन किया।

jhansi

झांसी: रेलवे ने नाईट ड्यूटी भत्ता किया बंद, विरोध में स्टेशन मास्टरों का प्रदर्शन

झाँसी: आल इंडिया स्टेशन मास्टर्स एसोसिएशन द्वारा पूरे देश मे सभी मंडलो पर एक साथ धरना प्रदर्शन किया । झाँसी में भी मंडल कार्यकारणी के आह्वान पर झाँसी आइस्मा की 10 शाखाओं द्वारा मंडल रेल प्रवन्धक कार्यालय के सामने शांतिपूर्ण धरना प्रदर्शन किया, इसमे कोविड -19 प्रोटोकाल का पूर्णतया पालन करते हुए उपस्थित लोगों से मास्क लगाने एवम सेनेटाइजर का उपयोग कर सोशल डिस्टेंस मेन्टेन किया गया प्रदर्शन में शामिल लोगों को मास्क भी बांटे गए।

समस्त संगठनों द्वारा समर्थन दिया गया

यह धरना प्रदर्शन रेलवे बोर्ड के अमानवीय आदेश RBE/83/2020dt29-09-2020 जिसके अंतर्गत बेसिक पे 43600 के ऊपर वाले सभी कर्मचारियों को नाईट ड्यूटी भत्ता बंद किया गया है के विरोध स्वरूप एवं स्टेशन मास्टर्स की अन्य मांग के लिए आयोजित किया गया धरने 100 से ही अधिक स्टेशन मास्टर्स द्वारा भाग लिया गया जो कि दूरदराज के स्टेशनों से अपने व्यक्तिगत वाहनों से आये। आइस्मा के इस ऐतिहासिक धरना प्रदर्शन को समस्त संगठनों द्वारा समर्थन दिया गया।

ये भी पढ़ें: मुज़फ्फरनगर: लव जिहाद पर बोले सुरेश खन्ना, जल्द पूरे देश में लागू करेंगे कानून

इसमें एनसीआरईएस से मंडल अध्यक्ष राम कुमार सिंह, मंडल सचिब भानु प्रताप सिंह चंदेल, एनसीआरएमयू से मंडल अध्यक्ष एच एस चौहान ,यूएमआरकेएस से मंडल सचिब चंद्रकांत चतुर्वेदी ,आल इंडिया ट्रैन कंट्रोलर एसोसिएशन से मंडल अध्यक्ष राजीव मित्तल ,आल इंडिया लोको रनिंग एसोसिएशन से मंडल अध्यक्ष मयंक पटवर्धन , सभी से अपने साथियों सहित धरना स्थल पर आकर समर्थन दिया एवं सभा को संबोधित करते हुए कर्मचारी एकता पर बल दिया साथ स्टेशन मास्टर्स संवर्ग की सभी समस्याओं ,मांगो को पूर्ण कराने में भी सहयोग का आश्वाशन किया।

आइस्मा के केंद्रीय उपाध्यक्ष ए एन तिवारी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि जस्टिस मियां भाई ट्रिब्यूनल ने 1969 में रेल कर्मचारियों को नाईट ड्यूटी भत्ता देने के आदेश दिए थे। यह कोई प्रोतसाहन भत्ता नही है, जिसे बोनस की तरह बेतन की सीलिंग से बांधा जा सके यह तो एक क्षतिपूर्ति भत्ता है जो कर्मचारियों को उनकी रात्रि ड्यूटी के दौरान हुई शारीरिक क्षति के एवज में प्रदान किया जाता है।

जोनल अध्यक्ष एस एस परिहार ने कही ये बात

आइस्मा उत्तर मध्य रेल के जोनल अध्यक्ष एस एस परिहार ने कहा कि सातवें पे कॉमिशन द्वारा नाईट ड्यूटी भत्ता रेलवे बोर्ड के आदेश RBE / 36/20दिनाँक 08-03-2018 के अनुसार दिनाँक 1-07-17 से लागू किया गया इस नए वर्तमान आदेश के द्वारा 43600 की सीलिंग करके रेलवे बोर्ड द्वारा स्वयं के आदेश का उल्लंघन और जस्टिस मियांभाई ट्रिब्यूनल के आदेश की अवमानना भी है। वहीं, मंडल अध्यक्ष राज वीर खुराना जी जो कि एक प्रख्यात कवि भी है ने अपने चिर परिचित अन्दाज में कविता के माध्यम से उपस्थित साथिओं में जोश भर दिया और सभी को एकजुट रहने का संदेश दिया।

ये भी पढ़ें:  लखनऊ यूनिवर्सिटी में राजनाथः शताब्दी वर्ष ऐतिहासिक घटना, अद्भुत संयोग

मंडल सचिव अजय दुबे ने कहा कि स्टेशन मास्टर्स रात भर जाग कर नाईट ड्यूटी करता है चाहे उसकी उम्र 30 वर्ष हो या 55 वर्ष के ऊपर ,नाईट ड्यूटी का मतलब जब सारा संसार चैन की नींद सो रहा होता है। तब हम अपने शरीर अपनी आत्मा अपने मस्तिष्क को एक प्रतिवद्धता से जागरूक रखते हुए सजगता के साथ संरक्षा से अपनी ड्यूटी निभाते है। नाईट ड्यूटी करने से न केवल स्वयं वल्कि परिवार का भी जीवन डिस्टर्ब होता है। साथ ही इसके दुष्परिणाम स्वरूप गंभीर बीमारियां जनित होती है और जीवन चक्र प्रभावित होकर आयु भी कम होती है।

शारीरिक क्षतिपूर्ति हेतु प्रदान किया जाता नाईट ड्यूटी भत्ता

नाईट ड्यूटी भत्ता इन्ही सब शारीरिक क्षतिपूर्ति हेतु प्रदान किया जाता है। इसे रोकना, बंद करना घोर अमानवीय कृत्य है अगर अभी भी हमारी मांगो को पूरा नही किया गया तो केंद्रीय कार्यकारणी के आहवाहन पर और भी अधिक बढ़ा आंदोलन किया जाएगा, इस शांतिपूर्ण आंदोलन में किसी प्रकार से रेल संचालन को बाधा नही पहुँचाई गई है । धरना प्रदर्शन के उपरांत मंडल रेल प्रवन्धक महोदय सहित अपर मंडल रेल प्रवन्धक, वरिस्ठ मंडल परिचालन प्रवन्धक, वरिस्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी महोदय को भी आइस्मा की मांगों से संबंधित ज्ञापन दिया गया।

100 से अधिक स्टेशन मास्टर्स सम्मिलत हुए

आइस्मा के इस धरना प्रदर्शन में झांसी मुख्यालय शाखा के सचिव सी एल यादव ,शाखा अध्यक्ष श्याम श्रीवास्तव , जे पी शर्मा ,विजय सक्सेना , राजेन्द्र अनुरागी , एस के शर्मा , नीरज सेन, दीपक वर्मा लक्ष्मण रिछारिया , अनिल अग्निहोत्री, राम कुमार द्विवेदी, ग्वालियर से एस के सिंह , अजय तिवारी ,पी एस धाकड़ ,एस के मोदी ,निशीथ माथुर , पुष्पेंद्र यादव , आर सी डांगी, उरई एवम भीमसेन से वी के पांडेय ,वी के गुप्ता ,वी के निगम ,शाहरुख खान,ओ पी वर्मा ,नितिन कुमार ,एस के साहू,

ललितपुर बबीना शाखा से जगभान के नेतृत्व में आयुष श्रीवास्तब , संजीव राय, नीतीश ,रोहित ,अरविंद द्विवेदी, डी के गुप्ता , राकेश पाल, विकाश, बाँदा शाखा से मंडल सहा सचिव राजेश विश्वकर्मा के नेतृत्व में विनोद मिश्र , मुकेश द्विवेदी , मनोज शिवहरे , फिरोज खान , छतरपुर शाखा से श्री नंद किशोर, अशोक ,सहित अन्य शाखाओं से 100 से अधिक स्टेशन मास्टर्स सम्मिलत हुए। अंत में पूर्व मंडल सचिब राम कुमार द्विवेदी ,जे पी शर्मा ,लक्ष्मण रिछारिया द्वारा सभी का आभार व्यक्त किया गया।

रिपोर्ट: बीके कुशवाहा 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App