×

कांग्रेस की मीटिंग में बोले नगर अध्यक्ष, जनता की आवाज को दबाना चाहती है सरकार

मुख्यमंत्री के झाँसी आगमन पर अवैध खनन के साक्ष्य उपलब्ध करवाने के लिये समय मांगा था। समय तो नही मिला पर गिरफ्तारी जरूर मिल गई।

Aradhya Tripathi

By Aradhya Tripathi

Published on 30 Jun 2020 6:24 PM GMT

कांग्रेस की मीटिंग में बोले नगर अध्यक्ष, जनता की आवाज को दबाना चाहती है सरकार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

झांसी: बुंदेलखंड निमोर्चा के नेता भानुसहाय ने मुख्यमंत्री के शहर आगमन पर अवैध खनन के साक्ष्य उपलब्ध कराने के लिए उनसे समय की मांग की थी। लेकिन उन्हे समय मिलने की बजाय गिरफ्तारी मिल गई। उन्हें उनके घर से गिरफ्तार कर लिया गया। वहीँ दूसरी ओर शहर में कांग्रेस कमेटी ने प्रदेश सरकार के तानाशाही रवैया के विरोध में वीडियो कॉलिंग के जरिये मीटिंग की।

कांग्रेस ने वीडियो कॉलिंग के जरिये की मीटिंग

वहीं शहर कांग्रेस कमेटी के तत्वाधान में वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभा की गई। बैठक में प्रदेश सरकार के तानाशाही रवैया की जमकर आलोचना की। शहर अध्यक्ष अरविंद वशिष्ठ ने कहा कि सरकार जनता की आवाज को दबाना चाहती है। यदि कोई उसकी गलत नीतियों के विरोध में मजबूती से खड़ा होना चाहता है तो वह दमनकारी तरीके से उसे जेल भिजवाने का काम कर रही है। और झूठे मुकदमे दर्ज करवा कर लोकतंत्र की हत्या करने का काम कर रही है।

ये भी पढ़ें- बारिश और आकाशीय बिजली का कहर, 11 की मौत, कई इलाके हुए पानी-पानी

इसका उदाहरण कॉन्ग्रेस के यशस्वी प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू हैं। जिन्हें सरकार ने बेवजह गिरफ्तार कर जेल भेजा था और आज फिर अल्पसंख्यक विभाग के चेयरमैन शहनवाज आलम के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज करके उन्हें जेल भेजा गया और उनकी रिहाई की मांग कर रहे कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर लाठीचार्ज कर मानवता को शर्मसार किया जिसकी कांग्रेस कड़ी निंदा की।

दमनकारी तरीके से जेल जाने से नहीं डरेंगे कांग्रेसी

कांग्रेस पार्टी ने देश की आजादी की लड़ाई लड़ी है और बड़े नेता जैसे पंडित जवाहरलाल नेहरू भी कभी जेल जाने से नहीं डरे तो कांग्रेस के कार्यकर्ता दमनकारी तरीके से जेल जाने से नहीं डरेगें- ना डरे हैं ना डरेंगे। युवा नेता विजित कपूर ने कहा कि कांग्रेस ने आजादी की लड़ाई अहिंसात्मक तरीके से लड़ी और देश को आजाद कराया वर्तमान में भ्रष्टाचार से डूबी हुई।

ये भी पढ़ें- BEAUTY TIPS: सुबह होते ही करें ये काम, चेहरा दिखेगा खिलाखिला और बेदाग

इस अवसर पर डॉ विजय भारद्वाज, राजेंद्र शर्मा एडवोकेट, बृजेंद्र राय, अनु श्रीवास्तव, अनवर अली, मनीष रायकवार, अमित चक्रवर्ती, राकेश अमरया आदि उपस्थित रहे। कॉन्फ्रेंस का संचालन गांधीवादी नेता राजेंद्र रेजा ने किया। आभार जितेंद्र भदौरिया ने व्यक्त किया।

अवैध खनन के साक्ष्य के लिए मांगा समय, मिली गिरफ्तारी

मुख्यमंत्री के झाँसी आगमन पर अवैध खनन के साक्ष्य उपलब्ध करवाने के लिये समय मांगा था। समय तो नही मिला पर गिरफ्तारी जरूर मिल गई। यह बात बुंदेलखंड निमोर्चा के नेता भानुसहाय ने कही हैं। उन्होंने बताया कि वह घर पर थे, तभी रात 10 बजे कोतवाली पुलिस उसे अपने साथ ले गई, पर तबियत की जानकारी होने पर घर से गिरफ्तार कर लिया गया।

ये भी पढ़ें- सुशांत के घर पहुंचे शेखर सुमन ने किया बड़ा खुलासा- बॉलीवुड में हावी है गैंगिज्म

भानुसहाय का कहना है कि क्या मुख्यमंत्री को अवैध खनन के साक्ष्य उपलब्ध करवाने के लिए अनुमति मांगना अपराध है जो उन्हें गिरफ्तार किया गया है। घोषित इमरजेंसी 70 के दशक में देश में लगी थी। अघोषित इमेरजेंसी अब चल रही है। लखनऊ में भेंट करने के लिए बुन्देलखंड निर्माण मोर्चा द्वारा अनुमति मांगी जाएगी। अवैध खनन के साक्ष्य तो उपलब्ध करवा के ही दम लिया जाएगा। मुख्यमंत्री के झाँसी से जाने के बाद नजरबंदी समाप्त कर दी गई।

रिपोर्ट- बी.के. कुशवाहा

Aradhya Tripathi

Aradhya Tripathi

Next Story