×

इंटरसिटी एक्सप्रेस में महिलाएं: अकेली कर रही यात्रा, तैयार की गयी सूची, जानें क्यों..

मेरी सहेली अभियान के तहत प्रभारी निरीक्षक ए के यादव के मार्गदर्शन व महिला उपनिरीक्षक राजकुमारी गुर्जर की अगुवाई में कार्य कर रही रानी लक्ष्मीबाई वाहिनी द्वारा झाँसी- लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस में मेरी सहेली अभियान चलाया गया।

Suman  Mishra | Astrologer

Suman  Mishra | AstrologerBy Suman Mishra | Astrologer

Published on 21 Oct 2020 3:07 PM GMT

इंटरसिटी एक्सप्रेस में महिलाएं: अकेली कर रही यात्रा, तैयार की गयी सूची, जानें क्यों..
X
महिला उपनिरीक्षक राजकुमारी गुर्जर की अगुवाई में कार्य कर रही रानी लक्ष्मीबाई वाहिनी द्वारा झाँसी- लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस में मेरी सहेली अभियान चलाया गया।
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

झाँसी अब ट्रेनों में मेरी सहेली अभियान चलाया गया। इस अभियान के तहत इंटरसिटी एक्सप्रेस में अकेली यात्रा कर रही महिलाओं की सूची बनाई गई। साथ ही उन्हें महिला सुरक्षा संबंधित सुझाव भी मांगे गए। इस अभियान से ट्रेन में सफर कर रही महिलाओं ने आरपीएफ की प्रशंसा की है।

रेल सुरक्षा बल के वरिष्ठ मंडल सुरक्षा आयुक्त जेतिन बी राज के निर्देशन में मेरी सहेली अभियान के तहत प्रभारी निरीक्षक ए के यादव के मार्गदर्शन व महिला उपनिरीक्षक राजकुमारी गुर्जर की अगुवाई में कार्य कर रही रानी लक्ष्मीबाई वाहिनी द्वारा झाँसी- लखनऊ इंटरसिटी एक्सप्रेस में मेरी सहेली अभियान चलाया गया।

यह पढ़ें...पुलिसकर्मियों को सलाम: IG-SSP ने शहादत को किया याद, परिजनों का हुआ सम्मान

यह अभियान झाँसी से कानपुर तक चलाया गया। वाहिनी ने अनुरक्षण के दौरान अकेली यात्रा कर रही महिलाओं की सूची बनाई। साथ ही उनसे जरुरी जानकारियां प्राप्त कर महिला यात्रियों के गंतव्य तक पहुंचने पर उनसे खैरियत प्राप्त की। यही नहीं, महिला सुरक्षा संबंधित बेहतर करने के लिए सुझाव भी मांगे हैं। इस बीच कई महिलाओं ने सुझाव भी दिए। साथ ही इस अभियान के काफी प्रशंसा की है।

jhansi

रानी लक्ष्मीबाई वाहिनी ने बुजुर्ग दंपत्ति की मदद

यात्रा के दौरान पैंसठ वर्षीस यात्री सतीश चंद्र गुप्ता पीएनआर-2412041866 मोबाइल 7275650094 ने घबराई हालात में बताया कि उनकी पत्नी कान्ति गुप्ता उम्र-62 वर्ष गाड़ी में चढ़ते समय उरई रेलवे स्टेशन पर रह गईं हैं जिनके पास मोबाइल भी नहीं है। इस आधार पर उपनिरीक्षक राजकुमारी गुर्जर ने त्वरित कार्यवाही करते हुए उप निरीक्षक रेल सुरक्षा बल उरई देशराज से संपर्क कर मामले की जानकारी दी। बताया गया कि इंटरसिटी एक्सप्रेस में सतीश चंद्र गुप्ता सफर कर रहे हैं।

यह पढ़ें...राज्यसभा चुनाव: एक सीट पर भिडेंगे सत्ता व विपक्ष, चुनाव प्रबंधन से होगा फैसला

महिला को ढूंढने के प्रयास

इनकी पत्नी उरई रेलवे स्टेशन पर रह गई हैं। इस आधार पर उपनिरीक्षक उरई ने स्टेशन परिसर पर उद्घोषणा करवाते हुए उक्त महिला को ढूंढने के प्रयास किया, परन्तु महिला नहीं मिली। बाद में उपनिरीक्षक बताए पते पर गए, जहां दंपति के मकान पर ताला लगा पाया। कुछ समयोपरांत बुजुर्ग महिला अपने मकान पर पहुंची, जहाँ महिला से उसके पति की मोबाइल पर बात करवाते हुए खैरियत दी। उक्त कार्य के लिए बुजुर्ग दम्पति ने रेल सुरक्षा बल की प्रशंसा की है।

बी के कुशवाहा रिपोर्टर

Suman  Mishra | Astrologer

Suman Mishra | Astrologer

Next Story