Top

मोबाइल ऐप की हुई लॉन्चिग, घर बैठकर ऑनलाइन आर्डर कर सकता है ग्राहक

इसमें किसानों से शुद्ध सब्जियों को खरीद कर लोगों के घरों तक शुद्ध ताजी सब्जियां और फल ग्राहकों तक पहुंचाने का कार्य किया जाएगा।

Newstrack

NewstrackBy Newstrack

Published on 5 July 2020 9:59 AM GMT

मोबाइल ऐप की हुई लॉन्चिग, घर बैठकर ऑनलाइन आर्डर कर सकता है ग्राहक
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झाँसी: एक मोबाइल ऐप की लॉन्चिंग शनिवार को नगर निगम के रानी लक्ष्मीबाई सभागार में महापौर रामतीर्थ सिंघल की अध्यक्षता में की गई। इस कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रुप में एडिशनल कमिश्नर अरुण कुमार गुप्त मौजूद रहे। स्किल्ड इंडिया के उपक्रम डायल स्किल्ड इंडिया सॉल्यूशन द्वारा झाँसी में एक मोबाइल ऐप की लॉन्चिंग की गई।

इसमें A से लेकर Z तक के सभी उत्पाद एवं A से लेकर Z तक की सारी सेवाएं ई-कॉमर्स के माध्यम मौजूद हैं। कोई भी व्यक्ति अपने घर पर बैठकर ऑनलाइन ऑर्डर कर सकता है और 200 से अधिक के आर्डर होने पर किसी भी तरह का होम डिलीवरी शुल्क भी नहीं लिया जा रहा है।

दो हजार से ज़्यादा लोगो को मिलेगा रोजगार

इस कोरोना महामारी में यह मील का पत्थर साबित होगा। क्योंकि सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए हम अपने घरों में रहकर डायल एसआईएस के डिलीवरी ब्वॉय से सामान मंगा सकते हैं। और सेवा प्रदाताओं से सेवाएं प्राप्त कर सकते हैं। जिस दुकान से आर्डर किया जाएगा उस दुकान से भी सामान मंगाने की सुविधा उपलब्ध है। दुकान का बिल ग्राहक को दिया जाएगा। और डिलीवरी बॉय के माध्यम से जितने का बिल दुकानदार ने दिया है उतना ही भुगतान ग्राहकों को करना है। विदेशी ई-कॉमर्स से अच्छा सामान झाँसी के व्यापारियों से लेकर ग्राहकों तक पहुंचाने का काम किया जा रहा है । इसमें किसानों से शुद्ध सब्जियों को खरीद कर लोगों के घरों तक शुद्ध ताजी सब्जियां और फल ग्राहकों तक पहुंचाने का कार्य किया जाएगा।

ये भी पढ़ें- कोरोनाकाल में प्राइवेट हॉस्पिटलों को लेकर प्रशासन ने कही ये बात

इसके लिए डिलीवरी एवं अन्य सेवाओं में दो हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार / स्वरोजगार देने का कार्य किया जा रहा है। और अगर जनता की डिमांड धीरे-धीरे बढ़ेगी तो डॉयल आईएसआईएस द्वारा दस हजार से भी ज्यादा लोगों को रोजगार दिया जा सकता है। अभी सिर्फ झांसी में इसकी सेवाएं दी जाएँगी। झांसी में फलतापूर्वक स्थापित होने के बाद बाकी अन्य शहरों में भी इस मोबाइल ऐप को लांच किया जाएगा और पूरे बुंदेलखंड को रोजगार देने की पहल जो स्किल्ड इंडिया सोसाइटी पिछले 7 वर्षों से करती आ रही है उसमें सफल साबित होगी। स्किल्ड इंडिया सोसाइटी पहले लोगों को प्रशिक्षण देकर उनको रोजगार मुहैया कराती थी। जिनको दूसरी कंपनियों में रोजगार के लिए भेजा जाता था। लेकिन अब स्किल्ड इंडिया सोसाइटी ने अपना खुद का स्टार्टअप चालू किया है जिसमें अपने बच्चों को प्रशिक्षण देकर और अपने झाँसी में ही उनको रोजगार देने का कार्य किया जाएगा।

जिस रेट पर उत्पाद मिलते हैं उसी रेट पर मिलेंगे उत्पाद

इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे महापौर रामतीर्थ सिंघल ने कहा कि इस मोबाइल एप की तरह और इस तरह के स्टार्टअप से निश्चित ही झाँसी में लॉकडाउन में जो लोग प्लंबर, इलेक्ट्रीशियन, कारपेंटर, पेंटर, सफाई वाले, सैनिटाइजन वाले लोगों को खोजने के लिए भटक रहे थे , उन्हें कहीं और भटकने की आवश्यकता नहीं होगी। मोबाइल ऐप के माध्यम से डॉयल आईएसआईएस द्वारा ही ट्रेंड प्रोफेशनल, ग्राहकों तक पहुंचाए जाएंगे। डॉयल आईएसआईएस एक माध्यम होगा जो कि उत्पाद और सेवा लेने और देने वाले के बीच के ब्रिज के रूप में महत्वपूर्ण रोल अदा करेगा। स्किल्ड इंडिया सोसाइटी पिछले कई सालों से झाँसी में बहुत सराहनीय कार्य कर रही है और आज जो मोबाइल ऐप की लॉन्चिंग हो रही है यह स्टार्टअप झाँसी की जनता के लिए बहुत उपयोगी होगा।

ये भी पढ़ें- कानपुर खूनी खेल: खादी और खाकी के संरक्षण में पल रहे अपराधी

क्योंकि इसमें 137 प्रकार की जो सेवाएं दी जा रही हैं, उससे हर क्षेत्र के लोगों को स्वरोजगार या रोजगार मिलेगा। साथ ही कोरोनावायरस के इस समय में दुकानों पर भीड़ से भी निजात मिल सकती है। क्योंकि डॉयल आईएसआईएस द्वारा होम डिलीवरी का भी प्रावधान है। जिसमें झाँसी के व्यापारियों की दुकान से सामान को लेकर ग्राहकों के घर तक पूर्णता सैनिटाइज होकर पहुंचाए जाने का कार्य किया जाएगा। एडिशनल मुंसिपल कमिश्नर अरुण कुमार गुप्त ने बताया की स्किल्ड इंडिया सोसाइटी ने लॉकडाउन में मजदूरों को रोजगार स्वरोजगार देने की यह पहल बहुत सराहनीय है। अगर मजदूरों को काम मिलेगा और ज्यादा से ज्यादा जनता इस ऐप का इस्तेमाल करेगी और अपने घर पर ही सारी चीजें डॉयल आईएसआईएस के माध्यम से मंगाएगी।

ये भी पढ़ें- कानपुर केसः पूरा चौबेपुर थाना शक के घेरे में, दोषी मिले तो पुलिसकर्मियों पर भी हत्या का मुकदमा- IG

तो रोज़गार के अवसर और बढ़ेंगे। नीरज ने कहा कि ग्राहकों से, सेवा प्रदाताओं द्वारा ज्यादा चार्ज नहीं लिया जाएगा । जिस रेट पर पहले लोग और उत्पाद मिलते थे उसी रेट पर ग्राहकों को मिल सकेंगे। इंडिया का पहला ऍप लॉन्च किया गया जोकि प्रोडक्ट के साथ साथ एक ही प्लेटफॉर्म पर सेवाएं भी ग्राहक को प्रदान कर सकेंगी अगर लोगों को कम से कम मार्केट में निकलना पड़े तो इस कोरोना प्रकोप में हमारे झाँसी वासी ज्यादा से ज्यादा सुरक्षित रहेंगे और जो टीम काम करेगी। इस कार्यक्रम में विद्या प्रकाश दुबे, प्रतीक खरे , संजय गुप्ता , मंटू यादव, सिमरन श्रीवास्तव , रश्मि , आशना , राजवीर, अभय ,ब्रजेश ,सहाबुद्दीन ,ग्यादीन, पवन ,विवेक, गीतांजलि और स्किल्ड इंडिया की पूरी टीम उपस्थित रही।

रिपोर्ट- बी.के. कुशवाहा

Newstrack

Newstrack

Next Story