Top
TRENDING TAGS :Coronavirusvaccination

पत्नी की हत्या कर साधू बना पति, झांसी पुलिस को 3 साल से तलाश, अब लगा हाथ

पत्नी की हत्या के बाद तीन साल से फरार चल रहे आरोपी पति को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस आरोपी पर 25 हजार का इनाम घोषित हो चुका था। इसके पास से गांजा भी बरामद किया हैं क्योंकि पत्नी की हत्या करने के बाद साधू के भेष में फरारी काट रहा था।

Ashiki Patel

Ashiki PatelBy Ashiki Patel

Published on 1 March 2021 4:13 PM GMT

पत्नी की हत्या कर साधू बना पति, झांसी पुलिस को 3 साल से तलाश, अब लगा हाथ
X
पत्नी की हत्या कर साधू बना पति, झांसी पुलिस को 3 साल से तलाश, अब लगा हाथ
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

झाँसी। पत्नी की हत्या के बाद तीन साल से फरार चल रहे आरोपी पति को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस आरोपी पर 25 हजार का इनाम घोषित हो चुका था। इसके पास से गांजा भी बरामद किया हैं क्योंकि पत्नी की हत्या करने के बाद साधू के भेष में फरारी काट रहा था। इस आरोपी को अदालत में पेश किया। वहां से उसे जेल भेजा गया।

पुलिस अधीक्षक (नगर) विवेक त्रिपाठी ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया है कि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दिनेश कुमार पी के निर्देशों के तहत एसपी सिटी व सीओ सिटी के निकट पर्यवेक्षण में अपराध व अपराधियों के खिलाफ सिटी सर्किल में अभियान चलाया जा रहा है। इसी अभियान के तहत कोतवाली पुलिस आरोपियों की तलाश में लगी थी। सूचना मिली कि वर्ष 2018 में पत्नी की हत्या करने वाला आरोपी पति उन्नाव गेट बाहर स्थित अंजनी माता मंदिर के पास कुछ लोगों से मिलने आ रहा है।

ये भी पढ़ें: पंचायत चुनावः मोर्चे पर तैयार झांसी पहुंची, इनके लिए जारी होगा रेडकार्ड

इस सूचना पर गई टीम ने घेराबंदी कर उसे पकड़ लिया। थाना लाकर उससे गहराई से पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उसने पत्नी सीमा की हत्या करने की बात स्वीकार की। एसपी सिटी के मुताबिक मध्य प्रदेश के शिवपुरी के थाना करेरा के ग्राम जुझारी निवासी अशोक अहिरवार को गिरफ्तार कर लिया। इसके पास से 270 ग्राम नाजायज गांजा बरामद किया गया।

शराब के नशे में पत्नी का कर दिया था कत्ल

अभियुक्त अशोक अहिरवार का कहना है कि वह कोतवाली थाना क्षेत्र के उन्नाव गेट बाहर स्थित एक मकान में किराए से पत्नी समेत रहता था। यहां रहकर मजदूरी करके परिवार का भरणपोषण करता था। 31/1 अप्रैल 2018 की रात शराब के नशे में पत्नी सीमा देवी से विवाद हो गया था। विवाद इतना बढ़ गया था कि पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी थी। इसके बाद बालू के ढेर में पत्नी का शव दबाकर भाग गया था। उसका कहना है कि उसके दो बच्चे हैं, जो मां के पास रहते हैँ। इस मामले की रिपोर्ट मृतका के भाई प्रमोद कुमार ने कराई थी। पुलिस ने उसके खिलाफ दफा 302,201 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया था। अभियुक्त का कहना है कि उसके घर का सामान भी कुर्क कर लिया गया था। पत्नी की हत्या के बाद पुलिस ने चार्जशीट अदालत में दाखिल कर चुकी है।

ये भी पढ़ें: प्राइमरी स्कूल पहुंचे सीएम योगी, बच्चों से पूछी ये बात, जानिए क्या मिला जवाब

साधू के भेष में काट रहा था फरारी

अभियुक्त का कहना है कि पत्नी की हत्या करने के बाद वह झाँसी से भाग गया था। कभी उज्जैन तो कभी ग्वालियर आदि स्थानों पर मंदिरों पर जाकर रुक जाता था। वहां पर साधू के भेष में रहता था। कभी-कभार बच्चों की याद भी आती थी मगर पत्नी की हत्या का दुख था। उसका कहना है कि वह गांजा का सेवन करने लगा था।

इस टीम को मिली सफलता

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक देवेश शुक्ल, उन्नाव गेट चौकी प्रभारी चंदन पांडेय, एसआई जयगोविन्द सिंह, हेड कांस्टेबल लाल सिंह, आरक्षी आदिल अहमद, राजेश कुमार, शैलेष कुमार, भगवान सिंह परिहार व राकेश कुमार शामिल रहे हैं।

रिपोर्ट: बीके कुशवाहा

Ashiki Patel

Ashiki Patel

Next Story