×

कोविड-19 एल-वन हास्पिटल में लाखों की चोरी, मच गया हड़कंप

कोरोना संक्रमित मरीजों को भती करने के लिए रायन इंटरनेशनल स्कूल को प्रशासन ने अधिगृहीत किया है। जब से स्कूल का अधिगृण हुआ तब पूरे परिसर में पुलिस प्रशासन की नजर रहती है। वहां पर अंदर जाना किसी के लिए संभव नहीं ऐसे में स्कूल कें अंदर लगी एलईडी टीवी व एक साउंड मिक्सर का चोरी होने कई सवाल खड़े कर रहे हैं।

Newstrack
Updated on: 24 Oct 2020 6:24 PM GMT
कोविड-19 एल-वन हास्पिटल में लाखों की चोरी, मच गया हड़कंप
X
चौबीसों घंटे प्रशासन की कड़ी सुरक्षा के बीच चोरों ने कोविड़-19 एल वन हास्पिटल में लाखों का माल उड़ा दिया।
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

रायबरेली: चौबीसों घंटे प्रशासन की कड़ी सुरक्षा के बीच चोरों ने कोविड़-19 एल वन हास्पिटल में लाखों का माल उड़ा दिया। प्रधानाचार्य की तहरीर पर मिल एरिया पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है। वहीं प्रधानाचार्य ने आशंका जताई है कि परिसर के अंदर अन्य सामान भी चोरी हो सकता है। सबसे सुरक्षित स्थान पर चोरी की घटना ने प्रशासन की सुरक्षा पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है।

कोरोना संक्रमित मरीजों को भती करने के लिए रायन इंटरनेशनल स्कूल को प्रशासन ने अधिगृहीत किया है। जब से स्कूल का अधिगृण हुआ तब पूरे परिसर में पुलिस प्रशासन की नजर रहती है। वहां पर अंदर जाना किसी के लिए संभव नहीं ऐसे में स्कूल कें अंदर लगी एलईडी टीवी व एक साउंड मिक्सर का चोरी होने कई सवाल खड़े कर रहे हैं। यही नहीं चोरी की घटना को प्रशासन ने काफी छिपाया लेकिन नौकरी के जाने के डर से प्रधानाध्यापक ने अंत में मिल एरिया थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

रिपोर्ट दर्ज होने के बाद भी मामले को दबाया गया लेकिन सच छुपाने में प्रशासन असफल रहा। प्रधानाचार्य विनीस नायर ने दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा है कि चौदह अक्टूबर को कालेज के सुरक्षा कर्मी ने बताया कि विद्यालय परिसर के स्वागत कक्ष में लगा एलईडी टीवी चालीस इंच व एक सांउड मिक्सर जिसकी कीमत एक लाख रुपए है वह चोरी हो गया है। प्रधानाचार्य ने यह भी कहा कि उक्त के अतिरिक्त अन्य क्या सामान चोरी गया है यह बता पाना इस समय संभव नहीं क्योंकि अंदर जाने से कर्मचारी घबरा रहे हैं।

ये भी पढ़ें...चुनाव में चरण वंदना: कांग्रेसी तोमर के चरणों में भाजपाई तोमर, कांग्रेस ने कसा तंज

सूत्रों की मानें तो इस घटना के बाद प्रशासन ने कालेज प्रशासन से कहा कि वह इसे मैनेज कर देगा लेकिन फंसती नौकरी ने कालेज प्रशासन को रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए मजबूर कर लिया। इस चोरी के बाद कई सवाल पैदा हो गए है कि कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच जहां कोरोना संक्रमित मरीज रहते हैं वहां पर किस चोर ने हाथ साफ किया। जबकि मरीजों के परिजन तक अंदर नहीं जा सकते हैं। मिल एरिया पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। मिल एरिया थानाध्यक्ष अरुण कुमार सिंह ने बताया कि मोबाइल सर्विलांस के जरिए आरोपियों तक पुलिस पहुंच चुकी है। जल्द ही मामले का खुलासा किया जाएगा। वहीं रायबरेली के मुख्य विकास अधिकारी अभिषेक गोयल की निगरानी में चल रहा था कोरेंटिन सेंटर।

ये भी पढ़ें...बिहार में मतदान से पहले तड़तड़ाईं गोलियां, प्रत्याशी की हत्या, मारा गया एक हमलावर

ये भी पढ़ें...दाढ़ी वाले दारोगा: निलंबन के बाद उठाया ये कदम, एसपी ने तुरंत किया बहाल

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

रिपोर्ट: नरेंद्र सिंह

Newstrack

Newstrack

Next Story