यहां बाढ़ की चपेट में आ गया कोरोना वार्ड, सीएम के क्षेत्र का है मामला

अभी तक क्वारंटीन सेंटरों की बदहाली की तस्वीरें आ रही थीं, अब कोरोना वार्ड की दुश्वारियां सामने आने लगी हैं। मुख्यमंत्री के शहर गोरखपुर के सरकारी अस्पतालों में कोरोना वार्ड की तस्वीर बेहद चिंताजनक है।

गोरखपुर: अभी तक क्वारंटीन सेंटरों की बदहाली की तस्वीरें आ रही थीं, अब कोरोना वार्ड की दुश्वारियां सामने आने लगी हैं। मुख्यमंत्री के शहर गोरखपुर के सरकारी अस्पतालों में कोरोना वार्ड की तस्वीर बेहद चिंताजनक है। मरीज शिकायत कर रहे हैं। वीडियो और तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद भी हालात नहीं सुधर रहे हैं। मरीजों का दर्द है कि कोरोना वायरस से लड़े या अस्पताल प्रशासन की लापरवाही से पैदा हुए हालात से।

ये भी पढ़ें:सैनिक स्कूल विभिन्न क्षेत्रों में नए-नए प्रतिमान स्थापित कर रहा है: सीएम योगी

गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कालेज के कोरोना वार्ड में बारिश और नाले का पानी

गोरखपुर बीआरडी मेडिकल कालेज के कोरोना वार्ड में बारिश और नाले का पानी

Posted by Newstrack on Wednesday, July 15, 2020

पूर्वोत्तर रेलवे के ललित नारायण मिश्र अस्पताल में जहां गंदगी से मरीज परेशान हैं, तो वहीं बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज में कोरोना वार्डों में नालियों का पानी घुस गया है। बुधवार को तड़के हुई झमाझम बारिश के बाद बीआरडी मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड 4 में नालियों का पानी घुस गया है। मरीजों ने इसकी सूचना कॉलेज प्रशासन को दी लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। कोरोना संक्रमण के कारण भर्ती मरीजों का कहना है कि वार्ड में डॉक्टरों का राउंड नहीं होता है। सिर्फ नर्स और वार्ड व्याय के जिम्मे ही पूरी व्यवस्था है। वार्ड के स्वास्थ्य कर्मी इस लिए मरीजों के बुलाने पर नहीं आते हैं, क्योकि उनके पास पीपीई किट ही नहीं है। इलाज तो ठीक से हो नहीं रहा, ऊपर से अन्य समस्याओं से मुश्किलें बढ़ गई हैं। खैर, सुनवाई नहीं होता देख मरीजों ने बुधवार को वीडियो बनाया और वायरल कर दिया।

अब ये वीडियो गोरखपुर कमिश्नर से लेकर जिलाधिकारी तक पहुंच चुका है। मरीजों का कहना है कि बारिश में छत से पानी टपकता है तो टॉयलेट ओवरफ्लो होने लगता है। गंदगी से चलते टॉयलेट का प्रयोग करना भी मुश्किल है। इसी तरह गोरखपुर के ललित नारायण रेलवे अस्पताल के कोरोना वार्ड की गंदगी की तस्वीरें मरीजों ने वायरल की हैं। मरीजों का आरोप है कि सुधार को लेकर अनुरोध करने पर अस्पताल प्रशासन व्यवस्था सुधारने के बजाए मरीजों को गम्भीर बताते हुए बीआरडी मेडिकल कॉलेज रेफर करने की संस्तुति कर रहा है। इसी तरह एयरफोर्स स्टेशन के पास टीबी अस्पताल में बने कोरोना वार्ड में तैनात चिकित्सक और मेडिकल स्टॉफ मरीजों के इलाज को लेकर बेपरवाह है। चिकित्सकों ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को पीपीई किट नहीं होने की बात कहते हुए इलाज करने में असमर्थता जताई है।

गोरखपुर के जिलाधिकारी के.विजयेन्द्र पांडियन का कहना है कि बीआरडी मेडिकल कालेज की बताई जा रही वीडियो की हकीकत जांची जा रही है। यदि किसी प्रकार की दिक्कत है उसे ठीक किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:तबाही का नया मंजर: चीन के बाद अमेरिका हुआ शिकार, पहले ही हो चुकी लाखों मौते

सभासद की खुद की कोरोना वार्ड की सफाई

महराजगंज में कोरोना संक्रमित सभासद अमितेष गुप्ता फिलहाल अस्पताल में भर्ती है। वार्ड की गंदगी को देख सभासद ने खुद सफाई की जिम्मेदारी ली और पूरे वार्ड को पानी से धुला। हालांकि इस दौरान सभासद ने मास्क पहनने की जरूरत नहीं समझी।

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।