कोरोना को ऐसे हराया जा सकता है, केंद्र के वेबिनार में सामने आया

कोविड-19 की चर्चा करते हुए डॉ पाण्डेय ने कहा कि आयुर्वेद मे ऐसी कई जड़ी बूटियां हैं जिनका इस्तेमाल कर करोना ही नहीं बल्कि अन्य बीमारियों से बचा जा सकता है।

Webinar On Corona

Webinar On Corona

लखनऊ: आज कोविड-19 और आयुष विषय पर एक वेबिनार का आयेाजन किया गया। बेविनार में वरिष्ट आयुष चिकित्सकों के अलावा बड़ी संख्या में लोगो ने हिस्सा लिया। चिकित्सकों ने आयुष के कोविड प्रबंधन पर प्रकाश डाला। आयुर्वेद चिकित्सक डॉ एस.के. पाण्डेय ने कहा कि आयुर्वेद जीवन को समग्र रूप मे लेता है। उन्होने कहा कि वातपित्त और कफ मे असन्तुलन ही रोग का कारण बनता है।

आयुर्वेद में कई ऐसी जड़ी बूटियां जो कोरोना से बचा सकतीं

करोना वायरस की चर्चा करते हुए डॉ पाण्डेय ने कहा कि आयुर्वेद मे ऐसी कई जड़ी बूटियां हैं जिनका इस्तेमाल कर करोना ही नहीं बल्कि अन्य बीमारियों से बचा जा सकता है। उन्होने कहा कि आहार विहार मे संयम और सकारात्मक सोच से व्यक्ति बीमारियों से बच सकता है। यूनानी चिकित्सक डॉ इस्लाम मुहम्मद तब्बाब ने कहा कि रोग के चार मूल कारण होते हैं। उन्होंने कहा कि प्रकृति के अनुसार जीवन शैली अपनाकर बीमारियों से बचा जा सकता है।

ये भी पढ़ें-   श्रीलंका चुनावः मजबूत हुए राजपक्षे, संविधान में बदलाव का रास्ता साफ

Webinar On Corona
Webinar On Corona

डॉ तब्बाब ने कहा कि यूनानी चिकित्सा पद्धति रोग के मूल कारणों का इलाज करती है। करोना वायरस की चर्चा करते हुए उन्होने कहा कि इससे डरने की आवश्कता नहीं है। प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली जड़ी बूटियों का इस्तेमाल कर करोना ही नहीं सभी बीमारियों से बचा जा सकता है। योग गुरू डॉ ओम नारायण अवस्थी ने कहा कि योग साधना में काफी शक्तिया निहित है और योग साधना द्वारा व्यक्ति निरोग रहने के साथ ही साथ दीर्घजीवी भी होता है।

कई प्राणायाम और योग भी कोरोना को रोकने में सहायक

Webinar On Corona
Webinar On Corona

ये भी पढ़ें-   सहमी सरकार: केरल हादसे से हुआ कोरोना विस्फोट, सीएम-मंत्री तक पहुंचा खतरा

डॉ अवस्थी ने ऐसी कई प्रणायाम और योगा अभ्यासों की चर्चा की जिससे करोना सहित विभिन्न संक्रमण वाली बीमारियों से बचा जा सकता है। इससे पहले अपर महानिदेशक रीजन आर.पी.सरोज ने वेबिनार की सार्थथकता पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आयुष के द्वारा करोना ही नहीं विभिन्न बीमारियों से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि भारत में करोना वायरस के संक्रमण को काबू करने में आयुष की महत्वपूर्ण भूमिका रही है।

Webinar On Corona
Webinar On Corona

ये भी पढ़ें-   अब इससे बनेगा बॉयो ऑयलः पेट्रोलियम कालेज का दावा, काम आएगी किट

उप निदेशक डॉ श्रीकांत श्रीवास्तव ने बेविनार का संचालन किया। उन्होंने कहा कि करोना संक्रमितों में मृत्युदर घटकर 1-96 प्रतिशत पर आ गयी है। अब तक 17 लाख लोग ठीक होकर घरों को जा चुके हैं। रिकवरी रेट 70-77 प्रतिशत है। जो दुनिया के अन्य मुकाबले में काफी बहतर है। केन्द्र सरकार ने कोविड -19 के प्रबंधन में जो मॉडल प्रस्तुत किया है। वह पूरी दुनिया के लिए आश्चर्य का विषय है। कार्यक्रम की संकल्पना श्री सुशील कुमार प्रजापति, पुलकित एवं श्याम ने किया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App