मेरठ के टॉप 10 छात्र-छात्राओं ने जताई ये इच्छा, DM ने किया सम्मानित

इस कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने छात्र-छात्राओं से कहा कि कुछ भी बनो, लेकिन देश की सेवा व तरक्की के लिए ईमानदारी व मेहनत के साथ करो।

मेरठ: उत्तर प्रदेश बोर्ड की परीक्षा में टॉप-10 आए मेरठ के छात्र छात्राओं की इच्छा डॉक्टर या इंजीनियर बनकर देश सेवा करने की कम आईएएस बनकर जनसेवा करने की अधिक है। दरअसल,आज बचत भवन में जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने माध्यमिक शिक्षा परिषद के 10वीं व 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में जनपद में टॉप 10 आए छात्र छात्राओं को सम्मानित कर रहे थे।

इस दौरान उन्होंने जनपद में टॉप-10 आए छात्र छात्राओं से पूछा कि वह आगे चलकर जीवन में क्या बनना चाहते हैं। छात्र छात्राओं में से किसी ने इंजीनियर किसी ने डॉक्टर व मुख्यता छात्र-छात्राओं ने आईएस बनकर जनसेवा करने की बात कही।

देश की सेवा के लिए मेहनत और इमानदारी ज़रूरी- जिलाधिकारी

जिलाधिकारी अनिल ढींगरा ने इस मौके पर कहा कि कठिन परिश्रम व मेहनत से कोई भी मुकाम हासिल किया जा सकता है। उन्होंने दसवीं के 15 व 12वीं के 11 टॉप-10 छात्र छात्राओं को प्रशस्ति पत्र व ट्रॉफी देकर सम्मानित करते हुए कहा कि होनहार छात्र मेरठ के ही नहीं बल्कि देश का भविष्य हैं। उन्होंने कहा कि छात्र-छात्राओं से कहा कि कुछ भी बनो, लेकिन देश की सेवा व तरक्की के लिए ईमानदारी व मेहनत के साथ करो।

ये भी पढ़ें-    कोरोना का कहर: जिले में वायरस से हुई पहली मौत, प्रशासन हुआ सख्त

आईएएस बनने की इच्छा संजोने वाले छात्र छात्राओं ने जिलाधिकारी व आईएएस ट्रेनिंग से पूछा कि आईएएस बनने के लिए तैयारी कैसे करनी चाहिए व कितने घंटे की पढ़ाई करनी चाहिए। इस पर उन्होंने कहा कि मन लगाकर पढ़ना चाहिए। घंटे मायने नहीं रखते हैं एकाग्र चित्त होकर पढ़ाई करना आवश्यक है।

जिलाधिकारी बनने के लिए मन लगाकर पढ़ना ज़रूरी

छात्र-छात्राओं ने पूछा कि क्या साइंस स्ट्रीम से पढ़ाई की जा सकती है या अन्य कोई स्ट्रीम से पढ़ाई करनी होगी। इस पर जिलाधिकारी ने कहा कि आईएएस बनने के लिए विज्ञान या कला संकाय या अन्य कोई संकाय मायने नहीं रखता जिसमें आप की पकड़ है व आपको आत्मविश्वास है कि आप इसमें पढ़कर बन सकते हैं तो वहीं संकाय लेना चाहिए।

ये भी पढ़ें-    बाराबंकी में बाढ़ की दस्तकः दहशत में लोग, गांव छोड़ करने लगे पलायन

इस अवसर पर आईएएस ट्रेनी सौम्या गुरु रानी ,जिला विद्यालय निरीक्षक गिरजेश चौधरी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी गण उपस्थित रहे।

रिपोर्ट- सुशील कुमार

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App